विज्ञापन

पांचवें दिन भी सुल्तानगंज में शुरू नहीं हुई जलापूर्ति

Dainik Bhaskar

Feb 14, 2019, 05:31 AM IST

Bhagalpur News - शहर में पांचवे दिन बुधवार को भी जलापूर्ति शुरू नहीं हो सकी। इससे लोगों में आक्रोश गहराता जा रहा है। हलांकि पीएचईडी...

Sultanganj News - water supply not started in sultanganj on fifth day
  • comment
शहर में पांचवे दिन बुधवार को भी जलापूर्ति शुरू नहीं हो सकी। इससे लोगों में आक्रोश गहराता जा रहा है। हलांकि पीएचईडी के अधिकारी मजदूरों के साथ दिनभर टंकी के पास लीकेज पाइप दुरूस्त कराने में जुटे रहे। पीएचईडी के जेई हालांकि सिंह बोरिंग के लीकेज मेन पाइन को बदलकर दुरूस्त कर लेने का दावा किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि गुरुवार की सुबह से शहर को पानी की आपूर्ति की जाएगी। जेई ने बताया कि बार-बार आ रही लीकेज की समस्या को दूर कर दिया गया है। इधर, उपभोक्ताओं की मानें तो शाम सवा पांच बजे के करीब बमुश्किल दस मिनट पानी की सप्लाई शहर में हुई। लेकिन नल के टोटी से गंदा व कचरा युक्त पानी निकलने के कारण लोग उसका उपयोग नहीं कर पाए। लोगों ने बताया कि लगातार पांच दिन से पानी की आपूर्ति बंद होने से हमें परेशानी हो रही है। लोग जार बंद पानी खरीदकर अपनी प्यास बुझाने को विवश हैं। शहर के उपभोक्ताओं का कहना है कि गुरुवार को जलापूर्ति शुरू नहीं हुई तो वे आंदोलन को बाध्य होंगे।

सुल्तानगंज में जलमीनार के पास लीकेज पाइप ठीक करते मैकेनिक।

पानी की सप्लाई में हो रही धांधली रिकॉर्ड मेंटेन नहीं कर रहा है विभाग

पीएचईडी द्वारा जलमीनार से शहर को पानी सप्लाई देने का रिकॉर्ड मेंटेन नहीं किया जा रहा है। इसका खुलासा तब हुआ, जब बुधवार को शहर के कुछ युवा लीकेज पाइप मेंटेन देखने मौके पर जुटे। युवाओं ने जब सप्लाई रिकॉर्ड पंजी की मांग की तो कर्मी ने पहले एतराज जताया। फिर जब पंजी उपलब्ध कराया गया तो उसमें बीते साल के 25 अगस्त तक ही रिकॉर्ड मेंटेन की गई थी। युवाओं ने बताया कि शहर को कम समयावधि पानी सप्लाई देकर कर्मी विभाग को कुछ और रिपोर्ट समर्पित कर रहा है। इस कारण यहां की जलापूर्ति की समस्या विभाग के आला अधिकारी तक नहीं पहुंच पाता है। विभागीय कर्मचारी ने नया रिकॉर्ड पंजी उपलब्ध नहीं होने की बात कहते हुए पल्ला झाड़ लिया।

X
Sultanganj News - water supply not started in sultanganj on fifth day
COMMENT
Astrology

Recommended

Click to listen..
विज्ञापन
विज्ञापन
एप में पढ़ें