दस फरवरी तक आईएम एंड आईविल की थीम पर कैंसर जागरुकता अभियान

Bihar Sharif News - जिले भर में विश्व कैंसर दिवस के अवसर पर मंगलवार से कैंसर जागरुकता सप्ताह की शुरुआत की गयी। यह 10 फरवरी तक पूरे जिले...

Feb 05, 2020, 07:00 AM IST
Bihar Sharif News - cancer awareness campaign on the theme of im amp iv by 10 february

जिले भर में विश्व कैंसर दिवस के अवसर पर मंगलवार से कैंसर जागरुकता सप्ताह की शुरुआत की गयी। यह 10 फरवरी तक पूरे जिले में चलेगा। आई एम एंड आई विल के थीम पर इस वर्ष विश्व कैंसर दिवस मनाया जा रहा है। पहले दिन सदर अस्पताल के गैर संचारी रोग विभाग में नि:शुल्क कैंसर परामर्श शिविर का आयोजन किया गया जो एक सप्ताह तक चलेगा। इस मौके पर सीएस डाॅ. राम सिंह ने कहा कि कैंसर एक जानलेवा बीमारी है। जिले के सभी प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र, उप स्वास्थ्य केन्द्र और हेल्थ एंड वेलनेस सेंटर पर 4 से 10 फरवरी तक नि:शुल्क जांच एवं परामर्श शिविर चलेगा। उन्होंने कहा कि देश में हर साल करीब 1.5 करोड़ लोग किसी एक प्रकार के कैंसर से प्रभावित होते हैं। जिसका मुख्य कारण लोगों की बिगड़ती जीवनशैली है। जीवनशैली में सुधार और कैंसर के प्रति जागरुकता से ही इस रोग से बचाव संभव है।

ये लक्षण मिलते ही लें डाक्टर की सलाह

{शरीर के किसी अंग में असामन्य सूजन।

{तिल या मस्सों के आकार या रंग में परिवर्तन।

{लगातार बुखार या वजन में कमी।

{घाव का लंबे समय से नहीं भरना।

{4 हफ्ते से अधिक समय तक अकारण दर्द।

{मूत्र विसर्जन में कठिनाई या दर्द।

{शौच से रक्त निकलना।

{स्तन में सूजन या कड़ापन

3 सप्ताह से अधिक। {लगातार खांसी या आवाज का कर्कश होना।

ये हैं बचाव के उपाय


{ध्रूमपान एवं तम्बाकू का सेवन न करें।

{भोजन में फ़ल एवं सब्जियों का अधिक उपयोग।

{शरीर के वजन को संतुलित रखना।

{नियमित शारीरिक व्यायाम।

इस तरह के कैंसर से होती हैं सबसे अधिक मौतें

जिला गैर संचारी रोग पदाधिकारी डाॅ. राम मोहन सहाय ने बताया कि सर्वाधिक मौत पुरुषों में मुंह, फेफड़े, पेट और महिलाओं में ब्रेस्ट, मुंह, सर्विक्स, लंग्स और गैस्ट्रिक कैंसर से होता है। जिले में चलने वाले विशेष शिविर में आने वाले लोगों के कैंसर की जांच की जायेगी।

बताए जाएंगे लक्ष्ण और पहचान के कारण: शिविर में लोगों को कुछ सामान्य तरह के कैंसर जैसे ब्रेस्ट, मुंह का कैंसर आदि के संभावित कारण, लक्षण और बचाव के तरीके बताये जायेंगे। यदि इस तरह का लक्षण पाया गया तो संबंधित मरीज को महावीर कैंसर अस्पताल पटना, इंदिरा गांधी आर्युविज्ञान संस्थान, पीएमसीएची और एम्स में रेफर किया जायेगा।कैंसर का मुख्य कारण तंबाकूकैंसर का मुख्य कारण तंबाकू है। डा. सहाय ने बताया कि इससे 22 प्रतिशत कैंसर रोगियों की मौत होती है। लोगों को धुम्रपान और तम्बाकू से बचना चाहिए। कैसर का लक्षण मिलते ही तत्काल इलाज के लिए डाक्टर की सलाह जरूरी है। इस मौके पर अपर मुख्य चिकित्सा पदाधिकारी अवधेश कुमार, केयर के जितेन्द्र मिश्रा के अलावा डब्ल्यूएचओ और स्वास्थ्य विभाग के पदाधिकारी उपस्थित थे।

137 लोगों की स्क्रीनिंग में 11 मरीजों में पाया गया कैंसर के लक्षण

विश्व कैंसर दिवस पर जिले के सभी स्वास्थ्य केद्रों पर विशेष शिविर लगाकर स्क्रीनिंग किया गया। हालांकि चिकित्सकों की कमी के कारण ओपीडी में ही कैंसर से संबंधित मरीजों का स्क्रीनिंग किया जा रहा है। पहले दिन 137 मरीजों की स्क्रीनिंग की गयी। जिसमें 11 लोगों में कैंसर के संकेत मिले। गैर संचारी रोग पदाधिकारी ने बताया कि पहले दिन ओरल कैंसर का 102, ब्रेस्ट कैंसर का 25 एवं सरवाईकल कैंसर के 10 मरीजों का स्क्रिनिंग किया गया है। जिसमें 1 मरीज में ब्रेस्ट कैंसर के लक्षण पाए गए हैं तथा 10 मरीज में सर्वाईकल कैंसर के इंफेक्शन दिखा है। उन्होंने कहा कि सभी मरीजों पर नजर रखी जा रही है।

सभी पीएचसी पर होगा नि:शुल्क कैंसर परामर्श शिविर का आयोजन, देश में हर साल करीब 1.5 करोड़ लोग किसी एक प्रकार के कैंसर से प्रभावित होते हैं, जीवनशैली में सुधार करना जरूरी

मरीजों की स्क्रीनिंग करते चिकित्सक।

X
Bihar Sharif News - cancer awareness campaign on the theme of im amp iv by 10 february

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना