• Hindi News
  • Bihar
  • Buxar
  • Buxar News seven sureties will now gain momentum in panchayats the government gave rs 4864 crore

पंचायतों में सात निश्चय को अब मिलेगी गति, सरकार ने दिए 48.64 करोड़ रुपये

Buxar News - मुख्यमंत्री के प्राथमिकता सूची में शामिल सात निश्चय योजनाओं की गति में तेजी आयेगी। पंचायती राज विभाग ने जिले के 142...

Nov 11, 2019, 07:01 AM IST
मुख्यमंत्री के प्राथमिकता सूची में शामिल सात निश्चय योजनाओं की गति में तेजी आयेगी। पंचायती राज विभाग ने जिले के 142 पंचायतों में इसके लिये राशि की स्वीकृति दे दी है। जिसके जरिये योजनाओं के धीमे कार्यान्वयन को तेज किया जाएगा। विभाग ने बक्सर जिले के लिये 1142 गांवों के लिये कुल 48 करोड़ 63 लाख 99 हजार 971 रुपये की स्वीकृति दी है। जिसे विभिन्न योजनाओं पर खर्च किया जाएगा। विभागीय सूत्रों के अनुसार सात निश्चय योजना में सरकार का पूरा फोकस ग्रामीण इलाकों में हर घर नल का जल तथा गली-नली पक्कीकरण पर है। पंचायतों में विभिन्न एजेंसियों के द्वारा कराए जा रहे निर्माण की डेड लाइन तय कर दी गई है। जिले में 31 दिसंबर तक सभी पंचायतों में पेयजल निश्चय योजनाएं पूरा करनी है। वहीं, वार्डों में चल रहे गली-नाली पक्कीकरण निश्चय योजना को पूरा करने के लिये अगले वर्ष 31 मार्च तक का समय दिया गया है। इस संबंध में पंचायती राज विभाग के अनुश्रवण संयुक्त निदेशक ब्रजनंदन प्रसाद ने लेटर जारी किया है। जिसमें तय सीमा के अंदर योजनाओं को पूरा करने का निर्देश दिया गया है।

बक्सर के 16 पंचायतों में खर्च होंगे 5.25 करोड़ रुपये : जिसके बाद से पूरा प्रशासनिक महकमा योजनाओं को जल्द से जल्द पूरा कराने की तैयारी में जुट गया है। सबसे अधिक खराब स्थिति उन प्रखंडों की है जहां पहले किस्त की राशि तो निकल गई, लेकिन उसके अनुरूप काम नहीं हुये। पत्र में संयुक्त निदेशक ने बताया है कि 14वें वित्त आयोग की अनुशंसा के तहत चालू वित्तीय वर्ष (2019-20) में केंद्र से प्राप्त इस राशि की 80 फीसदी मुख्यमंत्री ग्रामीण पेयजल निश्चय योजना और मुख्यमंत्री ग्रामीण गली-नाली पक्कीकरण निश्चय योजना पर खर्च होगा।

सितंबर माह में बक्सर का परफॉर्मेंस सबसे खराब

राज्य सरकार ने बिहार विकास मिशन को सात निश्चय योजनाअाें की प्रगति जांचने और उसकी समेकित रिपोर्ट तैयार करने की जिम्मेवारी दी है। इस क्रम में बिहार विकास मिशन सूबे के सभी जिलों में चल रही सात निश्चय योजनाओं की अगल-अलग समीक्षा कर उसके अंक देता है। फिर सभी योजनाओं की एक समेकित रिपोर्ट तैयार की जाती है। जिसके आधार पर जिलों की रैंकिंग तय की जाती है। सितंबर माह की रैंकिंग में भी बक्सर में कुछ अधिक सुधार नहीं हो सका। रिपोर्ट कार्ड के अनुसार सितंबर माह में बक्सर को आठवां रैंक मिला था। ग्रामीण क्षेत्र में हर घर नल का जल योजना में बक्सर को 51.5 अंक मिले थे। वहीं, ग्रामीण क्षेत्र के घर तक पक्की गली-नली योजना में 84.8 अंक मिले थे। हालांकि, शौचालय निर्माण में बक्सर जिले की स्थिति कुछ बेहतर है। इसमें बक्सर को 98.2 अंक प्राप्त हुये थे। लेकिन, समेकित रिपोर्ट में खासा प्रगति नहीं हो सकी।

बिहार विकास मिशन के रिपोर्ट कार्ड में बक्सर की स्थिति ठीक नहीं

पेयजल निश्चय योजनाएं 31 दिसंबर, तो गली-नाली पक्कीकरण योजनाएं 31 मार्च तक करनी है पूरी

डुमरांव के 16 पंचायतों के लिये स्वीकृत हुई 5.29 करोड़ की राशि | चौगाईं के पांच पंचायतों में एक करोड़ 77 लाख 94 लाख 364 रुपये, चौसा प्रखंड के 10 पंचायतों के लिये तीन करोड़ 24 लाख 53 हजार, 529 रुपये, डुमरांव के 16 पंचायतों के लिये पांच करोड़ 28 लाख 66 हजार 723 रुपये, इटाड़ी के 15 पंचायतों के लिये पांच करोड़ 16 लाख 24 हजार 20 रुपये व केसठ के तीन पंचायतों के लिये एक करोड़ 21 लाख 72 हजार 445 रुपये स्वीकृत किये गये हैं। इनके अलावा नावानगर के 16 पंचायतों में पांच करोड़ 31 लाख 60 हजार 82 रुपये, राजपुर के 19 पंचायतों में छह करोड़ 37 लाख 30 हजार 759 रुपये तथा सिमरी के 20 पंचायतों में पांच करोड़ 99 लाख 98 हजार 551 रुपये खर्च होने हैं। इसके अलावा विभाग ने डीडीसी को यह दायित्व दिया है कि पंचायतों के लिये स्वीकृत राशि व आवंटित राशि का उपयोगिता प्रमाण पत्र के साथ-साथ योजनाओं की भौतिक प्रगति रिपोर्ट विभाग को सौंपे।

X

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना