पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

भारत और नेपाल सीमा पर खुला इंटीग्रेटेड चेकपोस्ट, 5 घंटे का सफर अब मिनटों में

एक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
वीडियो काॅन्फ्रेंसिंग से अाइसीपी का उद््घाटन करते भारत के पीएम नरेंद्र मोदी व नेपाल के पीएम केपी शर्मा ओली। - Dainik Bhaskar
वीडियो काॅन्फ्रेंसिंग से अाइसीपी का उद््घाटन करते भारत के पीएम नरेंद्र मोदी व नेपाल के पीएम केपी शर्मा ओली।
  • प्रधानमंत्री मोदी ने नेपाल सरकार को हस्तांतरित किया इंटीग्रेटेड चेक प्वाइंट
  • गोरखा एवं नुवाकोट में भारत सरकार ने 15 अरब रुपए से 59 हजार घर बनाए हैं
  • मोदी ने नेपाल के प्रधानमंत्री केपी शर्मा को नेपाली में कहा- नमस्कार कस्तो छ

जोगबनी (अररिया). लंबे इंतजार के बाद भारत-नेपाल सीमा पर बने इंडो-नेपाल आईसीपी (इंटिग्रेटेड चेक प्वाइंट-एकीकृत जांच चौकी) का मंगलवार को भारत के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने वीडियो कांफ्रेंसिंग से शुभारंभ किया। वीडियो कांफ्रेंसिंग से ही नेपाल के प्रधानमंत्री केपी शर्मा ओली को इसे हस्तांतरित किया गया।


पहले जहां जोगबनी के इमली चौक से भारत-नेपाल सीमा तक महज 2.5 किलोमीटर की दूरी पार करने में पांच घंटे लगते थे, वहीं अब एकीकृत जांच चौकी बनने से मालवाहक गाड़ियां कागजी कार्रवाई पूरी करने के बाद मिनटों में बार्डर पार कर लेंगी। साथ ही जोगबनी और बथनाहा को जाम से छुटकारा मिलेगा। पीएम ने उद्घाटन समारोह को संबोधित भी किया। चौकी हस्तांतरण के क्रम में नेपाल के गोरखा व नुवाकोट में निर्माण हुए 59 हजार निजी आवास भी नेपाल सरकार को हस्तांतरित किया, जो भारत सरकार के सहयोग से बनाया गया है। गोरखा एवं नुवाकोट में भारत सरकार ने 15 अरब रुपए से 59 हजार घर बनाए हैं।  

2020 होगा नेपाल के लिए स्वर्णिम दशक
प्रधानमंत्री मोदी ने सम्बोधन में कहा कि नेपाल के विकास में भारत विश्वसनीय साझेदार है। आगे भी साझेदार रहेंगे। भूकम्प के बाद गोरखा व नुवाकोट में भारत के सहयोग में बने घर देखकर पीएम हर्षित हुए। पीएम ने कहा कि 2020 का दशक भारत-नेपाल के सह कार्य का स्वर्णिम दशक होगा।

आईसीपी के अंदर बने हैं पांच बड़े गोदाम
आईसीपी के अंदर पांच बड़े गोदाम, दो बड़े शेड, कार्यालय भवन, भंसार कार्यालय का भवन, कर्मचारी आवास भवन, उपचार केन्द्र भवन, कैंटीन, घर, बैंक तथा वित्तीय संस्था का भवन, सुरक्षाकर्मियों का भवन बनाए हैं।  

भारत सरकार के हस्तांतरण के बाद अब आईसीपी विराटनगर के स्वामित्व में
भारत सरकार के हस्तांतरण के बाद आईसीपी अब नेपाल के स्वामित्व में आ गया है। नेपाल इन्टर मॉडल यातायात विकास समिति के अनुसार 2005 में नेपाल व भारत सरकार के बीच बीरगंज, विराटनगर, भैरहवा व नेपालग॔ज नाका में आधुनिक सुविधा सम्पन्न आईसीपी निर्माण करने का करार हुआ था। इसमें बीरगंज का आईसीपी दो वर्ष पहले ही संचालन में आ चुका है। विराटनगर के बुधनगर में 2017 में निर्माण कार्य आरंभ हुआ था। 

भारत-नेपाल के बीच व्यापार को भी बढ़ावा
बहार झारखंड कस्टम कमिश्नर रंजीत कुमार ने बताया कि यह भारत की अति महत्वाकांक्षी प्रोजेक्ट है, जहां पहले मालवाहक ट्रक को नेपाल प्रवेश करने में कई दिन लग जाते थे, जो अब घंटों में संभव होगा। 2019-20 में 6980 करोड़ का निर्यात एवं 168 करोड़ का आयात हुआ। कुल 131 करोड़ राजस्व की प्राप्ति हुई। अब इसके संचालन से भारत-नेपाल के व्यापार को गति मिलेगी। यह प्रोजेक्ट भारत-नेपाल मैत्री संबंध को और प्रगाढ़ करेगा। एक ही छत के नीचे कस्टम, आव्रजन, एसएसबी, नेपाल शस्त्र सुरक्षा बल व आईबी सहित विभिन्न विभागों के कार्यालय संचालित होंगे। मौके पर विधायक विद्यासागर केशरी का बुके देकर स्वागत किया गया।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- समय चुनौतीपूर्ण है। परंतु फिर भी आप अपनी योग्यता और मेहनत द्वारा हर परिस्थिति का सामना करने में सक्षम रहेंगे। लोग आपके कार्यों की सराहना करेंगे। भविष्य संबंधी योजनाओं को लेकर भी परिवार के साथ...

    और पढ़ें