खनन से तटबंध को नुकसान बता किसानों का हंगामा, खनन पदाधिकारी की पिटाई

Bihar Sharif News - बिंद थाना अंतर्गत उतरथू बालू घाट के समीप ग्रामीणों की भीड़ ने रविवार को बालू उठाव का विरोध करते हुए धंधेबाजों को...

Nov 11, 2019, 06:56 AM IST
बिंद थाना अंतर्गत उतरथू बालू घाट के समीप ग्रामीणों की भीड़ ने रविवार को बालू उठाव का विरोध करते हुए धंधेबाजों को खदेड़ दिया। इसके बाद धंधेबाजों की ओर से फायरिंग की गई। जिससे भगदड़ मच गई। इस दौरान पूर्व से मौजूद खनन पदाधिकारी की पिटाई कर दी गई। विभाग के अन्य पदाधिकारी और कर्मी मौके से भाग खड़े हुए। सूचना के बाद एसडीओ, डीएसपी कई थानों की पुलिस के साथ पहुंच गए। कई दिनों से ग्रामीण बालू खनन से तटबंध को नुकसान बता, उठाव का विरोध कर रहे थे। इसी सूचना पर खनन पदाधिकारी मौके पर जांच के लिए आए थे। पुलिस अग्रतर कार्रवाई में जुटी है।

बाढ़ी की विभीषिका से फूटा आक्रोश

आक्रोशित ग्रामीणों ने बताया कि इस साल वे लोग बाढ़ की विभीषिका झेल चुके हैं। सैकड़ों एक की फसल बाढ़ में नष्ट हो गई। अवैध खनन के कारण तटबंधों को नुकसान हुआ है। जिससे इलाके में बाढ़ की स्थिति बनी। एक साल से वे लोग प्रशासन से घाट को बंद करने की गुहार लगा रहे थे। थाने में लिखित शिकायत भी की गई है। घाट के अलावा रैयती खेत से उठाव होता है। धंधेबाजों ने खेत में लिंक रोड बना दिया है। लिंक रोड बंद किए जाने से आक्रोशित धंधेबाजों द्वारा गोलबारी की गई।

बिन्द मे लोगों को समझाते एसडीओ और डीएसपी।

अधिकारी चढ़ गए भीड़ के हत्थे | खनन पदाधिकारी ग्रामीणों के शिकायत की जांच के लिए गए थे। उसी दौरान हंगामा होने लगा। धंधेबाजों द्वारा की गई फायरिंग से भगदड़ मच गई। इधर, उग्र भीड़ ने खनन पदाधिकारी को पकड़, उनकी पिटाई कर दी। उनके चालक व अन्य कर्मी मौके से भाग खड़े हुए। किसी तरह अधिकारी भिड़ के हाथ से बचकर निकले।

हंगामा के बाद बालू घाट बना छावनी | हंगामा की सूचना के बाद एसडीओ जेपी अग्रवाल, डीएसपी इमरान परवेज, सीओ राजीव रंजन पाठक, बिंद, अस्थावां, रहुई सारे थाना की पुलिस की अलावा प्रखंड प्रमुख पति ललित महतो मौके पर आ गए। इसके बाद उठाव पर रोक लगा दिया गया।

कार्रवाई में जुटी पुलिस | एसडीओ ने बताया कि पुलिस को फायरिंग करने वाले बदमाशों की पहचान कर उन पर कार्रवाई का निर्देश दिया गया है। तत्काल उठाव बंद करा दिया गया है। थानाध्यक्ष राकेश कुमार ने बताया कि पुलिस कार्रवाई में जुट गई है। खनन पदाधिकारी किसानों के आरोपों की जांच करने आए थे। उसी दौरान हंगामा हुआ।

पुलिस का अवैध खनन से इनकार | पुलिस अवैध खनन से इंकार कर रही है। पदाधिकारी ने बताया कि घाट अवैध नहीं है। ग्रामीण तटबंध को नुकसान का आरोप लगा खनन का विरोध कर रहे हैं। वहीं, ग्रामीणों ने बताया कि धंधेबाज उनके रैयती खेतों से भी उठाव कर रहे हैं। खेत में रास्ता बना दिया गया है। रास्ता बंद करने से बौखलाए धंधेबाजों ने फायरिंग की।

X

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना