--Advertisement--

हादसा / बाढ़ और पोखर में डूब जाने से दो बच्चियों समेत तीन की चली गई जान



घोघा. मृत बच्ची की मां और नानी। घोघा. मृत बच्ची की मां और नानी।
  • सोनम खेलते-खेलते घर के पीछे बाढ़ के पानी में चली गई और डूब गई
Danik Bhaskar | Sep 16, 2018, 01:55 PM IST

नवगछिया/ कहलगांव/ घोघा.  बाढ़ और पोखर में डूबने से शनिवार को दो बच्चियों समेत तीन की मौत हो गई। नवगछिया के कदवा कंचनपुर में संदीप साह की बेटी सोनम कुमारी (5 वर्ष) घर के पीछे खेल रही थी। खेलते-खेलते वह घर के पीछे बाढ़ के पानी में चली गई और डूब गई। जब मां पिंकी देवी तीन बजे बर्तन साफ करने घर के पीछे चापाकल पर गई तो सोनम का शव पानी में उपलाते देखा।

 

इकलौती संतान थी सोनम
इसके बाद पिंकी देवी ने शोर मचाया और फिर शव को निकाला गया। सोनम अपने माता-पिता की इकलौती संतान थी। उधर, कहलगांव के सदानंदपुर वैसा में टूरो दास का बेटा नीतू कुमार (20 वर्ष) शौच करने गया और पैर फिसलने से पोखर में डूब गया।

 

काफी देर बाद भी जब वह वापस नहीं आया तो परिजन उसे खोजते हुए पोखर की ओर गए। लोगों ने उसका चप्पल वहां देखा। इसके बाद पोखर में तलाश शुरू की गई। कुछ देर बाद उसका शव मिला। वह कहलगांव में मजदूरी करता था और शुक्रवार को अपने घर नंदलालपुर से भाई विकास दास के ससुराल आया था।

 

मां के पास खेलते-खेलते पानी में डूब गई पुष्पा
घोघा पैरूनगर के गुलशन मंडल की बेटी पुष्पा कुमारी (2 वर्ष) शनिवार की दोपहर अपनी मां के पास खेल रही थी। उसकी मां नवीना देवी वहीं पर बाढ़ के पानी में कपड़ा साफ कर रही थी। वहीं पर पुष्पा पानी में गिर गई।

 

कुछ देर बाद जब मां ने बेटी को नहीं देखा तो उसकी खोजबीन शुरू की। डूबने की आशंका होने पर उसने परिजनों को इसकी सूचना दी। इसके बाद ग्रामीण पहुंचे और बाढ़ के पानी से उसके शव को निकाला।

--Advertisement--