सत्ता में भागीदारी नहीं मिलने से पिछड़ रहे धोबी

Bihar Sharif News - अखिल भारतीय धोबी महासंघ का जिला सम्मेलन स्थानीय सम्राट अशोक भवन में रविवार को हुई। सम्मेलन का उद्घाटन एसडीओ संजय...

Bhaskar News Network

Nov 11, 2019, 09:56 AM IST
Rajgir News - washermen falling behind due to lack of participation in power
अखिल भारतीय धोबी महासंघ का जिला सम्मेलन स्थानीय सम्राट अशोक भवन में रविवार को हुई। सम्मेलन का उद्घाटन एसडीओ संजय कुमार एवं पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष प्रह्लाद रजक ने संयुक्त रूप से किया। इस अवसर पर प्रदेश अध्यक्ष श्री रजक ने कहा कि धोबी समाज आर्थिक रूप से काफी कमजोर है। समाज को सत्ता में भागीदारी नहीं मिलने से यह समाज पिछड़ता जा रहा है। उन्होंने कहा कि हक और अधिकार के लिए धोबी समाज को एकजुट होना होगा। इसके लिए 26 अप्रैल 2020 को पटना के गांधी मैदान में धोबी महासंघ द्वारा महारैली का आयोजन किया गया है। जिसमें अधिक से अधिक संख्या में भाग लेकर एकजुटता का परिचय दें। उन्होंने कहा कि अब समाज जाग गया है। उन्होंने कहा कि धोबी समाज को जब तक सरकार आर्थिक, शैक्षणिक एवं राजनीतिक रूप से सुदृढ़ नहीं करेगी तब तक मांग पर डटे रहेंगे। उन्होंने कहा कि समाज का हर व्यक्ति वर्तमान व्यवस्था से परेशान है। विगत दिनों में समाज पर सामाजिक उत्पीड़न में वृद्धि हुई है।

ये हैं इनकी प्रमुख मांगें

सत्ता में उचित भागीदारी, पंचायतों में धोबी घाट का निर्माण कराने, राजगीर के अधूरे धोबी घाट का निर्माण कार्य पूरा करने राजगीर में धोबी समाज के धर्मशाला के लिए भूमि आवंटन करने, समाज के वृद्धों के लिए वृद्धा पेंशन, न्यूनतम दर पर ऋण मुहैया कराने, संविधान के अनुसार आरक्षण की पुरानी व्यवस्था लागू करने की मांग की है।

राजगीर मंे सम्मेलन मे शामिल लोग।

सिटी रिपोर्टर| राजगीर

अखिल भारतीय धोबी महासंघ का जिला सम्मेलन स्थानीय सम्राट अशोक भवन में रविवार को हुई। सम्मेलन का उद्घाटन एसडीओ संजय कुमार एवं पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष प्रह्लाद रजक ने संयुक्त रूप से किया। इस अवसर पर प्रदेश अध्यक्ष श्री रजक ने कहा कि धोबी समाज आर्थिक रूप से काफी कमजोर है। समाज को सत्ता में भागीदारी नहीं मिलने से यह समाज पिछड़ता जा रहा है। उन्होंने कहा कि हक और अधिकार के लिए धोबी समाज को एकजुट होना होगा। इसके लिए 26 अप्रैल 2020 को पटना के गांधी मैदान में धोबी महासंघ द्वारा महारैली का आयोजन किया गया है। जिसमें अधिक से अधिक संख्या में भाग लेकर एकजुटता का परिचय दें। उन्होंने कहा कि अब समाज जाग गया है। उन्होंने कहा कि धोबी समाज को जब तक सरकार आर्थिक, शैक्षणिक एवं राजनीतिक रूप से सुदृढ़ नहीं करेगी तब तक मांग पर डटे रहेंगे। उन्होंने कहा कि समाज का हर व्यक्ति वर्तमान व्यवस्था से परेशान है। विगत दिनों में समाज पर सामाजिक उत्पीड़न में वृद्धि हुई है।

ये हैं इनकी प्रमुख मांगें

सत्ता में उचित भागीदारी, पंचायतों में धोबी घाट का निर्माण कराने, राजगीर के अधूरे धोबी घाट का निर्माण कार्य पूरा करने राजगीर में धोबी समाज के धर्मशाला के लिए भूमि आवंटन करने, समाज के वृद्धों के लिए वृद्धा पेंशन, न्यूनतम दर पर ऋण मुहैया कराने, संविधान के अनुसार आरक्षण की पुरानी व्यवस्था लागू करने की मांग की है।

सांस्कृतिक कार्यक्रम का भी किया गया आयोजन

इस अवसर पर सांस्कृती कार्यक्रम का आयोजन किया गया। शंकर रजक के नेतृत्व में ज्योती कुमारी और श्रेया कुमारी ने कथक नृत्य की रंगारंग प्रस्तुति दी। इस अवसर पर दोनों को महासंघ की ओर से समानित किया गया। स मौके पर महासचिव देवेंद्र रजक, कोषाध्यक्ष सुरेश रजक, विनोद रजक, प्रदेश नेता आशीष रंजन रजक, नंद किशोर रजक, श्रवण कुमार, वार्ड पार्षद उमेश रजक, साबो देवी, मनोज रजक, मनोहर रजक, संजय रजक, अजय रजक, राजेश रजक, बलराम रजक, पार्वती कुमारी आदि उपस्थित थे।

X
Rajgir News - washermen falling behind due to lack of participation in power
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना