Hindi News »Bihar »Bhagalpur» Muslim Women Protesting Against Three Divorce Bills

महिलाएं बोलीं- कुरान और हदीस के मुताबिक ही चाहती हूं जिंदगी, तीन तलाक बिल मंजूर नहीं

लोकसभा में पारित तीन तलाक बिल को वापस लेने की मांग पर जिले के 50 हजार लोगों ने डीएम को ज्ञापन सौंपा।

Bhaskar News | Last Modified - Mar 15, 2018, 03:10 AM IST

  • महिलाएं बोलीं- कुरान और हदीस के मुताबिक ही चाहती हूं जिंदगी, तीन तलाक बिल मंजूर नहीं
    +6और स्लाइड देखें
    भीड़ की यह तस्वीर घंटाघर चौक की है।

    भागलपुर. लोकसभा में पारित तीन तलाक बिल के विरोध में 50 हजार पुरुष व महिलाएं सड़क पर उतर आईं। चंपानगर से शुरू हुआ मौन जुलूस भागलपुर में खत्म हुआ। हाथों में तख्ती-बैनर लिए लोग कलेक्ट्रेट चौक पहुंचे और डीएम को ज्ञापन सौंपा। उनका कहना था कि हम कानून ए शरीअत के पाबंद हैं। हम शरीअते इस्लाम में महफूज हैं।

    हाथों में बैनर और तिरंगा लेकर कलेक्ट्रेट पहुंचीं, डीएम को ज्ञापन सौंप जताया विरोध

    बुधवार सुबह के 10 बजे हैं। मुस्लिम हाईस्कूल मैदान में बड़ी संख्या में महिलाएं जमा हैं। हाथों में तख्तियां थामे महिलाएं विरोध कर रही हैं। उन तख्तियों पर लिखे हैं...इस्लामी शरीअत हमारा गर्व है। हम राष्ट्रपति के भाषण की निंदा करते हैं। तीन तलाक बिल वापस लो, हम कानून-ए-शरीअत के पाबंद हैं...जैसे संदेश विरोध जताते नजर आए। महिलाओं का कहना है कि इस्लामी शरियत में किसी की दखलंदाजी नहीं चाहिए। महिलाएं कुरान व हदीस के मुताबिक ही जिंदगी गुजारना चाहती हैं, सरकार इसे बदलने की कोशिश न करे। मौका था मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड के अह्वान पर खानकाह-ए-शहबाजिया व मदरसा इस्लाहुल मुस्लिमीन, चंपानगर सहित अन्य मसलक की अगुवाई में निकले तीन तलाक बिल के विरोध में महिलाओं के जुलूस का। बीच में महिलाएं और दोनों तरफ पुरुषों का जत्था साथ चल रहा था।

    सुबह 10.30 बजे पहले शाहजंगी मेला मैदान में जमा महिलाओं का जुलूस मुस्लिम हाईस्कूल पहुंचा। ठीक आधे घंटे बाद सुबह 11 बजे शाहजंगी और मुस्लिम हाईस्कूल मैदान में जमा महिलाएं सड़क पर उतर आईं। उनका काफिला अपनी बात केंद्र सरकार तक पहुंचाने के लिए डीएम कार्यालय की ओर रवाना हुआ। पारंपरिक परिधानों में सजीं महिलाएं बकायदा परदे में शांतिपूर्ण तरीके से अपना विरोध जताती चलीं। उनका जुलूस स्टेशन चौक, साइकिल पट्टी, कोतवाली चौक, खलीफाबाग चौक, घंटाघर चौक, कचहरी चौक होते हुए कचहरी चौक पहुंचा। यहां पहले से मौजूद बरहपुरा ईदगाह, खंजरपुर, बरारी क्षेत्र की महिलाओं का जुलूस मौजूद था। सभी फिर से एक होते गए और कारवां बढ़ता रहा।

    तीन तलाक बिल शरीअत के खिलाफ : सैयद हसन

    खानकाह पीर दमड़िया शाहमार्केंट के नाइब सज्जादानशीं सैयद शाह फखरे आलम हसन ने तीन तलाक बिल का विरोध किया। उन्होंने कहा कि देश भर में लाखों की संख्या में मुस्लिम महिलाएं आवाज उठा रही हैं कि हमें शरीअत चाहिए। इससे साफ है कि मुस्लिम महिलाएं शरीअत में दिए गए हुकुक से खुश हैं। पूरे देश में लाखों की संख्या में खुद मुस्लिम महिलाएं तलाक बिल के खिलाफ प्रदर्शन कर रही हैं। सरकार इसे वापस लें, यह बिल शरिअत के खिलाफ है। सरकार को मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड और उलेमाओं से बात करे।

