मानसून / 2 घंटे में 34.4 मिमी बारिश, ठनका से किसान की मौत; 17 से 20 तक बारिश के आसार



सुपौल में बारिश के दौरान हेलमेट पहने जा रहा बाइक सवार। सुपौल में बारिश के दौरान हेलमेट पहने जा रहा बाइक सवार।
X
सुपौल में बारिश के दौरान हेलमेट पहने जा रहा बाइक सवार।सुपौल में बारिश के दौरान हेलमेट पहने जा रहा बाइक सवार।

  • बारिश से अिधकतम तापमान में 2.4 और न्यूनतम में 2.9 डिग्री सेल्सियस की गिरावट
  • अधिकतम तापमान 30 और न्यूनतम तापमान 23 डिग्री सेल्सियस रहा
  • मौसम विभाग ने 15,17 और 18 सितंबर के लिए येलो अलर्ट जारी किया

Dainik Bhaskar

Sep 15, 2019, 01:23 PM IST

सुपौल. जिले के विभिन्न क्षेत्रों में शनिवार की अहले सुबह मौसम ने करवट बदली। जिसके बाद बीते कई दिनों से आसमान में मंडरा रहे बादल तेज गरज के साथ जम कर बरसे। करीब दो घंटे तक रूक-रूक कर हुई बारिश से तापमान में भी गिरावट आई। इन सबके बीच पिपरा प्रखंड के रामनगर पंचायत के वार्ड 10 में ठनका गिरने से एक किसान की मौत हो गई। जिससे मृतक के परिजनों में कोहराम मच गया। 

 

सुबह के समय हुई बारिश से लोगों को उमस भरी गर्मी से निजात मिली। दूसरी ओर सिंचाई के अभाव में सूख रहे धान की फसल को लेकर चिंतित किसानों को राहत मिली। जिले में धान के सीजन में मौसम की बेरुखी से किसानों के हलक सूख रहे थे। किसानों को एक महीने से बारिश का इंतजार था। किसान पंपसेट से धान की फसल बचाने के जद्दोजहद में जुटे थे। शनिवार को झमाझम बारिश से किसान के खेतों में लगी धान की फसल फिर से लहलहाने लगी और फिर से किसान के चेहरे खिल उठे।

 

सरायगढ़-भपटियाही और किसनपुर प्रखंड में बारिश से किसानों के चेहरे पर लौटी रौनक
किसनपुर प्रखंड क्षेत्र हुए झमाझम बारिश से किसानों में खुशी देखी जा रही है। ऊंचे खेतों में लगी फसल सिंचाई के अभाव में सूख रहा था। वहीं काल नामक कीड़ा फसल बर्बाद कर रहा था। किसान शिवनंदन साह, लक्ष्मी नारायण शास्त्री, सहदेव पासवान ने बताया कि बारिश से सूखते हुए फसल को संजीवनी मिली है। इधर, सरायगढ़-भपटियाही प्रखंड क्षेत्र में दो दिनों से रूक-रूक हो रही बारिश से धान की फसल को फायदा हुआ है।

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना