दबंगों ने बंद करा दी सब्जी की दुकान पुलिस ने कहा-हम कुछ नहीं कर सकते

Buxar News - जिले में अपराधियों का बोलबाला इतना बढ़ गया है कि उनके डर से गरीब व बेबस परिवार के निवाले पर आफत आन पड़ी है। ऐसा ही एक...

Bhaskar News Network

Nov 11, 2019, 07:01 AM IST
Buxar News - the bullies closed the vegetable shop the police said we can not do anything
जिले में अपराधियों का बोलबाला इतना बढ़ गया है कि उनके डर से गरीब व बेबस परिवार के निवाले पर आफत आन पड़ी है। ऐसा ही एक घटना शहर के तुरहा टोली निवासी दुर्गा प्रसाद के साथ घटित हुई है। दुर्गा प्रसाद व उनके तीन बेटे शहर के अलग-अलग स्थानों पर फुटपाथ किनारे सब्जी की बेचकर गुजारा करते थे। लेकिन, दंबगों ने डरा-धमाकर उनकी सभी सब्जियों की दुकान बंद करा दी है। जब उन्होंने दोबारा दुकान खोलने की कोशिश की, तो बदमाशों ने उनसे व बेटों के साथ मारपीट की। मारपीट की घटना में दुर्गा प्रसाद के बेटे विक्रम के सिर में गंभीर चोट लगी। जिसके बाद पुलिस ने लिखित शिकायत पर बजरंगी तुरहा, विक्रम तुरहा, सोनू तुरहा, मुन्ना तुरहा समेत 20 लोगों पर नामजद प्राथमिकी दर्ज की। लेकिन, जब दबंगों को पता चला कि उनके खिलाफ थाने में शिकायत की गई है, तब उन्होंने दोबारा दुर्गा के घर जाकर जान से मारने की धमकी दी। अब आलम यह है कि दबंगों की इस ज्यादती से पूरा परिवार सदमे में है।

दो माह से बंद हैं दुकानें, खाने को लाले

पिछले दो डेढ़ माह से उनकी दुकानें नहीं खुली है। जिसके कारण घर में खाने के लिये अनाज का दाना नहीं बचा है। दूसरी ओर, लचर पुलिसिया कार्रवाई पीड़ित परिवार के लिये मुसिबत का सबब बना है। न्याय के लिये वह कभी मॉडल थाना, तो कभी एसपी ऑफिस कस चक्कर काट रहे हैं। जब उन्हें कहीं से न्याय नहीं मिलता दिखा, तब उन्होंने डीजीपी गुप्तेश्वर पांडेय से न्याय के लिये गुहार लगाई। उन्होंने डीजीपी को सारी बातों से अवगत कराया और दबंगों पर कार्रवाई करने की मांग की। लेकिन, वहां से भी उन्हें अब तक कोई जवाब नहीं मिला।

क्राइम रिपोर्टर|बक्सर

जिले में अपराधियों का बोलबाला इतना बढ़ गया है कि उनके डर से गरीब व बेबस परिवार के निवाले पर आफत आन पड़ी है। ऐसा ही एक घटना शहर के तुरहा टोली निवासी दुर्गा प्रसाद के साथ घटित हुई है। दुर्गा प्रसाद व उनके तीन बेटे शहर के अलग-अलग स्थानों पर फुटपाथ किनारे सब्जी की बेचकर गुजारा करते थे। लेकिन, दंबगों ने डरा-धमाकर उनकी सभी सब्जियों की दुकान बंद करा दी है। जब उन्होंने दोबारा दुकान खोलने की कोशिश की, तो बदमाशों ने उनसे व बेटों के साथ मारपीट की। मारपीट की घटना में दुर्गा प्रसाद के बेटे विक्रम के सिर में गंभीर चोट लगी। जिसके बाद पुलिस ने लिखित शिकायत पर बजरंगी तुरहा, विक्रम तुरहा, सोनू तुरहा, मुन्ना तुरहा समेत 20 लोगों पर नामजद प्राथमिकी दर्ज की। लेकिन, जब दबंगों को पता चला कि उनके खिलाफ थाने में शिकायत की गई है, तब उन्होंने दोबारा दुर्गा के घर जाकर जान से मारने की धमकी दी। अब आलम यह है कि दबंगों की इस ज्यादती से पूरा परिवार सदमे में है।

X
Buxar News - the bullies closed the vegetable shop the police said we can not do anything
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना