सृजन घोटाला / बैंक ऑफ बड़ौदा के पूर्व क्लर्क संत कुमार सिन्हा ने किया आत्मसमर्पण, भेजे गए जेल



Sant Kumar Sinha, former Clerk of Bank of Baroda, surrendered srijan scam
X
Sant Kumar Sinha, former Clerk of Bank of Baroda, surrendered srijan scam

  • आरोपी ने स्वयं को न्यायिक हिरासत में लिए जाने की प्रार्थना की थी
  • तीन महीने में 3 बैंक अफसर हो चुके हैं गिरफ्तार

Dainik Bhaskar

Sep 12, 2019, 10:44 AM IST

भागलपुर. सृजन घोटाला में बुधवार को एक और आरोपी बैंककर्मी ने सीबीआई की विशेष अदालत में आत्मसमर्पण किया, जहां से उन्हें जेल भेज दिया गया। सीबीआई द्वितीय की विशेष न्यायाधीश गीता गुप्ता की अदालत में बैंक ऑफ बड़ौदा के तत्कालीन क्लर्क संत कुमार सिन्हा ने आत्मसमर्पण करने के साथ ही स्वयं को न्यायिक हिरासत में लिए जाने की प्रार्थना की थी।

 

अदालत ने प्रार्थना स्वीकार करते हुए न्यायिक हिरासत में लेने के बाद 25 सितंबर तक के लिए जेल भेजने का आदेश दिया। इसी अदालत ने संत कुमार समेत सात के खिलाफ 20 जुलाई को गिरफ्तारी का गैरजमानती वारंट जारी किया था। 

 

तीन महीने में 3 बैंक अफसर हो चुके हैं गिरफ्तार
गौरतलब है कि इसी मामले में फरार चल रहे आरोपी प्रदुंत कुमार विश्वास उर्फ पीके विश्वास ने सोमवार को सीबीआई की विशेष अदालत में आत्मसमर्पण कर दिया था जहां से उन्हें जेल भेज दिया गया था। उन्हें 19 सितंबर तक के लिए जेल भेजने का आदेश दिया गया था। इससे पहले जुलाई और अगस्त में दो बैंक के अफसर गिरफ्तार हो चुके हैं। पिछले दिनों सीबीआई ने बैंक ऑफ बड़ौदा के मैनेजर नवीन कुमार साहा को गिरफ्तार किया था। 

 

घोटाले के वक्त वह भागलपुर स्थित बैंक ऑफ बड़ौदा में वरीय प्रबंधक के पद पर तैनात थे। इससे पूर्व सीबीआई की टीम ने तमिलनाडु के शिवगंगा जिला स्थित इंडियन बैंक के जोनल ऑफिस में मुख्य प्रबंधक देव शंकर मिश्रा को उनके कार्यालय से 31 जुलाई को गिरफ्तार किया था और पटना लेकर आई थी। सीबीआई की विशेष अदालत में 2 अगस्त को उन्हें पेश किया गया था, तब से वह जेल में हैं।

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना