देहरादून के अंश नेेगी ने नंबर-1 की बादशाहत रखी बरकरार, हरियाणा की उन्नति ने नव्या को दी पटखनी

Bhagalpur News - अंडर-13 में देश के नंबर-1 बैडमिंटन खिलाड़ी देहरादून के अंश नेगी ने अपनी बादशाहत बरकरार रखी। इंडोर बैडमिंटन हॉल में चल...

Nov 11, 2019, 06:50 AM IST
अंडर-13 में देश के नंबर-1 बैडमिंटन खिलाड़ी देहरादून के अंश नेगी ने अपनी बादशाहत बरकरार रखी। इंडोर बैडमिंटन हॉल में चल रहे 33 वां अंडर-13 नेशनल बैडमिंटन चैंपियनशिप में ब्वॉयज सिंगल्स के फाइनल मुकाबले में अंश ने मणिपुर के एमएच हेमाम को 11-21, 21-10 व 21-17 से हराकर खिताब पर कब्जा जमा लिया। वहीं, देश की नंबर-2 खिलाड़ी रोहतक की उन्नति हूडा ने नंबर-1 आंध्रप्रदेश की नव्या कंदेरी को 21-18, 21-15 से मुकाबला जीतकर सनसनी फैला दी। दोनों के बीच यह छठा मुकाबला था। इसके पहले दोनों विभिन्न टूर्नामेंट में पांच बार आमने-सामने हो चुकी थी। जिसमें पांच बार नव्या ने ही जीत हासिल की थी। उधर, ब्वॉयज डबल्स में अंश नेगी और उत्तराखंड के ही सिद्धार्थ रावत की जोड़ी ने आंध्रप्रदेश के भार्गव राम अरिगेला और विश्वतेज गोबुरू को 21-17, 21-17 से हरा दिया। गर्ल्स डबल्स में तमिलनाडु की रक्षिथा श्री एस और रेशिका यू की जोड़ी ने आंध्रप्रदेश की नव्या कंदेरी और तेलंगाना की श्रीयांशी वालीशेट्‌टी की जोड़ी को 21-17, 21-17 से हरा दिया।

सभी विजेताओं को चमचमाती ट्रॉफी, अंगवस्त्र और इनाम की राशि का चेक बैडमिंटन एसोसिएशन ऑफ इंडिया के उपाध्यक्ष ओडी शर्मा, टूर्नामेंट कमेटी के अध्यक्ष व एसोसिएशन के सचिव संजीव शर्मा, बिहार बैडमिंटन एसोसिएशन के सचिव केएन जायसवाल, विधायक अजित शर्मा, इंटरनेशनल रेफरी के. बानी राव, पूर्व भारतीय महिला खिलाड़ी सुश्री एच. नरीमन आदि ने बारी-बारी से दिया। खिलाड़ियों को प्रथम पुरस्कार के तौर पर विजेता ट्रॉफी और मेडल के साथ 60,000 रुपये के चेक दिये गये। द्वितीय पुरस्कार में उपविजेता ट्राफी और मेडल के साथ 30,000 जबकि तृतीय को ट्राफी और मेडल के साथ 12,000-12,000 की प्रोत्साहन राशि दी गयी। इस मौके पर चीफ रेफरी जीए चित्तरंजन शर्मा, पारिजात नाटू, बिहार बैडमिंटन एसोसिएशन के विजय राय, नवीन, सुभेष सिन्हा, भारती, जिला बैडमिंटन संघ के सचिव सत्यजीत सहाय, अध्यक्ष डॉ. तपन कुमार घोष, उपाध्यक्ष एचएफए खान, कोषाध्यक्ष राजेश नंदन आदि मौजूद रहे।

नेशनल सब जूनियर बैडमिंटन चैंपियनपशिप के विजेताओं के साथ विधायक अजीत शर्मा व बैडमिंटन एसोसिएशन के पदाधिकारीगण।

6 साल की उम्र से खेलना शुरू किया, ओलिंपिक लक्ष्य

देहरादून के रहनेवाले अंश नेगी अंडर-13 में देश के नंबर वन खिलाड़ी हैं। रविवार को हुए चैंपियनशिप के फाइनल में उन्होंने अपनी बादशाहत बरकरार रखीं। 6 साल की उम्र से खेल शुरू करने वाले अंश ने इस साल आठ-दस नेशनल अवार्ड जीत लिए हैं। टच उड स्कूल में सातवीं कक्षा के छात्र अंश को पहली सफलता यूपी में मिली। उनकी मां मंजू नेगी एक स्कूल में बैडमिंटन की काेच हैं। पिता अनुपम नेगी बिजनेस मैन। अभी वे प्रकाश पादुकोण कोचिंग में सीख रहे हैं। उनका संदेश है- कैरियर में मेहनत करें, हार न मानें। परिवार में एक बड़ा भाई है।

चैंपियनशिप के विजेता अंश नेगी।

गलियों से खेलते-खेलते बनीं देश की नंबर-1 खिलाड़ी

पहली बार नेशनल जीतने वाली हरियाणा के रोहतक की रहने वाली उन्नति हूडा ने देश की नंबर-1 खिलाड़ी आंध्रप्रदेश की नव्या कंदेरी का ताज छीनकर खुद के नाम कर ली। वह पिछली बार तीसरे स्थान पर रही थीं। पिता डॉ. उपकार हुड्‌डा व मां कविता हूडा एक कॉलेज की प्रिंसिपल हैं। डीजीबी स्कूल की सातवीं कक्षा की छात्रा उन्नति ने बताया कि पहले पापा खेलते थे। उन्हें देखकर मैं भी गली में खेलने लगी। फिर धीरे-धीरे ऊपर तक आयी। वह पीपी सिंधू को आईडियल मानती है। उसने हमउम्र खिलाड़ियों को मैसेज दिया कि मेहनत करें। सफलता निश्चित है।

तमिलनाडु की रक्षिताश्री व रेशिका बनीं डबल्स चैंपियन।

भागलपुर में बनेगा बैडमिंटन का बड़ा कोर्ट, सीएम से करेंगे बात : विधायक

विधायक अजीत शर्मा ने कहा कि वे मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से बातकर भागलपुर में बड़ा बैडमिंटन कोर्ट बनाने की मांग करेंगे। उन्होंने कहा कि सीएम गंभीर व्यक्ति हैं। वे विकास की बातों पर ध्यान देते हैं। उनसे मिलकर इंटरनेशनल गुणवत्ता के कोर्ट तैयार करने के लिए फंड की मांग करूंगा।



गर्ल्स सिंग्लस की विजेता उन्नति हूडा।

X

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना