मुंगेर से अाए दाे काेराेना पाॅजिटिव मरीज मेडिकल काॅलेज अस्पताल में भर्ती, सीसीटीवी से निगरानी

Bhagalpur News - मरीजों में काेराेना का शिकार हुए युवक के परिवार की महिला व पड़ाेस का 12 साल का है एक बच्चा अब तक दाे हजार...

Mar 27, 2020, 06:35 AM IST
Bhagalpur News - karena positive patient from munger admitted to medical college hospital monitored by cctv

{मरीजों में काेराेना का शिकार हुए युवक के परिवार की महिला व पड़ाेस का 12 साल का है एक बच्चा

{अब तक दाे हजार लाेगाें की हाे चुकी है स्क्रीनिंग, 16 के लिये सैंपल, 14 निगेटिव, दाे की रिपाेर्ट अानी बाकी

मुंगेर के काेराेना पाॅजिटिव मरीज की माैत के बाद उससे संक्रमित हुए दाे मरीजाें काे गुरुवार काे मेडिकल काॅलेज अस्पताल के अाइसाेलेशन वार्ड में भर्ती कराया गया। अस्पताल में एमसीएच वार्ड काे काेराेना मरीजाें के अाइसाेलेशन वार्ड में बदल दिया गया है। दाेनाें मरीजाें काे थर्ड फ्लाेर पर रखा गया है। वहां सीसीटीवी लगाया गया है। अस्पताल प्रशासन उसपर पूरी नजर रखेगा। किसी भी तरह के गंभीर लक्षण दिखने पर तत्काल उचित इलाज हाेगा। मरीजाें की हर दिन की रिपाेर्ट पटना भेजी जाएगी। मुंगेर में काेराेना पाॅजिटिव मरीज के संपर्क में अाए सात अाैर संदिग्ध मिले हैं, जिन्हें अस्पताल में भर्ती किया गया है। अब इनकी जांच चल रही है।

दो मरीजों को अाइसाेलेशन वार्ड से मिली छुट्टी

मेडिकल काॅलेज अस्पताल में अब तक दाे हजार काेराेना के संदिग्धाें की स्क्रीनिंग हाे चुकी है। इनमें 16 लाेगाें के सैंपल लिए जा चुके हैं, जिनमें 14 की रिपाेर्ट निगेटिव अाई है। दाे अाैर मरीजाें के रिपाेर्ट अानी है। दाे मरीजाें काे गुरुवार काे अाइसाेलेशन वार्ड से छुट्टी देकर हाेम क्वारेंटाइन में भेज दिया गया है। अब अाइसाेलेशन वार्ड में भर्ती संदिग्धाें की संख्या 11 हाे गयी है। अब तक तीन काे छुट्टी दी जा चुकी है। एक मरीज भाग गया था।


मायागंज में 115 व सदर अस्पताल में 46 की हुई स्क्रीनिंग, सबकाे घर भेजा

मेडिकल काॅलेज अस्पताल में गुरुवार काे 115 लाेगाें की स्क्रीनिंग हुई। उन्हें हाेम क्वारेंटाइन में जाने की सलाह दी गयी। लाेग साेशल डिस्टेंसिंग की एडवाइजरी का पालन अस्पताल में नहीं कर रहे हैं। अाइसाेलेशन वार्ड में जांच कराने अाए लाेग एक मीटर की दूरी की बात ताे दूर अापस में इतना सटकर खड़े रहते हैं कि उनमें संक्रमण फैलने का खतरा ज्यादा है। गुरुवार काे संदिग्धाें की जांच डॉ. आनंद सिन्हा व डॉ. यूएनपी सिन्हा ने किया।अस्पताल अधीक्षक कार्यालय गेट पर एक रस्सी लगा दी गयी है। कार्यालय में अलग-अलग गाेल घेरा बना दिया गया है।

पटना से पैदल पहुंचे 13 लाेगाें में काेराेना के लक्षण नहीं

दूसरी अाेर सदर अस्पताल में 46 लाेगाें की स्क्रीनिंग गुरुवार की रात पाैने दस बजे तक हुई। इसमें 13 लाेग पटना से पैदल यात्रा कर शहर पहुंचे थे। ये लाेग दिल्ली से चले थे पर पटना अाकर लाॅकडाउन के बाद फंस गए ताे वहां से पैदल ही चल पड़े। पिछले तीन दिन से लगातार पैदल चलने के बाद वे लाेग रात में सदर अस्पताल पहुंचे।

सदर अस्पताल में जांच को पहुंचे पटना से पैदल आए लोग।

मरीज की हाे रही माॅनिटरिंग


कागजात तैयार करने में लगा समय, डेढ़ घंटे से अधिक समय तक एंबुलेंस में रहे मरीज

मुंगेर से दाे काेराेना पाॅजिटिव मरीजाें काे लेकर एंबुलेंस चालक दाेपहर 1.30 बजे मेडिकल काॅलेज अस्पताल पहुंचा। इनमें एक 35 साल की महिला है। यह काेराेना का शिकार हुए युवक के परिवार की है। दूसरी पड़ाेस का 12 साल का बच्चा है। डीएम के निर्देश के बाद अस्पताल ने अाईटी एजेंसी से बात कर तुरंत सीसीटीवी कैमरा लगवाया। इस बीच मरीज के कागजात तैयार करने में डेढ़ घंटे लग गए। इस बीच मरीज एंबुलेंस में ही रहे। एंबुलेंस चालक अाैर इमरजेंसी टेक्निशियन भूखे-प्यासे गाड़ी में ही मरीज के साथ बैठे रहे। दाेनाें कर्मियाें ने कहा कि हम लाेग सुबह ही मुंगेर से चले हैं, बिना खाए-पीये यहां तक अाए। दस मिनट की बात कह कर राेका गया पर डेढ़ घंटे लग गए। बताया गया कि मुंगेर के सिविल सर्जन ने बिना किसी पेपर वर्क किए मरीज काे रेफर कर दिया था। काेराेना वार्ड के नाेडल पदाधिकारी डाॅ. हेमशंकर शर्मा ने मरीजा का बीएचटी खुद तैयार किया। उसका पूरा केस हिस्ट्री नाेट किया, इसमें भी देरी हुई।

X
Bhagalpur News - karena positive patient from munger admitted to medical college hospital monitored by cctv

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना