भागलपुर

--Advertisement--

तलाकशुदा मुस्लिम महिलाओं को अब 25 हजार सहायता राशि, पहले मिलते थे 10 हजार

अल्पसंख्यक कल्याण विभाग बिहार सरकार द्वारा 10 हजार सहायता राशि दी जाती थी।

Dainik Bhaskar

Jan 08, 2018, 06:28 AM IST
Divorcee Muslim women now get 25 thousand

मधेपुरा. अल्पसंख्यक मुस्लिम परित्यक्ता और तलाकशुदा महिलाअों को वित्तीय सहायता प्रदान कर आत्मनिर्भर बनाने के लिए संचालित योजना की राशि 10 से बढ़ाकर 25 हजार कर दी गई है। अब ऐसी महिलाएं आर्थिक रूप से सबल होंगी। राज्य सरकार द्वारा ऐसी महिलाओं के लिए वित्तीय वर्ष 2017-18 से बढ़ाकर संबंधित मार्गदर्शिका की स्वीकृति प्रदान कर तत्काल प्रभाव से लागू भी कर दिया है।

अल्पसंख्यक कल्याण विभाग बिहार सरकार द्वारा 10 हजार सहायता राशि दी जाती थी। उक्त प्रावधानित राशि वित्तीय वर्ष 2006-07 से अपरिवर्तित रही है। लेकिन सरकार द्वारा योजना में महंगाई को देखते हुए प्रावधानित राशि में बदलाव कर सहायता राशि बढ़ाई गई है। ताकि योजना के उद्देश्य की पूर्ति हो। लेकिन राशि बढ़ने के बाद विभाग भी काफी सतर्कतापूर्वक परित्यक्ता व तालाकशुदा महिला की जांच कर रही है। ताकि किसी प्रकार के धोखे से गलत लाभ नहीं उठा सके। इसके लिये मार्गदर्शिका के बिन्दुओं में किसी भी प्रकार की कमी व हेराफेरी हुई तो गलत अनुशंसा करने वाले बच नहीं सकेंगे।

कौन होंगी परित्यक्ता


परित्यक्तता के रूप में ऐसी मुस्लिम महिला जिनकी शादी पूर्व में हो चुकी है। लेकिन पति द्वारा दो वर्षों या उससे अधिक अवधि से परित्याग कर दिया गया हो व उनके जीवन यापन की कोई व्यवस्था उनके पति द्वारा नहीं किया जा रहा हो। इसके अलावा पूर्ण मानसिक अपंगता के कारण पति अपने परिवार का भरण-पोषण करने में अक्षम हो। ऐसी महिला को योजना अंतर्गत परित्यक्त महिला समझा जायेगा।

आवेदक को देने होंगे दो गवाह


आवेदन के लिए आवेदक को करीब के रिश्तेदारों से अलग दो गवाह संपूर्ण पते के साथ और अनुशंसा व प्रमाण पत्र निर्गत करने वाले जनप्रतिनिधियों में मुखिया, सरपंच, नगर निगम, नगर परिषद, नगर पंचायत से संबंधित वार्ड के निर्वाचित प्रतिनिधि, प्रखंड प्रमुख, पंचायत समिति सदस्य, विधानमंडल के सदस्य एवं सांसद हो। इसके अलावा कई अन्य महत्वपूर्ण साक्ष्य शामिल है।

कैसी तलाकशुदा महिला

वैसी अल्पसंख्यक मुस्लिम महिला जिसे पति ने तलाक दिया हो और उनके जीवनयापन की कोई व्यवस्था न हो। ऐसी महिला इस योजना अंतर्गत तलाकशुदा समझी जाएंगी।

आनलाइन करना होगा आवेदन


जिला अल्पसंख्यक कल्याण पदाधिकारी रजनीश कुमार राय ने बताया कि तलाकशुदा या परित्यक्ता महिलाओं को स्वरोजगार से जोड़ने को सरकार 10 हजार रुपए देती थी। अब राशि 25 हजार हो गया है। इस योजना का लाभ लेने के लिए आवेदिका को प्रमाणपत्र के साथ ऑनलाइन आवेदन करना होगा।

X
Divorcee Muslim women now get 25 thousand
Click to listen..