तेतरहर में बना चापाकल का चबूतरा महज 48 घंटे के अंदर टूटकर बर्बाद

Buxar News - सिकरौल पंचायत के वार्ड 13 में पीएचईडी द्वारा चापाकल चबूतरा का निर्माण किये महज 48 घंटे भी नहीं बीते कि वह टूटकर...

Bhaskar News Network

Sep 14, 2019, 09:01 AM IST
Nawanagr News - chapakal39s platform in tetharhar was broken and ruined within just 48 hours
सिकरौल पंचायत के वार्ड 13 में पीएचईडी द्वारा चापाकल चबूतरा का निर्माण किये महज 48 घंटे भी नहीं बीते कि वह टूटकर बर्बाद हो गया। ताज्जूब यह कि चबूतरा का निर्माण किस योजना से कितने की लगत में हुआ यह किसी को मालूम ही नहीं है। क्योंकि वहां किसी भी तरह का शिलापट्ट नहीं लगाया गया है। चबूतरा टूटने से ग्रामीणों में विभाग के प्रति आक्रोश व्याप्त है। ग्रामीणों ने बताया कि जून माह में पेयजल संकट गहराने के बाद सरकारी चापाकल की जिला प्रशासन से मांग किया गया था। जिसे लगाने के लिए उन्होंने विभाग के कई दफे चक्कर लगाने पड़े थे। तब जाकर प्रक्रिया शुरू हुई। पर विभाग के मिस्त्री द्वारा चापाकल लगाने के बाद चबूतरा का निर्माण नहीं कराया गया। जिसकी शिकायत उन्होंने विभाग से किया था। शिकायत के बाद चबूतरा का निर्माण हुआ। पर 48 घंटे बाद टूटकर बर्बाद हो गया। ग्रामीण सुरेन्द्र बिंद, अखिलेश बिंद, नगेन्द्र बिंद, सोमारू बिंद, नवरंग बिंद ने बताया कि चबूतरा निर्माण के लिए मिट्टी की जगह घूर-राख का प्रयोग किया गया है। जिससे चबूतरा टिकाऊ नहीं हो सका। कहा यह विभाग की लापरवाही का देन है। इस संबंध में विभाग कार्यपालक अभियंता परमानंद प्रसाद ने बताया कि हाल फिलहाल विभाग द्वारा चापाकल का कोई कार्य नहीं किया गया है। टूटे चबूतरा की जानकारी लेकर जल्द मरम्मत किया जायेगा।

बनने के कुछ दिन बाद टुटा चबूतरा।

X
Nawanagr News - chapakal39s platform in tetharhar was broken and ruined within just 48 hours
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना