--Advertisement--

40 दिन में नवगछिया में बेगूसराय के 4 लोगों ने खपाए 16 लाख के नकली घी

दशहरा, दिवाली और छठ पूजा का आनंद बिगाड़ने के लिए बेगूसराय के चार व्यापारियों ने 40 दिन में 4000 किलो नकली देसी घी बेच 16...

Dainik Bhaskar

Nov 11, 2018, 04:06 AM IST
Navagchhiya - four days of begusarai in navagachia in 40 days 16 lakhs of fake ghee consumed
दशहरा, दिवाली और छठ पूजा का आनंद बिगाड़ने के लिए बेगूसराय के चार व्यापारियों ने 40 दिन में 4000 किलो नकली देसी घी बेच 16 लाख रुपए बटोर लिए। 1 अक्टूबर से रोज चार कारोबारियों ने नवगछिया में शनिवार तक डालडा में एसेंस डालकर असली शुद्ध घी के नाम पर 4000 किलो खपाए। इसका खुलासा शनिवार को तब हुआ, जब असली देसी घी बनाने वाले एक व्यापारी को नकली घी बेचने की कोशिश की। व्यापारी ने नकलचियों को पकड़ा, तो साफ हो गया कि महज 93 रुपए में एक किलो तैयार नकली घी असली घी 400 रुपए किलो में बेची गई।

व्यापारी ने चेतावनी दे नकलची को छोड़ दिया। बेगूसराय के आहोघाट का इंदल पिता गुरुदेव यादव शनिवार को नकली देसी घी का टिन लेकर नवगछिया के विकास यादव को बेचने पहुंचा। विकास खुद घी निकालते हैं। उन्होंने नकली देखा तो बेगूसराय के कारोबारी की पूरी पोल खुल गई।

सख्ती पर टूटा इंदल, नकली घी बनाने का तरीका व नवगछिया में कितना खपाया, यह भी बताया...

1. बेगूसराय से रोज आ रहे चार कारोबारी : घी कारोबारी विकास यादव ने इंदल को पकड़कर बैठा लिया। पुलिस में देने की भी बात कही। इसके बाद इंदल टूटा और पूरी कहानी बता दी। उसने बताया कि नकली घी के कारोबार में वह अकेला नहीं है। उसके साथ रोजाना बेगूसराय से तीन कारोबारी बमबम यादव, अरविंद यादव, हरेराम यादव भी आते हैं।

2. 40 दिन में बेचा 4000 किलो नकली घी: इंदल ने बताया, दशहरा से पहले 1 अक्टूबर से ही चारों नकली घी नवगछिया में घूम-घूमकर बेच रहे थे। एक व्यापारी रोजाना 25 किलो घी बेच रहा था। शनिवार को खुद इंदल ने 5 किलो नकली घी बेच दिया था। विकास को बेचने ही वाला था कि पकड़ा गया।

नकली घी के साथ इंदल।

3. 40 दिन में बटोरे 16 लाख : इंदल ने बताया, बाजार में 450-500 रुपए प्रति किलो मिल रहा है। वह और उनके साथी प्रति किलो 50-100 रुपए प्रति किलो कम 400 रुपए में बेच रहे हैं। 40 दिनों में 4000 किलो नकली घी बेचे और 16 लाख रुपए बटोर लिए।

4. 93 रुपए में तैयार हो रहा नकली घी : इंदल ने बताया कि 80 रुपए प्रति किलो बिकने वाले डालडा में प्रति किलो 10 रुपए प्रति किलो असली घी से निकली डाढ़ी मिलाई जाती है और फिर 3 रुपए प्रति किलो की दर से असली घी का एसेंस मिलाया जाता है। सभी में हल्का पानी मिलाकर गर्म किया जाता है। इसके बाद डालडा असली की घी की तरह न सिर्फ खुशबू देता है, बल्कि असली घी की तरह दिखने भी लगता है।

बाजार में ये है असली देसी घी की कीमत

प्रकार लागत बिक्री

गाय Rs.‌380 Rs.400-450

भैंस Rs.480 Rs.500-550

नकली घी से हो सकती हैं ये घातक बीमारियां




ऐसे पहचानें नकली घी





X
Navagchhiya - four days of begusarai in navagachia in 40 days 16 lakhs of fake ghee consumed
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..