सीएम के मदारगंज आते ही लगे भारत माता के जयकारे

3 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
कहलगांव|राजू राज/ प्रणव प्रकाश/ संजीव

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार 12:45 बजे मदारगंज पहुंचे। सबसे पहले शहीद ठाकुर के चित्र पर पुष्प अर्पित कर श्रद्धांजलि दी। वे 25 मिनट तक शहीद के परिजनों से मुलाकात की। 1:10 में वह पटना रवाना हो गए। विधानसभा अध्यक्ष विजय कुमार चौधरी ने भी शहीद को श्रद्धांजलि दी। सीएम ने शहीद के पिता निरंजन ठाकुर, शहीद की प|ी राजनंदनी, बेटे कृष्णा, भाई मिलन ठाकुर, राजनंदनी की मां सुनीता देवी, रतन की बड़ी बहन सोनी और छोटी बहन नीतू से बातचीत की व परिवार का हाल जाना। उन्होंने शहीद के पिता के डिमांड को पूरा करने का आश्वासन दिया।

मुख्यमंत्री की एक झलक पाने के लिए ग्रामीण बेताब रहे। वे सुबह आठ बजे से ही उनके आने का इंतजार कर रहे थे। शहीद रतन ठाकुर जिंदाबाद, भारत माता की जय, पाकिस्तान मुर्दाबाद के नारे लगाए। निकलते समय कृष्णा की ओर हाथ बढ़ाकर सीएम ने पूछा क्या नाम है आपका-जवाब मिला-कृष्णा। सीएम के साथ विधानसभा अध्यक्ष विजय कुमार चौधरी, डीजीपी गुप्तेश्वर पांडेय, मुख्य सचिव दीपक कुमार, अपर मुख्य सचिव आमिर शुभानी और डीएम प्रणव कुमार भी मौजूद थे।

शहीद के बेटे ने सीएम से कहा-मेरा नाम कृष्णा है, मुख्यमंत्री की झलक पाने के लिए बेताब रहे लोग
शहीद रतन के पुत्र कृष्णा को गोद में लेते नीतीश कुमार।

सीआरपीएफ के डिप्टी कमांडेंट ने भी शहीद के परिजनों से की मुलाकात
सीआरपीएफ कैंट मोकामा के डिप्टी कमांडेंट भरत कुमार ने भी शहीद रतन ठाकुर के परिजनों से मुलाकात कर कुशलक्षेम पूछा। उन्होंने शहीद के पिता से बताया कि विभागीय प्रक्रिया जारी है। जल्द ही आपके परिजनों को कुछ अच्छी सूचना मिल जायेगी।

शहीद रतन के परिजनों को सांत्वना देते मुख्यमंत्री नीतीश कुमार, बिहार विधानसभा अध्यक्ष विजय नारायण चौधरी व अन्य।

सुरक्षा के रहे पुख्ता इंतजाम, चप्पे-चप्पे पर जवान
सीएम के आगमन को लेकर सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किए गए थे। चप्पे-चप्पे पर पुलिस के जवान तैनात किए गए थे। एकचारी हाईस्कूल हेलीपैड से लेकर मदारगंज गांव तक लगभग 4 किलोमीटर की दूरी तक 10 मीटर पर दो-दो पुलिस के जवानों की तैनाती की गई थी। रामपुर खड़हरा के मस्जिद के पास चेक पोस्ट बनाया गया था। सुबह 9 बजे से ही एकचारी-सनोखर मुख्य मार्ग से हेलीपैड जाने वाले रास्ते पुलिस छावनी में तब्दील रहा। डीएम प्रणव कुमार, एसएसपी आशीष ने सुरक्षा का जायजा लिया। नाथनगर विधायक अजय मंडल, प्रमंडलीय आयुक्त वंदना किनी, आईजी विनोद कुमार, डीआईजी विकास वैभव, जदयू जिला अध्यक्ष विभूति गोस्वामी, जदयू नेता अबू कैसर ने सीएम का स्वागत किया।

स्कूल की बदहाली पर अफसरों की नहीं पड़ी नजर
जिस एकचारी हाईस्कूल के मैदान में सीएम का हेलीकॉप्टर उतरा। उस विद्यालय में अफसरों का आना-जाना लगातार लगा रहा। पर किसी की नजर विद्यालय की जर्जर व्यवस्था पर नहीं पड़ी। इस विद्यालय में करीब 900 विद्यार्थी शिक्षा ग्रहण कर रहे हैं। पर इनके पीने के लिए सिर्फ तीन चापानल है, इसमें से दो खराब पड़े हैं। जो ठीक है, उसमें भी ठीक से पानी नहीं आता है। आनन-फानन में उसे ठीक कराया गया कि कहीं कोई इसकी शिकायत सीएम से न कर दे।

सीएम आगमन के बाद एकचारी हाईस्कूल में खराब पड़े चापानल को ठीक करते मजदूर।

खबरें और भी हैं...