आस्था के साथ देशभक्ति का जज्बा, हाथों में तिरंगा लेकर निकाला जुलूस, भाईचारा का दिया संदेश

Bhagalpur News - भास्कर न्यूज | नवगछिया/ सुल्तानगंज/कहलगांव/ बिहपुर पैगम्बर माेहम्मद के जन्मदिन पर जिले के सभी प्रखंडों में...

Nov 11, 2019, 08:05 AM IST
भास्कर न्यूज | नवगछिया/ सुल्तानगंज/कहलगांव/ बिहपुर

पैगम्बर माेहम्मद के जन्मदिन पर जिले के सभी प्रखंडों में रविवार को जुलूस-ए-मोहम्मदी निकाला गया। इस दौरान आस्था के साथ देशभक्ति का जज्बा भी दिखा। जायरीन अपने हाथों में तिरंगा लेकर जुलूस में शामिल हुए और देश की एकता, अखंडता, आपसी भाईचारा और सौहार्द का संदेश दिया। लोगों ने कहा कि मोहम्मद साहब के बताए मार्ग पर चलने से ही देश और समाज में शांति कायम रहेगी। नवगछिया बजार से निकाला गया जुलूस रसलपुर मक्खातकिया होते हुए मनियामोर के रास्ते वापस रसलपुर पहुंचा। इस अवसर पर सभी जगहों पर मिलाद उल नबी हर्षोल्लास से मनाया गया।पूरे हिंदुस्तान की सलामती के लिए और भाईचारे के लिए दुआ मांगी गई। जिसमे पुलिस प्रशासन का बङा योगदान रहा। इस अवसर पर मो. मेराजूल इस्लाम कार्यक्रम की अगुवाई कर रहे थे। मौके पर मौलाना एजाज साहब, मौलाना मोजाहिद मो. इजहार, मो जियाउल रहमान, मो शमशेर आलम, मो नाजिर और मोहम्मद जेम्स फाइटर शामिल थे। वहीं कहलगांव में भी धूमधाम से जुलूस निकाला गय। जुलूस काजीपुरा से गाजे बाजे के साथ नारेबाजी करते हुए कोतवाली टोला में जुलूस पहुंच कर समाप्त हो गया। इस अवसर पर कहलगांव के सिकरगढ़ टोला में मोहम्मदिया जलसा का आयोजन भी किया गया। वहीं सुल्तानगंज, पीरपैंती, अकबरनगर, सबौर शाहकुंड में भी मोहम्मदी जुलूस निकाला गया।

अकबरनगर में मिलादुन्नबी पर तकरीर करते मौलाना।

बिहपुर में जायरीनों ने की मुए मुबारक की जियारत, मांगी दुआएं

बिहपुर|खानकाह-ए-आलिया
फरिदिया मोहब्बतिया मेंं मिलादुन्नबी पर सुबह दस बजे जलसा का आयोजन किया गया। खानका परिसर को आकर्षक तरीके से सजाया गया था। जलसे का सदारत खानकाह के सज्जादानशीं हजरत बाबू अली कौनेन खान फरीदी व नायब सज्जादानशीं हजरत बाबू अली शब्बर खान फरीदी ने किया। सज्जादानशीं ने जायरीनों से कहा कि गरीब, लाचार, बेबस व बेबा की मदद करने से जन्नत मिलता है। हजरत मौलाना अबू सालेह फरीदी, हजरत मौलाना शमसीर आलम, हजरत मौलाना साजीद रजा आदि ने कहा कि पैगम्बर मोहम्मद अपना सारा जीवन लोगों की सेवा में बिताया था। हम सभी को उनके जीवन से सीख लेनी चाहिए। जलसे की शुरुआत हाफिज मो. आमीर आलम ने तिलावते कुरान शरीफ से किया। वहीं मंजूर आलम, नुरूद्दीन आलम नूरी व ने नातिया सुना लोगों को झुमाया। लोगो ने सुबह से ही पैगम्बर मोहम्मद के पवित्र मुए मुबारक की जियारत की।

शाहकुंड में गाजे-बाजे के साथ निकाला जुलूस

शाहकुंड|प्रखंड
के मुख्य बाजार शाहकुंड, समस्तीपुर, खैरा, रसुल्ला समेत तमाम मुस्लिम बाहुल्य क्षेत्रों में पैगम्बर हजरत मुहम्मद साहब के जन्मदिवस पर जुलूस ए मोहम्मदी का आयोजन किया गया। गाजे-बाजे घोड़ों से सजे स्थानीय मुख्य बाजार के मस्जिद से निकला जुलूस असरगंज चौक से वापस लौटकर मस्जिद के समीप शांति व भाईचारे के संदेश के साथ मिलाद का आयोजन कर हजरत साहब के विचारों पर चलने का निर्णय लिया।

X

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना