--Advertisement--

भागलपुर में ठंड : 5 साल में फिर 4 डिग्री पर पारा, कोहरे के कारण ट्रेनें 34 घंटे तक लेट

मौसम विभाग के अनुसार, आने वाले सात दिनों में प्रदेशभर में मौसम ठंडा रहेगा।

Danik Bhaskar | Jan 07, 2018, 07:33 AM IST

भागलपुर. नए साल के छठे दिन शुक्रवार को शहर का मौसम सबसे ठंडा रहा। मौसम ने पांच साल में पहली बार न्यूनतम तापमान का आंकड़ा दोहराया। ठंड में सामान्य रातों की तुलना में तापमान 8 डिग्री गिरा और मौसम विभाग ने न्यूनतम तापमान 4 डिग्री दर्ज किया। दिन के तापमान में भी गिरावट दर्ज की गई। ठंड में अमूमन दिन में रहने वाले सामान्य अधिकतम तापमान 22.5 डिग्री में भी 8 डिग्री की गिरावट रही।

मौसम विभाग ने अधिकतम तापमान 14.5 डिग्री दर्ज किया। इससे पहले 6 जनवरी 2014 को मौसम विभाग ने न्यूनतम तापमान 4 और अधिकतम 14.5 डिग्री तापमान दर्ज किया था। पश्चिमी विक्षोभ में बने सिस्टम से ठंड बढ़ी तो दिनभर ठंडी हवाओं के थपेड़ों ने शहर को शीतलहर की चपेट में ले लिया। रात भी सर्द रही। ट्रेनें 34 घंटे तक देरी से चलीं, जबकि अस्पतालों की ओपीडी में मरीजों की संख्या आधी हो गई। गुरुवार रात से छाया काेहरा शुक्रवार सुबह 11 बजे तक छाया रहा। सुबह 7 बजे तक विजिबिलटी जीरो रही। हवा की तेज रफ्तार से शहर में हाड़ कंपाने वाली ठंड ने पूरे शहर में शीतलहर बढ़ा दी।

7 दिन राहत की संभावना कम


मौसम विभाग के अनुसार, आने वाले सात दिनों में प्रदेशभर में मौसम ठंडा रहेगा। जिले और आसपास के क्षेत्रों में सुबह कोहरा रहेगा। दोपहर में हल्की धूप निकलेगी, लेकिन सुबह और रात में हाड़ कंपाने वाली सर्दी रहेगी। मौसम वैज्ञानिक वीरेंद्र कुमार ने बताया, एक नया पश्चिमी विक्षोभ उत्तर भारत के जम्मू-कश्मीर की तरफ है। इससे दिल्ली की ओर से 2-3 दिन बाद हल्की हवाएं पहुंच सकती हैं। इससे तापमान में गिरावट रहेगी। सात दिनों में जिले का अधिकतम तापमान 15 से 18 डिग्री और न्यूनतम तापमान 5 से 7 डिग्री सेल्सियस तक रह सकता है।

2003 में 1.2 डिग्री भी रहा था भागलपुर जिले का तापमान


मौसम विभाग ने बताया कि ठंड में पूरे साल के किसी भी दिन (एक या दाे दिन) न्यूनतम तापमान 4 डिग्री तक रहा है। अभी पड़ रही सर्दी 17 में पड़ी ठंड से कम है। 2003 में जिले में मौसम का मिजाज बेहद तल्ख था। तापमान 1.2 डिग्री तक दर्ज किया गया है।

ओपीडी में मरीज कम हुए


मायागंज अस्पताल व सदर अस्पताल में बढ़ती ठंड से मरीजों की संख्या कम हुुई है, लेकिन सर्दी-खांसी, बुखार और गठिया के मरीज बढ़े हैं। मेडिकल कॉलेज की ओपीडी 1800 से गिरकर 900 हो गई। सदर अस्पताल की ओपीडी भी 500 से घटकर 200 रह गई है।

ये मरीज बढ़े


सदर : 200
खांसी-बुखार और गठिया : 150
मेडिकल कॉलेज अस्पताल: 900
खांसी-बुखार और गठिया : 450

ठंड के कारण 34 घंटे तक अधिकांश ट्रेनें लेट


मौसम के बिगड़े मिजाज ने पांच ट्रेनें प्रभावित हुईं। अधिकांश ट्रेनें 10 से 34 घंटे की देरी से चल रही हैं। इससे यात्रियों को खासी परेशानियों का सामना करना पड़ा। ज्यादातर यात्री कड़ाके की ठंड के बीच स्टेशन परिसर और प्लेटाफाॅर्म पर ट्रेनों का इंतजार करते रहे।


मालदा-नई दिल्ली रद्द, आज जाएगी गरीब रथ


मालदा से भागलपुर के रास्ते दिल्ली जाने वाली मालदा-नई दिल्ली एक्सप्रेस शनिवार को रद्द कर दी गई। दोपहर 12.05 बजे भागलपुर से जाने वाली इस ट्रेन के न पहुंचने से इसे रद्द किया गया। शनिवार सुबह आने वाली गरीबरथ एक्सप्रेस भी 15 घंटे की देरी से चल रही है। अब यह ट्रेन रविवार सुबह जाएगी।

ये ट्रेनें चल रहीं रिकॉर्ड देरी से


- अप गरीब रथ : 17 घंटे
- डाउन विक्रमशिला : 10 घंटे
- डाउन ब्रह्मपुत्र मेल : 34 घंटे (5 जनवरी वाली)
- अप ब्रह्मपुत्र मेल : 25 घंटे (5 जनवरी वाली)
- डाउन ब्रह्मपुत्र मेल : 14 घंटे (6 जनवरी वाली शनिवार सुबह आएगी)