• Hindi News
  • Bihar
  • Bihar Sharif
  • Rhui News tension prevailed on the second day in the nagar nausa police station then tension prevailed in the village of ganesh

नगरनौसा थाने में दूसरे दिन पसरा रहा सन्नाटा, तो गणेश के गांव में तनाव व्याप्त

Bihar Sharif News - सिटी रिपोर्टर | नगरनौसा हिलसा नगरनौसा थाने में गुरुवार को हिरासत में हुई मौत के बाद शुक्रवार को हुए बवाल का असर...

Bhaskar News Network

Jul 14, 2019, 08:55 AM IST
Rhui News - tension prevailed on the second day in the nagar nausa police station then tension prevailed in the village of ganesh
सिटी रिपोर्टर | नगरनौसा हिलसा

नगरनौसा थाने में गुरुवार को हिरासत में हुई मौत के बाद शुक्रवार को हुए बवाल का असर शनिवार को भी दिखा । थाने में सन्नाटा पसरा रहा तो मृतक के गांव में तनावपूर्ण मातमी माहौल रहा, प्रशासन किसी हंगामे को सहमा और अलर्ट मोड में रहा। थानेदार पर कार्रवाई की मांग करते हुए भीड़ ने शुक्रवार को थाना का घेराव कर सड़क पर आगजनी करते हुए रोड़ेबाजी की थी। इस मामले में शनिवार को दारोगा तेजनारायण राय ने 150 अज्ञात पर उपद्रव का केस दर्ज किया है। आरोपों में दारोगा ने बताया है कि गणेश रविदास की मौत के विरोध में मृतक के गांव के ग्रामीणों ने थाना गेट के समीप जाम लगा कर हंगामा किया। समझाने का प्रयास करने पर भीड़ ने पुलिस बल पर जान मारने की नीयत से ईंट पत्थर चलाए। घटना में रहुई, नूरसराय थानाध्यक्ष जख्मी हुए। थानेदार की गिरफ्तारी के बाद नगर थाना के दारोगा सुनील कुमार राजवंशी ने थानाध्यक्ष का पद्भार ग्रहण किया।

थाना परिसर में पसरा सन्नाटा

थानाध्यक्ष कमलेश कुमार दारोगा वलिंद्र राय एवं चौकीदार संजय पासवान पर की गई कार्रवाई से थाना परिसर में शनिवार कि भी सन्नाटा पसरा रहा। कोई भी बाहरी लोग थाना नही पहुंचा। पुलिसकर्मियों के चेहरे पर भी तनाव दिखा। किसी से बातचीत से बचते दिखे। थाना में महिला पुलिसकर्मी भी तैनात दिखी। हालांकि पुलिस काफी सतर्क दिखी।

हिलसा कोर्ट में पेेशी के लिए जाती लड़की।

मातम लेकिन आक्रोश

मृतक गणेश रविदास की हिरासत में मौत के बाद पूरा गांव में मातम का माहौल है। लेकिन लोग काफी आक्रोशित है। ग्रामीणों का कहना है कि मृतक काफ़ी मिलनसार व मृदुल स्वभाव के थे । घटना को लेकर लोग बातचीत के दौरान काफी आक्रोश जता रहे। लोगों में लाठी चार्ज को लेकर भी काफी नाराजगी है। गांव के चौक चौराहों पर लोग इसी घटना की चर्चा कर रहे हैं।

शोकसभा आयोजित

प्रखंड जदयू कार्यालय में शनिवार को प्रखंड के पार्टी नेताओं व कार्यकर्ताओं ने दो मिनट का मौन धारण कर मृतक के आत्मा के शांति के लिए ईश्वर से प्रार्थना की । बीजेपी के प्रखंड अध्यक्ष सतीश कुमार एवं जदयू युवा प्रखंड अध्यक्ष ममता देवी ने घटना पर दुःख व्यक्त किया है।

कोर्ट में बोली लड़की- नही हुआ था अपहरण

हिलसा | इस मामले में गणेश रविदास रविदास को नाहक ही जान गंवानी पड़ी। यदि पुलिस सही तरीके जांच करती तो शायद गणेश को नाहक जान नही गंवानी पड़ती। ऐसे में सवाल उठ रहा है कि क्या पुलिस की दवाब में काम कर रही थी। क्योंकि जिस लड़की के कथित अपहरण में उसे थाने लाकर टार्चर किया उस लड़की न ए न कोर्ट में हाजिर होकर कह दिया कि उसका अपहरण ही नही हुआ। अधिवक्ता के माध्यम से कोर्ट पहंची लड़की का बयान दर्ज कराने नगरनौसा थाना से मामले के आईओ हिलसा पहुंचे। उनके आवेदन पर प्रथम श्रेणी न्यायिक दंडाधिकारी सिकंदर पासवान के समक्ष लड़की ने बयान दर्ज कराई। बंद कमरे में युवती का बयान दर्ज कराया गया। युवती के अधिवक्ता रंजीत कुमार ने बताया कि न्यायालय के समक्ष लड़की ने बयान दिया है कि उसे कोई कहीं ले गया था। करीब एक माह पहले वह खुद चेन्नई चल गई थी। चेन्नई में उसे पता चला कि थाना में केस हो गया तो वह कोर्ट में हाजिर हुई है। हालांकि वह अब कहां जाएगी इस सवाल पर उसने उम्र जांच के बाद जवाब देने की बात कही। कोर्ट ने मामले के अनुसंधानक को लड़की का मेडिकल करवाकर उपस्थित करने का आदेश दिया है। अनुसंधानक लड़की को मेडिकके लिए बिहारशरीफ़ ले गए । बता दें कि लड़की के घर से भाग जाने के बाद परिवारवालों द्वारा नगरनौसा थाना में अपहरण की एफआईआर दर्ज करायी गयी। एफआईआर के आधार पर पुलिस एक महादलित दम्पत्ति को गिरफ्तार कर कोर्ट में हाजिर किया था जो अभी न्यायिक अभिरक्षा में हिलसा उपकारा में बंद हैं। इसी मामले में पूछताछ के लिए जदयू नेता गणेश रविदास को पुलिस ने हिरासत में लिया था।

फॉरेंसिक टीम ने की जांच

थाना परिसर के जिस शौचालय में पुलिस जदयू नेता के आत्महत्या का दावा कर रही है उसकी जांच के लिए शनिवार को पुनः फोरेंसिक टीम पहुंची। विधि विज्ञान प्रयोगशाला पटना के प्रभारी निदेशक के साथ पांच सदस्यीय टीम नगरनौसा थाना पहुंच घटनास्थल पर जाकर बारीकी से जांच की। जांच के दौरान इंच टेप, स्केल, माप तौल, वीडियोग्राफी, घटना से सम्बंधित फोटोग्राफी ,आत्महत्या के लिए कथित रूप से दौरान प्रयोग की गई रस्सी की मापी आदि की गई।

जांच के लिए सबूत ले गए

बिहारशरीफ से एससी- एसटी थानाध्यक्ष नीलकमल भी थाना पहुंचे। वह मृतक का कपड़ा जो ब्लू रंग का फूलपैंट, चॉकलेट कलर गोल गला का टीशर्ट था को जांच के लिए अपने साथ ले गए। मौके पर एसपी नीलेश कुमार , डीएसपी मुफ्तिफ़ अहमद भी थे।

सदमे में है पूरा परिवार

मृतक जदयू नेता गणेश रविदास पांच भाई थे। ये तीसरे नंबर पर थे। उमेश रविदास, महेश रविदास, नरेश रविदास, राम सिंह रविदास सहित पूरा परिवार गहरे सदमे में है।

तीन पुत्र व चार पुत्री का है भरा पूरा परिवार

इंका भरा-पूरा परिवार बिलख रहा है। पुत्र बलराम रविदास, ,पटना में किराए के घर मे रहकर मजदूरी करता है। मंझले पुत्र बालबीर कुमार भी पटना में पटना में किराए के घर मे रहकर मजदूरीकरता है। छोटा पुत्र प्रेमचंद अविवाहित है। मृतक गणेश रविदास इधर उधर काम कर अपना जीवन यापन करता था। मृतक के पिता का नाम देवानन्द रविदास अभी जीवित है।

X
Rhui News - tension prevailed on the second day in the nagar nausa police station then tension prevailed in the village of ganesh
COMMENT