मंदिर के केयरटेकर को शाम में दी धमकी, रात में सिर कूच कर दी हत्या

Bhagalpur News - जीराेमाइल के बहादुरपुर में अाम बगान में बने मंदिर के केयरटेकर को पुरानी रंजिश में गुरुवार की शाम धमकी दी और रात...

Feb 29, 2020, 06:56 AM IST

जीराेमाइल के बहादुरपुर में अाम बगान में बने मंदिर के केयरटेकर को पुरानी रंजिश में गुरुवार की शाम धमकी दी और रात में पत्थर या किसी कड़े चीज से सिर कूचकर हत्या कर दी। शुक्रवार की सुबह पूजा करने गए ग्रामीणाें ने जब देखा कि मंदिर की साफ-सफाई नहीं हुई है ताे वह केयरटेकर के कमरे में गए। वहां फर्श पर खून से सनी लाश पड़ी थी। मरने वाले की पहचान रूपनारायण सिंह (60 वर्ष) निवासी पूरब टोला के रूप में हुई है। यह घटना उस समय हुई जब रूपनारायण बाबा भयहरण थान के स्टाेर रूम में साेए थे। केयरटेकर की प|ी सरिता देवी ने पड़ाेसी व उसके परिवार के चार लाेगाें पर हत्या की प्राथमिकी दर्ज करायी है। उन्होंने अाराेप लगाया है कि पड़ाेसी व उसके बेट ने गुरुवार शाम काे उनके पति काे धमकी दी थी अाैर रात में हत्या कर दी।

डाॅग स्क्वॉयड और एफएसएल की टीम ने की जांच

ग्रामीणाें की सूचना पर सिटी डीएसपी राजवंश सिंह, जीराेमाइल थानेदार राजरतन प्रसाद, सबाैर थानेदार अजय कुमार अजनबी माैके पर पहुंचे और पूरे मामले की जांच की। डाॅग स्क्वॉयड और एफएसएल की टीम काे भी बुलाया गया। खाेजी कुत्तों ने मंदिर परिसर से दूर एक बगीचे में एक जाेड़ी चप्पल खाेजी है। एफएसएल की टीम ने कमरे व शव की जांच की। सरिता देवी ने पड़ाेसी रामप्रसाद उर्फ लुखड़ा, उसकी प|ी चंपा देवी, बेटे अमरजीत उर्फ अमर ज्याेति अाैर राहुल कुमार पर हत्या का अाराेप लगाकर एफअाईअार कराई है। सरिता देवी ने पुलिस काे बताया कि गुरुवार की शाम उनके पति काे रामप्रसाद अाैर उसके बेटे ने हत्या की धमकी दी थी। एक साल पहले उसकी बहन अनिता देवी के बड़े बेटे सचिन ने रामप्रसाद की बेटी रश्मि से प्रेम विवाह कर लिया था। उसके बाद से रामप्रसाद उसका दुश्मन बन गया था। सुल्तानगंज के नारायणपुर का सचिन उसके यहां रहकर ही पॉलीटेक्निक की पढ़ाई करता था। रामप्रसाद ने जीराेमाइल थाने में उसके पति व परिवार के अन्य लाेगाें के खिलाफ अपहरण का केस किया था। इसके बाद से ही दाेनाें परिवाराें ने तनाव था। इसी रंजिश में उसके पति की हत्या कर दी गई है। -पढ़ें|पेज 2

घटना के बाद पड़ाेसी परिवार के साथ फरार

रूपनारायण की बेटी ने बताया कि 20 फरवरी काे भी रामप्रसाद व उसके बेटे ने उसके पिता काे मंिदर जाकर धमकाया था। पुलिस की जांच में खुलासा हुअा है कि कातिल मंदिर की दीवार फांदकर अंदर गया था। घटना के बाद से रामप्रसाद पूरे परिवार के साथ फरार है। वह सबाैर के एक स्कूल में एमडीएम बनाता है।

रूपनारायण सिंह की फाइल फाेटाे।

X

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना