--Advertisement--

डकैती करने घुसे बदमाशों से हुई मुठभेड़ में पुलिसकर्मी की मौत, एक डकैत ढेर

जूट व्यपारी नंदू अग्रवाल के घर 12 बदमाश डकैती करने घुसे थे, पुलिक को देख बदमाशों ने हमला कर दिया

Danik Bhaskar | Sep 12, 2018, 10:39 AM IST

किशनगंज. बिहार के किशनगंज जिले में मंगलवार देर रात डकैतों से हुई मुठभेड़ में पुलिस ने एक डकैत को मार गिराया है। गोली लगने से एक पुलिसकर्मी की भी जान चली गई। पुलिस ने खदेड़कर तीन डकैतों को पकड़ लिया, बाकी भागने में सफल रहे। घटना टाउन थाना क्षेत्र के पुरबपाली पावर हाउस इलाके की है। घटना की जानकारी मिलते ही पूर्णिया एसपी विशाल शर्मा भी मौके पर पहुंचे और हालात का जायजा लिया।

2 घंटे तक चली मुठभेड़
मिली जानकारी के मुताबिक करीब 12 की संख्या में डकैत जूट व्यापारी नंदू अग्रवाल के घर डकैती करने जा रहे थे। इसी दौरान उस इलाके से पुलिस की गश्ती दल गुजर रही थी। डकैतों ने पुलिस को देख उनपर हमला कर दिया और चाकू मारकर वॉचमैन को गंभीर रूप से घायल कर दिया पुलिस ने मोर्चा संभालते हुए जवाबी फायरिंग की। करीब 2 घंटे तक मुठभेड़ चली। पुलिस गिरफ्तार तीन डकैतों से पूछताछ कर रही है। डकैतों के बताए ठिकानों पर पुलिस छापेमारी कार्रवाई कर रही है। गिरफ्तार डकैत में से दो झारखंड के साहेबगंज और एक पूर्णिया का रहने वाला है। मुठभेड़ में मारा गया डकैत पश्चिम बंगाल का है।

व्यापारी के घर पहले भी डकैती की हुई है कोशिश
मृतक पुलिसकर्मी का नाम बिरसा उड़ाव है। वह बिरसा गांव का रहने वाला था। ग्रामीणों का कहना है कि नंदू अग्रवाल के घर पहले भी दो बार अपराधी डकैती के इरादे से आए थे लेकिन लोगों के शोर मचाने पर भाग गए। पुलिस ने नंदू अग्रवाल के बयान पर मामला दर्ज कर लिया है और जांच में जुट गई है।