थम गया चुनावी शोर, प्रत्याशियों ने अंतिम दिन झोंकी पूरी ताकत, कल पड़ेगे वोट

Buxar News - लोकसभा चुनाव के तहत शुक्रवार की शाम पांच बजे के बाद चुनावी प्रचार-प्रसार का शोर थम गया है। इस अवधि के बाद जिले में...

Bhaskar News Network

May 18, 2019, 07:10 AM IST
Buxar News - voted electoral noise candidates will take full strength in the last day tomorrow will vote
लोकसभा चुनाव के तहत शुक्रवार की शाम पांच बजे के बाद चुनावी प्रचार-प्रसार का शोर थम गया है। इस अवधि के बाद जिले में मतदान कार्य समाप्ति तक धारा-144 लागू कर दी गई। जिसके बाद नेताओं द्वारा सभा किया जाना, रोड शो या जनसंपर्क अभियान पर पूरी तरह रोक लगा दी गई। चुनाव प्रचार का शोर थमने से आम मतदाता राहत की सांस ली। वहीं अधिकारियों एवं कर्मचारियों द्वारा सभा, जुलूस, रोड शो आदि को लेकर किए जाने वाले सुरक्षा व्यवस्था एवं अन्य प्रकार के टेंशन से थोड़ी राहत मिली। बक्सर लोस सीट के लिए रविवार को यानि 19 मई को सातवें चरण में वोट डाले जाएंगे। बक्सर लोकसभा क्षेत्र में कुल 1856 मतदान केंद्र हैं। इनमें 283 बूथ कैमूर व 308 बूथ रोहतास जिले के शामिल है। वहीं, बक्सर जिले के चार विधान सभा क्षेत्र में कुल 1265 मतदान केंद्र हैं। जिन पर कुल 1819076 मतदाता 15 प्रत्याशियों के लिए वोट डालेंगे। प्रत्येक बूथों पर एक पीठासीन पदाधिकारी समेत तीन-तीन मतदान पदाधिकारी प्रतिनियुक्त किए गए हैं। सभी मतदान दलों के लिए शुक्रवार को विधान सभा वार सामग्री का वितरण किया गया।

वोट के लिए आज रवाना होंगी पोलिंग पार्टियां, वितरित की गई मतदान सामग्री

बाजार समिति परिसर में खड़े वाहन

न सभाएं हाेगी और न ही विज्ञापन, नाटक भी प्रतिबंधित

निर्वाचन आयोग ने यह भी स्पष्ट किया है कि मतदान समाप्त होने के पूर्व के 48 घंटों के दौरान उम्मीदवारों या राजनैतिक दलों द्वारा जनसाधारण को आकर्षित करने की दृष्टि से किसी संगीत गोष्ठी, नाट्य अभिनय या अन्य मनोरंजन आमोद-प्रमोद का आयोजन करके अथवा आयोजन की व्यवस्था करके निर्वाचन संबंधी प्रचार नहीं किया जा सकेगा। आयोग ने चेतावनी भी दी है कि यदि इन प्रतिबंधों का उल्लंघन किसी व्यक्ति द्वारा किया जाता है तो उसके विरुद्घ वैधानिक कार्रवाई की जायेगी और उसे दो वर्ष के कारावास या जुर्माने की अथवा दोनों की सजा से एक साथ दण्डित किया जा सकेगा। भारत निर्वाचन आयोग ने 17 मई की शाम 6 बजे से मोबाइल पर थोक में भेजे जाने वाले राजनैतिक एसएमएस और वॉइस मैसेज को भी प्रतिबंधित कर दिया है।

प्रतिबंधात्मक आदेश जारी, उल्लंघन पर होगी कार्रवाई

दण्ड प्रक्रिया संहिता की धारा 144 के तहत जिला दंडाधिकारी द्वारा लोकसभा निर्वाचन की प्रक्रिया के दौरान जिले में कानून एवं शांति व्यवस्था बनाए रखने तथा निर्विघ्न, स्वतंत्र और भयमुक्त मतदान सम्पन्न कराने के साथ ही मतदान से पूर्व जिले के बाहर से असामाजिक तत्वों द्वारा जिले में प्रवेश कर गड़बड़ी फैलाने की आशंका को रोकने के उद्देश्य से प्रतिबंधात्मक आदेश जारी किया गया है। 17 मई की शाम 6 बजे से मतदान समाप्ति तक सार्वजनिक स्थान पर पांच से अधिक व्यक्ति एक साथ एकत्र नहीं हो सकेंगे और आवाजाही नहीं कर सकेंगे। मृत्यु, विवाह आदि सामाजिक प्रयोजनों पर यह आदेश लागू नहीं होगा। इसके अलावा अगले 48 घंटों तक जिले के बाहर के लोगों को निर्वाचन क्षेत्रों को हर हाल में छोड़ देना है।

निर्वाचन क्षेत्र में बिना कारण नहीं रुक सकते हैं बाहर के लोग : अभ्यर्थी या राजनैतिक दलों द्वारा मतदान समाप्ति तक मतदाताओं के लिए सामुदायिक रसोई घर की व्यवस्था नहीं की जा सकेगी। 17 मई की शाम 6 बजे से 19 मई को मतदान की समाप्ति तक किसी भी होटल, आहार गृह अथवा किसी सार्वजनिक या निजी स्थान में कोई भी स्पिरिट युक्त या मादक लिकर या ऐसी ही प्रकृति के अन्य पदार्थ के विक्रय करने, परोसने और वितरित करने को भी प्रतिबंधित कर दिया गया है। साथ ही, होटल, लॉज, धर्मशाला, सराय, अतिथि गृह अथवा किसी भवन या मकान मालिक को 17 मई की शाम 6 बजे के बाद बाहर से आकर ठहरने वाले हर व्यक्ति के नाम, पता सहित उसके आने के उद्देश्य की जानकारी संबंधित क्षेत्र के पुलिस थाना को देना होगी।

X
Buxar News - voted electoral noise candidates will take full strength in the last day tomorrow will vote
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना