अभिभावक का दायित्व है कि बच्चों को बचपन से ही संस्कार दें, सुधरेगा भविष्य

Bhagalpur News - जो मनुष्य भगवान श्रीकृष्ण की लीलाओं को सुनता है वह जन्म-जन्मांतर के पापों के बंधन से मुक्त हो जाता है। मनुष्य...

Feb 08, 2020, 07:00 AM IST
Bhagalpur News - it is the responsibility of the guardian that children should be cremated from childhood the future will improve

जो मनुष्य भगवान श्रीकृष्ण की लीलाओं को सुनता है वह जन्म-जन्मांतर के पापों के बंधन से मुक्त हो जाता है। मनुष्य मोह-माया रूपी अहंकार के कारण उलझनों में जकड़ा हुआ है। यही कारण है कि उसे मानसिक शांति नहीं मिलती है। ये बातें पंडित पंकजाचार्य ने नाथनगर के गाेलाहू गांव में चल रहे सात दिवसीय श्रीमद्भागवत कथा के छठे दिन शुक्रवार काे प्रवचन के दाैरान कही। उन्हाेंने कहा कि अभिभावकों का दायित्व है कि अपने बच्चे को बचपन से ही संस्कारवान बनाएं और भगवान की प्रेरक कथा सुनाएं। ऐसा करने से निश्चित ही उनके मन और मस्तिक में बदलाव आएगा। वह संस्कारवान बनेंगे। मनुष्य का जीवन बड़े भाग्य से मिलता है।

बांके बिहारी की देख छटा.. राधे- राधे बोल

मेरे बांके बिहारी की देखा छटा.. राधे -राधे बोल ...छोटी-छोटी गईया छोटे-छोटे ग्वाल छोटाे साे मेराे मदन गोपाल.. अादि भजनाें की प्रस्तुति सुनकर श्रद्धालु भाव- विभाेर हो गए। मौके पर अध्यक्ष इंदल यादव, सुबोध कुमार, रुपेश कुमार, विजय यादव, सीताराम यादव, मनोज कुमार, दीपक कुमार, मंटू यादव, निशांत कुमार अादि माैजूद थे।

पंडित पंकजाचार्य

नाथनगर के गोलाहू गांव में श्रीमद्भागवत कथा में मौजूद श्रद्धालु।

Bhagalpur News - it is the responsibility of the guardian that children should be cremated from childhood the future will improve
X
Bhagalpur News - it is the responsibility of the guardian that children should be cremated from childhood the future will improve
Bhagalpur News - it is the responsibility of the guardian that children should be cremated from childhood the future will improve

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना