शहर की सुंदरता में लापरवाही का सुराख, वाटर फाउंटेन पर लाखों खर्च, फिर भी कोई चालू नहीं

Bhagalpur News - भागलपुर|शहर की सुंदरता के लिए वाटर फाउंटेन पर लाखाें खर्च हाे गए, लेकिन चालू एक भी नहीं हाे पाया। स्मार्ट सिटी के...

Feb 22, 2020, 06:50 AM IST
भागलपुर|शहर की सुंदरता के लिए वाटर फाउंटेन पर लाखाें खर्च हाे गए, लेकिन चालू एक भी नहीं हाे पाया। स्मार्ट सिटी के तहत कमिश्नरी, सैंडिस कंपाउंड स्थित चिल्ड्रेन पार्क अाैर लाजपत पार्क में फाउंटेन लगना था। कमिश्नरी में अधूरा निर्माण कर छोड़ दिया गया। सैंडिस कंपाउंड में मशीन खराब हाेने से चालू नहीं हो सका। रेलवे स्टेशन पर बने फव्वारे का माेटर खराब हाेने से काम नहीं कर रहा है। जीएम के निरीक्षण के दौरान अफसरों ने इस फाउंटेन को ठीक किया, लेकिन पानी बाहर नहीं फेंकने से यह बंद है। फाउंटेन क्याें चालू नहीं हुअा...कैसे अाैर कब चालू हाेगा? इसका जवाब अफसरों के पास नहीं हैै।

सीधी बात

सत्येंद्र वर्मा, उप नगर आयुक्त, नगर निगम

लाजपत पार्क


सैंडिस कंपाउंड


रेलवे स्टेशन


कमिश्नरी कैंपस


अमृत मिशन याेजना से यहां 70 लाख से साैंदर्यीकरण का कार्य हाे रहा है। पार्क में लाइटिंग, वाटर फाउंटेन का कार्य भी हाेना था पर नगर विकास विभाग ने इसकी मंजूरी नहीं दी। नतीजा, योजना ठंडे बस्ते में है।

यहां वाटर फाउंटेन लगा है। दो साल पहले यह बेहतर काम करता था। बच्चों को यह लुभाता था और सैंडिस स्थित चिल्ड्रेन पार्क की खूबसूरती भी बढ़ाता था। लेकिन मोटर खराब के कारण यह काफी महीने से बंद है। यहां सिर्फ ढ़ांचा दिख रहा है।

{सैंडिस कंपाउंड का फाउंटेन कब ठीक होगा?

-वर्मा: अभी इसकी कोई योजना नहीं है।

{कमिश्नरी में आधा निर्माण के बाद काम बंद है। कब तक शुरू होगी?

- वर्मा: अभी ऐसी कोई योजना नहीं है।

{लाजपत पार्क में नगर विकास विभाग ने क्यों अड़ंगा लगाया?

- वर्मा : पता नहीं।

{कब तक इसके चालू होने की उम्मीद है। इसे चालू करने में क्या परेशानी है?

- वर्मा : अभी मुझे इसकी जानकारी नहीं है। बाद में बता सकेंगे।

स्टेशन के सामने मिनी पार्क में पूर्व रेल मंत्री लालू प्रसाद के कार्यकाल में 2008 में फाउंटेन लगा था। लेकिन यह कभी चालू नहीं होता। रेल अधिकारी इसे पुराना बता इसे चालू नहीं करते हैं। फाउंटेन का माेटर खराब हाे चुका है। मोटर लोड नहीं ले पा रहा है।

स्मार्ट सिटी फंड से शहर की सुंदरता के लिए 43.46 लाख से पहला फाउंटेन कमिश्नरी कैंपस में लगाने की तैयारी हुई। फाउंटेन का टब तैयार हो गया। सिर्फ मशीनें लगाई जानी थीं। तत्कालीन कमिश्नर ने इसे अपव्यय बताकर काम रुकवा दिया था।

X

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना