लखीसराय / कैदी की मौत; परिजनों का आरोप- पुलिस की पिटाई से गई जान, हंगामा

घटना के बाद से मृतक के परिजनों में गुस्सा और गम है। घटना के बाद से मृतक के परिजनों में गुस्सा और गम है।
X
घटना के बाद से मृतक के परिजनों में गुस्सा और गम है।घटना के बाद से मृतक के परिजनों में गुस्सा और गम है।

  • शराब बेचने के जुर्म में पुलिस ने किया था गिरफ्तार
  • सदर अस्पताल परिसर पांच घंटे तक रणक्षेत्र बना रहा

Dainik Bhaskar

Jan 15, 2020, 02:30 AM IST

लखीसराय. सदर अस्पताल में इलाज के दौरान एक विचाराधीन कैदी विक्रम कुमार की मौत हो गई। विचाराधीन बंदी विक्रम कुमार की मौत के बाद मंगलवार की सुबह से ही परिजनों ने हंगामा करना शुरू कर दिया। सदर अस्पताल परिसर पांच घंटे तक रणक्षेत्र बना रहा।

इस दौरान अस्पताल परिसर में हंगामा करने के साथ ही जमुई मोड़ चौक के पास टायर जला कर विरोध-प्रदर्शन कर एक घंटे तक सड़क जाम की गई। विक्रम को शराब बेचने के जुर्म में शनिवार को लखीसराय बायपास से गिरफ्तार किया था। परिजनों ने आरोप लगाया कि गिरफ्तार करने के दौरान पुलिस ने उसकी जमकर पिटाई की थी। पिटाई के कारण उसकी हालत बिगड़ने पर इलाज के लिए सदर अस्पताल में भर्ती कराया।

मजिस्ट्रेट की मौजूदगी में पोस्टमार्टम
डीएम के आदेश पर कार्यपालक दंडाधिकारी राजीव मोहन सहाय की मौजूदगी में पोस्टमार्टम कराया गया। डॉक्टरों की टीम ने पोस्टमार्टम करने के बाद विसरा को फॉरेंसिक जांच के लिए भेज दिया है। पोस्टमार्टम की वीडियोग्राफी भी हुई।

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना