छठ व्रतियों ने अस्ताचलगामी सूर्य को दिया अर्घ्य, महामारी से मुक्ति की कामना की

Bhagalpur News - लोक आस्था का महापर्व चैती छठ पर सोमवार को व्रतियों ने अस्ताचलगामी भगवान भास्कर को अर्घ्य दिया। व्रतियों ने छठी...

Mar 31, 2020, 08:30 AM IST

लोक आस्था का महापर्व चैती छठ पर सोमवार को व्रतियों ने अस्ताचलगामी भगवान भास्कर को अर्घ्य दिया। व्रतियों ने छठी मैया से कोरोना वायरस से छुटकारा दिलाने की कामना की। इस दौरान लाॅकडाउन का पालन किया गया। घाटों पर जहां हजारों की भीड़ जुटती थी, इस बार सिर्फ व्रती और उनके एक दो परिजन ही दिखे। मंगलवार को उदयीमान सूर्य को अर्घ्य देने के साथ ही चार दिवसीय पर्व का समापन हो जाएगा। वहीं कुछ व्रतियों ने अपने घर की छतों पर ही अर्घ्य दिया। सुल्तानगंज सीढ़ी घाट पर अर्घ्य देने पहुंचे व्रतियों ने कहा कि देश दुनिया में फैले कोराना महामारी से मुक्त करने की प्रार्थना की। छठवर्ती पैन निवासी सुनीता देवी कहा कि छठी मैया हमलोगों की पुकार सुनेंगी और मुझे पुर्ण विश्वास है कि आई विपदा टल जाएगी। वहीं गीता देवी व राजकुमारी देवी ने बताया कि ये महापर्व अपने परिवार के सुख ,समृद्धि, और वंश को बढ़ाने को लेकर की जाती है। आज हमने पूरे विश्व के कल्याण के लिए आराधना की।

घोघा में कृत्रिम पोखर में दिया अर्घ्य

घोघा में व्रतियों ने अपने घर के सामने कृत्रिम तलाब बनाकर पूजा-अर्चना की और भगवान भास्कर को अर्घ्य दिया। जानीडीह की पूर्व मुखिया मधुबाला भारती, लूसी कुमारी ने कहा कि कोरेना वायरस को देश से मिटाने के लिए हमने कामना की। वहीं मुखिया कंचन देवी, चिन्मयी शरण, निर्मला यादव ने सहयोग किया।

घोघा में कृत्रिम पोखर में अर्घ्य देतीं छठव्रर्ती।

नवगछिया में सिर्फ परिवार के लोग ही पूजा में हुए शामिल

नवगछिया| नवगछिया में इस बार व्रतियों ने घर की छतों पर ही अर्घ्य दिया। इस दौरान परिवार के लोग ही मौजूद थे। व्रती मालती देवी के पुत्र आकाश कुमार ने बताया कि हर वर्ष चैती छठ में पूरा परिवार शामिल होता था, लेकिन इस बार कोरोना महामारी को लेकर महज 3-4 लोग ही शामिल हुए। बाकी लोग वीडियो कॉलिंग से अस्ताचलगामी सूर्य को अर्घ दिलवाया। मालती देवी ने कहा कि कोरोना वायरस से नवगछिया सहित देशवासियों को बचाने के लिए छठी मैया से कामना की।

श्रद्धालुओं ने लॉकडाउन का किया पालन, घाटों पर नहीं जुटी भीड़, कई लोगों ने घर की छत पर की पूजा-अर्चना

सुल्तानगंज सीढ़ी घाट पर सोमवार को अर्घ्य देतींं छठ व्रती।

नवगछिया में अर्घ्य देतीं व्रती।

X

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना