चार दिन पहले हुए मारपीट अाैर मुकदमेबाजी पर गोलियों की तड़तड़ाहट से थर्राया शंकरपुर दियारा, महिला समेत दो जख्मी

Bhagalpur News - नाथनगर प्रखंड का शंकरपुर दियारा शुक्रवार को बम धमाका अौर गोलियों की तड़तड़ाहट से थर्रा उठा। नौ िसंतबर को शंकरपुर...

Bhaskar News Network

Sep 14, 2019, 07:00 AM IST
Bhagalpur News - shankarpur diara two injured including woman
नाथनगर प्रखंड का शंकरपुर दियारा शुक्रवार को बम धमाका अौर गोलियों की तड़तड़ाहट से थर्रा उठा। नौ िसंतबर को शंकरपुर बिंद टोला अौर बैरिया के ग्रामीणों के बीच हुए अभद्र व्यवहार-मारपीट विवाद व केस को लेकर दोनों पक्षों के लोग शुक्रवार को मरने-मारने पर उतारू हो गए। दोनों पक्षों की अोर से जमकर मारपीट, गोलीबारी अौर बमबाजी हुई। दोनों पक्षों के ग्रामीणों का दावा है कि 100 राउंड गोली अौर सात बम चले हैं, लेकिन पुलिस को मौके पर से मात्र एक खोखा अौर एक कारतूस मिले हैं। गोलीबारी में एक पक्ष से शंकरपुर गांव निवासी सुनील महतो अांशिक रूप से जख्मी हुअा है। गोली उसके कान को छूते हुए निकल गई। जबकि उसकी भाभी नीलम देवी मारपीट में जख्मी हुई है। दूसरे पक्ष से बैरिया गांव निवासी अवधेश महतो मारपीट में जख्मी हुअा है। सभी घायलों का इलाज स्थानीय अस्पताल में हुअा। घटना से दोनों गांव के बीच भारी तनाव है। मामले की जानकारी पाकर सिटी डीएसपी राजवंश सिंह, इंस्पेक्टर मो. अली साबरी, ललमटिया थानेदार बबलू कुमार, जोगसर थानेदार विश्व बंधु कुमार पुलिस बलों के साथ नाव से जमुनियां नदी पाकर घटनास्थल पहुंचे। डीएसपी ने दोनों पक्षों के साथ बैठक की अौर उचित कार्रवाई का भरोसा दिलाया, तब जाकर मामला शांत हुअा। फिलहाल पुलिस दोनों गांव में कैंप कर रही है। मामले में दोनों पक्षों की अोर से केस दर्ज करने की तैयारी की जा रही है। सिटी डीएसपी राजवंश सिंह ने बताया कि 100 राउंड गाेली चलने की बात गलत है। पटाखे काे लाेग बम बता रहे हैं। दाेनाें पक्षाें के खिलाफ निराेधात्मक कार्रवाई की जाएगी।

बिंद टोला के बजरंगबली मंदिर की दीवार पर फेंके सात देसी बम

ग्रामीणों ने बताया कि शंकरपुर बिंद टोला के बजरंगबली मंदिर की दीवार पर बैरिया के ग्रामीणों ने सात देसी बम फेंके। दीवार पर कई जगह बम के निशान हैं। हालांकि बम शक्तिशाली नहीं था, इस कारण दीवार को कोई नुकसान नहीं हुअा। बमबाजी के बाद ग्रामीण गोलीबारी करने लगे। आसमानी फायरिंग होने के कारण कोई हताहत नहीं हुअा। पुलिस ने घटनास्थल से देसी बम के अवशेष के जब्त किये हैं।

मारपीट में जख्मी नीलम देवी व सुनील महतो।

ग्रामीणों का दावा-100 राउंड गोली चली, पुलिस को मिला एक खोखा और एक कारतूस

दूध देने गई महिला को बंधक बना कर पीटा बचाने गए देवर को मारी दी गोली

जख्मी शंकरपुर बिंद टोला निवासी नीलम देवी ने बताया कि सुबह में बैरिया गांव दूध देने गई थी, जहां उसे कुछ ग्रामीणों ने पकड़ लिया अौर बंधक बना कर मारपीट की। उसे बचाने गए देवर सुनील महतो के साथ भी उक्त ग्रामीणों ने मारपीट की। सुनील पर गोली चला दी जो उसके कान को छूते हुए निकल गई। इसके बाद ग्रामीण शंकरपुर गांव पहुंचे गए अौर गोलीबारी-बमबाजी करने लगे।

ग्रामीण बोले-गोलीबारी के बाद खोखा को उठा नदी में फेंक दिया

शंकरपुर बिंद टोला के ग्रामीणों से जब पुलिस ने पूछा कि सौ राउंड गोली चली है तो खोखा सिर्फ एक क्यों मिला? बाकी खोखा क्या हुअा? इस पर ग्रामीणों ने कहा कि गोलीबारी करने के बाद बैरिया के ग्रामीणों ने सारा खोखा चुन लिया अौर नदी में फेंका दिया, ताकि सबूत को मिटाया जा सके।

मछली बेच कर लौट रहे ग्रामीण को पीटा, विरोध करने पर गोलीबारी की, बम भी फोड़े

बैरिया की वार्ड सदस्य वैशाखी देवी ने बताया कि उनका ग्रामीण अवधेश महतो शुक्रवार सुबह में अादमपुर से मछली बेच कर गांव लौट रहा था। तभी रास्ते में शंकरपुर बिंद टोला के ग्रामीणों ने उसे घेर कर पीटा। किसी तरह जान बचा कर वह भाग कर गांव अाया तो शंकरपुर के ग्रामीणों ने दहशत फैलाने के िलए कई राउंड गोली चलाई अौर बम फोड़े।

एक पक्ष ने अभद्र व्यवहार तो दूसरे ने मारपीट का किया था केस

बाढ़ के कारण जमुनियां नदी में पानी भर गया है। इस कारण बैरिया के ग्रामीण शंकरपुर बिंद टोला होते हुए अाते-जाते हैं। इस कारण दोनों गांव के बीच विवाद बढ़ा है। 9 सितंबर को दोनों गांव के ग्रामीणों के बीच हुए विवाद में दोनों पक्षों की अोर से नाथनगर थाने में केस दर्ज कराया था। एक पक्ष से दिलदारपुर गांव निवासी बीरबल महतो उर्फ वीरो ने शंकरपुर बिंद टोला निवासी बिजो महतो, सुनील महतो, दीपक कुमार, बंटी कुमार, जट्ठू कुमार व अन्य के खिलाफ मारपीट का केस दर्ज कराया था। बीरबल का कहना था कि नौ सितंबर की शाम वह शहर से मछली बेच कर गांव लौट रहा था। रास्ते में बिंद टोला में कर्मा-धर्मा की पूजा हो रही थी तो वह रुक कर देखने लगा। तभी उक्त लोगों ने उसके साथ मारपीट कर जख्मी कर दिया था। एक साल पहले यज्ञ के दौरान झगड़ा हुअा था, इस कारण बीरबल को पीटा गया। दूसरे पक्ष से बिंद टोला निवासी सुनील महतो ने केस दर्ज कराया था, जिसमें बैरिया गांव निवासी बीरबल महतो उर्फ वीरो महतो, पूरन महतो, रूदल महतो, राम प्रवेश कुमार, धीरज महतो, शिवा अौर राजा कुमार को अारोपी बनाया था। सुनील का अारोप था कि उसकी बहन, भतीजी व टोले की अन्य लड़कियां कर्मा-धर्मा पूजा कर रही थी। तभी उक्त ग्रामीणों ने लड़कियों के साथ अभद्र व्यवहार किया। मना करने पर सुनील के साथ मारपीट की गई। सुनील का कहना है कि बैरिया, दिलदारपुर के असामाजिक तत्व बिंद टोला में अाकर शराब पीते हैं अौर हथियार चमकाते हैं।

Bhagalpur News - shankarpur diara two injured including woman
X
Bhagalpur News - shankarpur diara two injured including woman
Bhagalpur News - shankarpur diara two injured including woman
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना