• Home
  • Bihar
  • Bhagalpur
  • Bhagalpur - पति के लिए निर्जला रहीं महिलाएं शिव-पार्वती से मांगी लंबी आयु
--Advertisement--

पति के लिए निर्जला रहीं महिलाएं शिव-पार्वती से मांगी लंबी आयु

हरितालिका तीज पर महिलाओं ने बुधवार को घरों में महिलाओं ने निर्जला व्रत रखा, फल पकवान आदि से डलिया भरकर शिव-पार्वती...

Danik Bhaskar | Sep 13, 2018, 02:40 AM IST
हरितालिका तीज पर महिलाओं ने बुधवार को घरों में महिलाओं ने निर्जला व्रत रखा, फल पकवान आदि से डलिया भरकर शिव-पार्वती की पूजा की और पति के लंबी आयु की कामना की। इस मौके पर महिलाओं ने सोलह शृंगार किया और शाम में समूह में बैठकर कथा सुनकर संकल्प लिया। इस व्रत को सुहागिन महिलाओं के साथ कुंवारी कन्याओं ने भी रखा। मान्यता है कि हरितालिका तीज का व्रत करने से सुहागिन महिला के पति की उम्र लंबी होती है, जबकि कुंवारी लड़कियां को मनचाहा वर मिलता है। महिलाओं ने शुभ मुहूर्त में शाम 6.38 बजे डलिया भरकर भगवान को चढ़ाया। शहर में कई जगह पर मंदिरों में महिलाओं ने डलिया चढ़ाए। शाम चार बजे से ही पूजा की तैयारी में महिलाएं जुटी रहीं। हरितालिका तीज के मौके पर डिक्सन मोड़ स्थित अद्भुत बजरंगबली मंदिर और कोतवाली चौक स्थित कुपेश्वर नाथ मंदिर में महिलाओं की भीड़ रही। महिलाओं ने सामूहिक रूप से हरितालिका तीज की कथा सुनी। कुपेश्वरनाथ मंदिर में हरितालिका तीज की कथा पंडित विजयानंद शास्त्री ने सुनाई।

सोलह शृंगार कर समूह में मंदिरों में की पूजा, चढ़ाया डलिया

आदमपुर स्थित शिव शक्ति मंदिर में बुधवार को तीज के मौके पर बाबा भोलेनाथ की पूजा अर्चना करतीं महिलाएं।



घरों में रतजगा कर सुहागिनों ने गाए शिव के भजन

तीज के मौके पर महिलाओं कई जगह घरों में महिलाओं ने मिट्‌टी के शिव-पार्वती बनाकर उनकी पूजा की। डलिया भरने के बाद शाम से सुबह चार बजे तक घरों में महिलाएं जगी रहीं। मान्यता के अनुसार तीज वाली रात को सोना वर्जित है। इसके चलते महिलाओं ने रतजगा किया। इस दौरान शिव-पार्वती के भजन गाए गए। कई स्थानों पर समूह में महिलाओं ने भजन कार्यक्रमों का आयोजन रखा। शहर में कई मंदिरों में भी पूजा-पाठ हुए।