    डीएम से मिलकर रखी अपनी बात

    महिलाओं का मौन जुलूस दोपहर 12 बजे डीएम कार्यालय परिसर पहुंचा। ठीक आधे घंटे बाद ही दोपहर 12.30 बजे महिलाओं का एक शिष्टमंडल डीएम से मिला, जहां अपनी बात रखीं। इसमें पुरुष भी शामिल हुए। शिष्टमंडल में शामिल महिलाओं ने डीएम आदेश तितरमारे को ज्ञापन सौंपा। सभी ने कहा, महिलाएं तीन तलाक बिल का विरोध करती हैं। यह बिल शरीअत व संविधान दोनों के खिलाफ है। महिलाओं के लिए इस्लामी शरीअत ही पहली और आखिरी होती है। हम मुस्लिम महिलाओं को इस्लामी शरीअत पर गर्व है। इस्लामी शरीअत में महिलाओं को सभी हक दिए गए हैं, हम इसमें खुश हैं। लिहाजा सरकार इसमें दखल न दे। डीएम ने कहा, हम आपके हक की आवाज ऊपर तक पहुंचाएंगे। राज्य व केंद्र सरकारों के साथ ही आपकी मांगें राष्ट्रपति तक पहुंचा देंगे।

    जुलूस में प्रधानमंत्री से जसोदाबेन को इंसाफ देने की उठी मांग
    जुलूस में शामिल कई लोगों ने अपने हाथ में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नाम एक संदेश का बैनर लेकर चल रहे थे। बैनर में लिखा था कि मोदी जी तीन तलाक पर बहस बंद करो, जसोदाबेन (नरेंद्र मोदी की पत्नी) को इंसाफ दो। बैनर को लेकर जुलूस में शामिल लोगों ने बताया कि तीन तलाक बिल को प्रधानमंत्री मुस्लिम महिलाओं के खिलाफ बता रहे। वे खुद इसका पालन नहीं कर रहे।

  • महिलाएं बोलीं- कुरान और हदीस के मुताबिक ही चाहती हूं जिंदगी, तीन तलाक बिल मंजूर नहीं
    +6और स्लाइड देखें
    बुधवार को तहफ्फुज-ए-शरीअत कमेटी भागलपुर के नेतृत्व में मुस्लिम महिलाओं ने तीन तलाक बिल के विरोध में बड़ी तादाद में हाथ में तख्तियां लेकर मौन जूलूस निकाला।
  • महिलाएं बोलीं- कुरान और हदीस के मुताबिक ही चाहती हूं जिंदगी, तीन तलाक बिल मंजूर नहीं
    +6और स्लाइड देखें
    इनके साथ पुरुषों ने भी बढ़-चढ़कर भागीदारी की।
  • महिलाएं बोलीं- कुरान और हदीस के मुताबिक ही चाहती हूं जिंदगी, तीन तलाक बिल मंजूर नहीं
    +6और स्लाइड देखें
    चंपानगर से कलेक्ट्रेट तक 8 किलोमीटर लंबे जुलूस में बीच में महिलाएं और उनकी दोनों तरफ पुरुष चल रहे थे।
  • महिलाएं बोलीं- कुरान और हदीस के मुताबिक ही चाहती हूं जिंदगी, तीन तलाक बिल मंजूर नहीं
    +6और स्लाइड देखें
    बुधवार को जिले भर से बड़ी संख्या में कलेक्ट्रेट पहुंचकर मुस्लिम महिलाओं ने तीन तलाक बिल के खिलाफ अपना विरोध दर्ज कराया।
  • महिलाएं बोलीं- कुरान और हदीस के मुताबिक ही चाहती हूं जिंदगी, तीन तलाक बिल मंजूर नहीं
    +6और स्लाइड देखें
  • महिलाएं बोलीं- कुरान और हदीस के मुताबिक ही चाहती हूं जिंदगी, तीन तलाक बिल मंजूर नहीं
    +6और स्लाइड देखें
Topics:
आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
India Result 2018: Check BSEB 10th Result, BSEB 12th Result, RBSE 10th Result, RBSE 12th Result, UK Board 10th Result, UK Board 12th Result, JAC 10th Result, JAC 12th Result, CBSE 10th Result, CBSE 12th Result, Maharashtra Board SSC Result and Maharashtra Board HSC Result Online

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Bhagalpur News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: Muslim Women Protesting Against Three Divorce Bills
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

More From Bhagalpur

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×