नवगछिया में फिर चरमराई बिजली आपूर्ति, बिहपुर के 10 गांवों में अंधेरा

Bhagalpur News - इन दिनों आंधी पानी में बिजली व्यवस्था की पोल परत दर परत खुलने लगी है। नवगछिया में हर बार आंधी के बाद बिजली व्यवस्था...

Bhaskar News Network

Jun 14, 2019, 08:20 AM IST
Navagchhiya News - kalparai power supply again in navagachia 10 villages in bihpur in darkness
इन दिनों आंधी पानी में बिजली व्यवस्था की पोल परत दर परत खुलने लगी है। नवगछिया में हर बार आंधी के बाद बिजली व्यवस्था पूरी तरह से ध्वस्त हो जा रही है और बिजली विभाग के पदाधिकारी पूरी तरह से आंधी पानी के बाद बेबस नजर आते हैं। बुधवार को देर शाम आंधी पानी के बाद ऐसा ही हुआ पूरे नवगछिया अनुमंडल की विद्युत आपूर्ति 15 घंटों तक ध्वस्त रही। नवगछिया शहर में 15 घंटे बाद लोगों को बिजली मिली तो नवगछिया के ग्रामीण इलाकों में लोगों को 20 घंटे बाद बिजली मिली तो दूसरी तरफ बिहपुर के ग्रामीण इलाकों के करीब 10 गांव में विद्युत व्यवस्था पूरी तरह से ध्वस्त है। पिछले 36 घंटे से बिजली से वंचित गांवों में बिहपुर प्रखंड का सोनवर्षा, कठोतिया, बभनगामा, लत्तीपुर, अमरपुर, गौरीपुर, नरकटिया आदि गांव है। मालूम हो कि कठौतिया गांव के पास एक वटवृक्ष के गिर जाने से बिजली के खंभे टूटकर गिर गए।गुरुवार को सुबह से ही विभाग द्वारा फिर से बिजली के खंभों को खड़ा करने का प्रयास किया गया लेकिन देर शाम तक बिजली के खंभे खड़े नहीं हो पाए जिसके कारण उपरोक्त कई गांव में बिजली आपूर्ति पूरी तरह से बाधित है। ग्रामीणों ने बताया कि आंधी-पानी महज आधे घंटे का होता है लेकिन उसके बाद उन लोगों को उमस भरी गर्मी का सामना करना पड़ता है। बिजली विभाग खंभों के टूटने या फिर तार के क्षतिग्रस्त होने के बाद काफी सुस्ती से काम करती है और 24 घंटे बाद भी विद्युत व्यवस्था नहीं की जाती है।

बिहपुर के मीराचक में बिजली के क्षतिग्रस्त पोल की मरम्मत करते बिजली विभाग के कर्मचारी।

पिछले माह से अब तक कई दिनों तक बाधित रही बिजली, फिर भी बढ़ कर आ रहा बिल

सर्वविदित है कि मई माह के अंतिम सप्ताह से लेकर अब तक तीन बार लोगों को तूफान का सामना करना पड़ा है। तूफान के बाद कई दिनों तक बिजली बाधित रही लेकिन बिजली बिल में किसी प्रकार की कटौती नहीं हुई। बिहपुर के ग्रामीण इलाके के उपभोक्ता चंदन कुमार, राजमंगल चौधरी, बमबम चौधरी, नीरज कुमार, आलोक कुमार साह आदि ने बताया कि बिजली विभाग ने इस बार बिल में काफी है फिर किया है। जब बिजली नहीं रहे तो बिल उसी हिसाब से क्यों आया जिस हिसाब से उनके दिनों में आता था। उपभोक्ताओं ने कहा कि पहले वाली स्थिति नहीं रही है बिजली विभाग अब मोटी रकम वसूल करता है ऐसी स्थिति में बिजली विभाग को आंधी तूफान के बाद अविलंब बिजली चालू करने की वैकल्पिक व्यवस्था करनी चाहिए।

कार्यपालक अभियंता बोले-आंधी में टूटे तार

नवगछिया बिजली विभाग के कार्यपालक अभियंता प्रभात रंजन ने कहां कि आंधी आने के कारण 33,000 वोल्ट की क्षमता वाले तार में समस्या आ गई थी जिसे गुरुवार को दिन में 10:00 बजे तक दुरुस्त कर लिया गया। विभिन्न क्षतिग्रस्त इलाकों की बिजली शुक्रवार दोपहर तक सुचारू कर दी जाएगी। बिजली बिल ज्यादा आने के मामले में कार्यपालक अभियंता ने कहा कि अप्रैल और मई माह के शुरुआती सप्ताहों में गर्मी वैसी नहीं थी।लेकिन जैसे ही गर्मी बढ़ी है बिजली का उपयोग ज्यादा हुआ है। अमूमन एक माह में नवगछिया के लोग दो करोड़ की बिजली का उपयोग करते लेकिन मई माह से या बढ़कर 3:30 करोड़ रुपये से भी ज्यादा हो गया यही कारण है कि बिजली बाधित रहने के बाद भी बिल में नहीं के बराबर कटौती हुई है।

X
Navagchhiya News - kalparai power supply again in navagachia 10 villages in bihpur in darkness
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना