आवास योजना के तहत सभी प्रखंडों में बने 10 सर्वश्रेष्ठ अावास होंगे पुरस्कृत : डीएम

Buxar News - कलेक्ट्रेट सभागार में सोमवार को जिला समन्वय समिति की बैठक संपन्न हुई। जिसमें डीएम राघवेंद्र सिंह ने विभिन्न...

Sep 17, 2019, 07:11 AM IST
कलेक्ट्रेट सभागार में सोमवार को जिला समन्वय समिति की बैठक संपन्न हुई। जिसमें डीएम राघवेंद्र सिंह ने विभिन्न विभागों के कार्यों की समीक्षा की। सर्वप्रथम उन्होंने प्रधानमंत्री आवास योजना की प्रगति पर चर्चा की। उन्होंने जिले में शहरी और ग्रामीण क्षेत्रों में अब तक हुई प्रगति पर असंतोष जताया। साथ ही, इसमें तेजी लाने के लिए संबंधित अधिकारियों को निर्देश दिया। कहा कि आवास सहायक प्रतिदिन भ्रमण कर संधारित पंजी में प्रत्येक आवास निर्माण से संबंधित गतिविधि दर्ज कराएं। प्रत्येक प्रखंड से 10 सर्वश्रेष्ठ प्रधानमंत्री आवास योजना से बने मकान, एक सर्वश्रेष्ठ पूर्ण गली-नली योजना व हर घर नल का जल योजना का चयन किया जाएगा। ताकि, उन्हें पुरस्कृत किया जा सके। साथ ही, सात निश्चय एवं अन्य योजनाओं के लिए चयनित भूमि पर एनओसी देने के लिए सभी सीओ अपने संबंधित अंचल में कैंप लगाए। डीएम ने बताया कि जिले में मतदाता सूची की अद्यतीकरण का कार्य चल रहा है। इस कार्य में सभी बीएलओ को सक्रिय रुप से कार्य करना है। बैठक में एडीएम चंद्रशेखर झा, डीडीसी अरविंद कुमार, सिविल सर्जन डॉ उषा किरण, सदर एसडीओ केके उपाध्याय, डुमरांव एसडीओ हरेंद्र राम समेत जिला स्तरीय पदाधिकारी, बीडीओ, सीओ व कर्मी उपस्थित थे।

समनवाय समिति की बैठक करते डीएम।

जिले के अपात्र लाभुकों का रद्द होगा राशन कार्ड

आरटीपीसीएस काउंटरों पर तय समय सीमा से अधिक लंबित मामलों पर डीएम ने नाराजगी जताई। उन्होंने सभी सीओ को अविलंब तय समय सीमा के अंदर मामलों का निष्पादन करने का निर्देश दिया। साथ ही, अपात्र लाभुकों का राशन कार्ड रद्द करते हुए योग्य व्यक्तियों को राशन कार्ड उपलब्ध कराई जाए। जिले में जल जीवन हरियाली कार्यक्रम हेतु व्यापक जन जागरूकता अभियान चलाया जाएगा। इसके लिए दीवाल लेखन, पेंटिंग, होर्डिंग लगाए जाएंगे। साथ ही नुक्कड़ नाटक के माध्यम से ग्रामस्तर पर समुदाय को जागरूक किया जाएगा। प्रखंड व जिलास्तर पर कार्य शालाओं का भी आयोजन होगा। इसके अलावा वैकल्पिक फसलों जैविक खेती व नई तकनीकों का उपयोग करने के लिए प्रेरित करने हेतु विशेष कार्यशाला का आयोजन किया जाएगा।

बैठक में शामिल सभी विभागों के अधिकारी व कर्मी।

पंचायत स्तर पर फ्रंटलाइन वर्कर को प्रतिनियुक्त किया जाएगा

गंगा के बढ़ते जलस्तर को देखते हुए डीएम ने सभी प्रशासनिक तैयारी पूर्ण रखते हुए सजग रहने का निर्देश दिया। बैठक में जिला पंचायती राज पदाधिकारी नवनील कुमार ने बताया कि ग्रामीण स्तर पर ग्राम पंचायत विकास कार्यक्रम बनाया जाना है। इसके लिए पंचायत स्तर पर फ्रंटलाइन वर्कर को प्रतिनियुक्त किया जाएगा। कल्याण विभाग कृषि विभाग पंचायती राज विभाग एवं अन्य विभागों के पंचायत स्तरीय कर्मियों को ग्राम पंचायत योजना की विस्तार से जानकारी दी जाएगी। ताकि इसका व्यापक प्रचार-प्रसार किया जा सके। डीएम ने जिले में जाम व अतिक्रमण की समस्या पर चर्चा की। कहा कि जिले के सभी सड़कों को पूर्ण रूप से अतिक्रमण मुक्त कराया जाए। इसके लिए सभी सीओ मुख्य सड़क बाजार आदि पर विशेष नजर रखें। वहीं, पथ निर्माण विभाग जिले में बारिश के कारण जर्जर हो चुकी सड़कों को जल्द दुरुस्त कराएं। शहरी सड़कों का चौड़ीकरण एवं मजबूती करण किया जाएगा। इस कार्य के लिए 20 फीट से चौड़ी सड़कों का पुनर्निर्माण पथ निर्माण विभाग के द्वारा किया जाएगा।

X

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना