--Advertisement--

शास्त्रीय गायन, वादन और नृत्य से सजी महफिल

Dainik Bhaskar

Nov 11, 2018, 02:35 AM IST

Bhagalpur News - शास्त्रीय संगीत के सुरों से सजी महफिल में कलाकारों ने एक से बढ़कर एक शास्त्रीय राग सुनाकर श्रोताओं को भावविभोर कर...

Bhagalpur - classical singing playing amp dance
शास्त्रीय संगीत के सुरों से सजी महफिल में कलाकारों ने एक से बढ़कर एक शास्त्रीय राग सुनाकर श्रोताओं को भावविभोर कर दिया। मौका था कालीपूजा के अवसर पर कला, संस्कृति व युवा विभाग की ओर से प्रायोजित और जिला प्रशासन द्वारा आयोजित दो दिवसीय सांस्कृतिक समारोह का। इनमें सात विधाओं में प्रतियोगिता आयोजित की गई। शास्त्रीय गायन में नौ में से केवल पांच कलाकारों ने हिस्सा लिया। इनमें विशाल कुमार ने राग दरबारी, गजेंद्र मिश्रा ने राग तोड़ी छोटा ख्याल, चेतन कुमार चौबे ने राग बागेश्री विलंबित ख्याल और विशाल शर्मा ने राग दरबारी गाकर समा बांध दिया। तबला पर क्रमश: आलोक कुमार, अनुमेह मिश्रा और परमानंद ने संगत किया। वाद्य यंत्र वादन में ताल स्वतंत्र तबला वादन अनुमेह मिश्रा, गिटार पर निशांत कुमार ने राग यमन और हारमोनियम कपिलदेव कृपाला ने बजाया। इनमें नौ में से केवल पांच कलाकारों ने ही हिस्सा लिया।

टाउन हॉल में सांस्कृतिक कार्यक्रम के दौरान नृत्य पेश करती अनुभूति झा।

अगले साल से और बेहतर होगा कार्यक्रम

शास्त्रीय नृत्य में अनुभूति झा, बाप्रिया बागची, निर्मल कुमार और शुभम पराशर ने कथक नृत्य पेश कर सबका मन मोह लिया। इसमें तलबा पर आलोक कुमार, बोल मिथिलेश और हारमोनियम पर विशाल कुमार ने संगत किया। इसके बाद राघोपुर की टीम ने नाटक की प्रस्तुति की। इसके पूर्व डीडीसी सुनील कुमार ने समारोह का उद्घाटन किया। उन्होंने कहा कि इस तरह का आयोजन से कलाकारों को अपनी प्रतिभा दिखाने का अवसर मिलता है। आगे इसे और अच्छे ढंग से किया जाएगा।

प्रचार-प्रसार के अभाव में खाली कुर्सियों के बीच हुआ कार्यक्रम

जिला प्रशासन की ओर से प्रचार-प्रसार के अभाव में कलाकारों की भागीदारी उत्साहजनक नहीं हो पाई। कलाकारों व आयोजकों को छोड़कर वहां एक भी दर्शक नजर नहीं आए। टाउन हॉल में लगी कुर्सियां ज्यादातर खाली ही रहीं। कार्यक्रम रविवार को भी होगा। इसमें लोकगीत, नाटक, नृत्य नाटिका, समूृह लोकगीत व लोकगाथा विधा में प्रतियोगिता होगी। लोकगाथा में कृष्ण क्लब की ओर से प्रस्तुति की जाएगी। राघोपुर की टीम ने नाटक इंकलाब का मंचन किया। नाटक में करीब 15 कलाकारों कविता, मदन, अनिरुद्ध, प्रकाश, आशीष, प्रवीण, राजेश कुमार, मनोज कुमार मंडल, विकास कुमार, भरत मंडल, मुनीश चंद्र जायसवाल आदि ने भाग लिया।

X
Bhagalpur - classical singing playing amp dance
Astrology

Recommended

Click to listen..