• Hindi News
  • Local
  • Bihar
  • Bhagalpur
  • Bhagalpur News thousands of vehicles stuck in a 50 km jam from jagdishpur to nh 31 on makandpur patients were suffering in ambulances

जगदीशपुर से एनएच 31 पर मकंदपुर तक 50 किमी जाम में फंसे हजारों वाहन, एंबुलेंस में तड़पते रहे मरीज

Bhagalpur News - भास्कर न्यूज | नवगछिया/जगदीशपुर मोकामा पुल की मरम्मत के कारण भारी वाहनों का आवागमन बंद होने से एनएच 31 पर पिछले 21...

Nov 11, 2019, 06:45 AM IST
भास्कर न्यूज | नवगछिया/जगदीशपुर

मोकामा पुल की मरम्मत के कारण भारी वाहनों का आवागमन बंद होने से एनएच 31 पर पिछले 21 दिनों से भीषण जाम लग रहा है। वहीं रविवार को दुमका-जगदीशपुर मार्ग पर भी भीषण जाम लग गया। आलम यह था कि जगदीशपुर से बायपास होते हुए विक्रमशिला पुल और एनएच 31 पर मकंदपुर तक 50 किमी की दूरी में हजारों वाहन चार घंटे तक जाम में फंसे रहे। इस दौरान जगदगीपुर में टूटा पुल के पास जाम में दो एंबुलेंस फंस गई। इसमें मायागंज अस्पताल ले जाए जा रहे मरीज दर्द से तड़ते रहे। गनीमत रही कि कोई अनहोनी नहीं हुई। विक्रमशिला पुल की ब्रांच सड़क तेतरी जहान्वी चौक एवं बिहपुर तेतरी 14 नंबर सड़क भी जाम की चपेट में था। पुल पर जाम कारण आम लोगों को नवगछिया से भागलपुर जाने में चार घंटे लगे। वहीं जगदीशपुर से भागलपुर आने में तीन घंटे लग गए। पुलिस का कहना है कि वाहनों के दबाव बढ़ने और चालकों ओवरटेक करने के चक्कर में जाम लग रहा है।

एंबुलेंस से जा रहे जाम में फंसे रजौन के गुरुदेव यादव।

विक्रमशिला पुल पर जाम में फंसे कुछ वहनों से उतर यात्री पैदल गए भागलपुर

घंटों जाम में वाहनों के फंसे रहने के कारण पुल पर उतर कुछ यात्री पैदल ही भागलपुर गए। बिहपुर के देवानंद कुमार, लक्ष्मी देवी, रूपेश कुमार ने बताया कि वे लोग सुबह दस बजे भगालपुर के लिए निकले थे। भागलपुर आने में हमलोगों को तीन बज गए। जाम के कारण नवगछिया अनुमंडल अस्पताल जांच करने आ रही केंद्रीय टीम भी घंटो तक जाम में फंसी रही। जाम में केंद्रीय टीम दो बजे के आसपास नवगछिया अनुमंडल अस्पताल जांच के लिए पहुंची।

भागलपुर-दुमका मार्ग पर पैदल चलना भी था मुश्किल

दुमका-भागलपुर मुख्य मार्ग पर रविवार को भी लगा रहा भीषण जाम। जाम में कई एंबुलेंस फंसे रहे जिसमें मरीज तड़पते रहे। रजौन भुसिया के मरीज गुरुदेव यादव के परिजनों ने बताया कि रजौन हॉस्पिटल से सुबह 8 बजे मायागंज हॉस्पिटल के लिए रेफर किया गया था, लेकिन दोपहर एक बजे तक आधे रास्ते में ही फंसे हुए हैं। मरीज की हालत खराब होती जा रही है। वहीं पुरैनी के मरीज मोहम्मद शाहरुख की एंबुलेंस रास्ते में दोपहर तक फंसी रही। इसके साथ ही कई यात्री वाहन घंटों से जाम में फंसे हुए थे जिसके यात्री भूख प्यास से परेशान नजर आ रहे थे। आए दिन इस जाम से स्कूली बच्चे परेशान रहते हैं। समय से दो-तीन घंटे लेट स्कूल पहुंचते है। बता दें कि जब से बायपास चालू हुआ है और जगदीशपुर से नो एंट्री प्वाइंट हटा लिया गया है तब से प्रतिदिन इस मार्ग का जाम लग रहा है।

जगदीशपुर में पुरैनी के मरीज को लेकर जा रही जाम में फंसी एंबुंलेंस।

इधर, अकबरनगर शाहकुंड मार्ग पर भी चार घंटे लगा जाम

अकबरनगर।
इधर, अकबरनगर -शाहकुंड मार्ग पर भी जाम लग गया। यात्री चार घंटे तक जाम में फंसे रहे। अकबरनगर में भारी संख्या में बड़ी गाड़ियों का आवागमन शुरू होने के कारण प्रतिदिन जाम लगता है। जाम के कारण सड़क के दोनों ओर वाहनों की लंबी कतार लग गयी। वही दूसरी ओर अकबरनगर चौक से पूर्व की ओर भवनाथपुर तक व पश्चिम की ओर इंग्लिश चिचरौन तक जाम में वाहन फंसे रहे। प्रशासन एवं ग्रामीणों ने काफी मशक्कत के बाद जाम को हटाने की कोशिश की। लेकिन परिचालन शुरू करवाने के बाद पूर्वी केबिन का फाटक बंद होने से पुनः जाम लग गया।

X

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना