वारदात / अवैध संबंध के शक में सनकी ने पत्नी व छोटे भाई को गोलियों से भूना, भाई की मौत

Dainik Bhaskar

Mar 16, 2019, 10:55 AM IST


मायागंज अस्पताल में भर्ती महिला। मायागंज अस्पताल में भर्ती महिला।
X
मायागंज अस्पताल में भर्ती महिला।मायागंज अस्पताल में भर्ती महिला।
  • comment

  • हथियार लेकर थाने पहुंचा, कहा-कोई मलाल नहीं
  • छोटे भाई निर्मल ने इलाज के दौरान दम तोड़ दिया, पत्नी की हालत गंभीर

भागलपुर. नाथनगर के नूरपुर हरिजन टोला में अवैध संबंध के शक में एक सनकी ने अपनी पत्नी और छोटे भाई पर गोलियां बरसा दीं। घटना गुरुवार-शुक्रवार की मध्य रात की है। सनकी ने खीरीबांध में बनाए घर में रह रही पत्नी को पहले आधार कार्ड बनवाने के बहाने नूरपुर हरिजन टोला स्थित अपने घर बुलाया। फिर आधी रात उस पर चार गोलियां बरसा दीं। दूसरे कमरे में सोया छोटा भाई आया तो उसे भी चार गोलियां मार दीं। 

 

इसके बाद सनकी घनश्याम दास ने मधुसूदनपुर थाने में देसी पिस्टल के साथ सरेंडर कर दिया। उसने पुलिस से कहा, मुझे कोई मलाल नहीं है। उधर, जख्मी देवर-भाभी को मायागंज अस्पताल में भर्ती कराया गया। यहां छोटे भाई निर्मल ने इलाज के दौरान दम तोड़ दिया। पत्नी बिंदू देवी की हालत भी गंभीर बनी हुई है। पुलिस ने मौके से 6 खोखे बरामद किए। 

जख्मी बिंदू देवी (38) ने पुलिस को बताया कि जगदीशपुर के खीरीबांध में उसके मायके वालों ने घर बनाकर दिया है। यहीं वे अपने तीन बच्चाें के साथ रह रही थी। पति भी इस घर पर आते थे।

 

गुरुवार को घनश्याम ने आधार कार्ड बनवाने के लिए बुलाया था। आधार कार्ड न बनने पर पति ने उसे नूरपुर स्थित घर पर ही रोक लिया। रात में उसकी नींद करीब ढाई बजे खुली तो पति बिछावन पर नहीं था। फिर कुछ ही देर बाद घनश्याम आया और उसपर गोली चला दी। एक गोली उसके मुंह के बांयी ओर लगी। वह चौकी से नीचे गिर पड़ी। इसके बाद भी पति ताबड़तोड़ गोलियां चलाता रहा। उसके बायें कंधे पेट के ऊपरी व निचली भाग में चार गोलियां लगीं। 

 

आवाज सुनकर देवर दौड़ा, उसे भी मारीं चार गोलियां
आवाज सुनकर देवर दौड़ा, उसे भी मारी चार गोलियां गोली की आवाज सुनकर घनश्याम का छोटा भाई निर्मल दौड़ा, उसे भी चार गोलियां मारीं। शोर सुनकर ग्रामीण पहुंचे तब तक घनश्याम फरार हो गया। बिंदू ने बताया कि पति शक्की हैं। इससे अक्सर झगड़ा होता है। करीब एक साल से पति से उसका तनाव चल रहा है। बिंदू के भाई सुनील कुमार ने बताया कि करीब तीन साल से बहनोई घनश्याम बेरोजगार है। उनके चार बच्चों की पढ़ाई के साथ घर का भी खर्च भी मायके वाले ही उठाते हैं। बिंदू को दो बेटा और दो बेटी है। 

 

जख्मी महिला के बयान पर उसके पति के खिलाफ केस दर्ज किया गया है। आरोपी पति ने खुद ही पुलिस के पास जाकर सरेंडर कर दिया। हत्या में प्रयुक्त हथियार भी आरोपी के पास बरामद हुआ है। आशीष भारती, एसएसपी

COMMENT
Astrology

Recommended

Click to listen..
विज्ञापन
विज्ञापन