एकमा के केसरी बाजार की चार दुकानों में लगी आग, पांच लाख की संपत्ति राख

Chhapra News - स्थानीय थाना क्षेत्र के केसरी बाजार के चार दुकानों को मंगलवार की रात असमाजिक तत्वों ने फूंक दिया। जिसमें करीब...

Dec 05, 2019, 06:10 AM IST
स्थानीय थाना क्षेत्र के केसरी बाजार के चार दुकानों को मंगलवार की रात असमाजिक तत्वों ने फूंक दिया। जिसमें करीब पांच लाख की संपति जलकर राख हो गई। इस मामले में दुकानदारों ने अज्ञात बदमाशों के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराई है। पुलिस मामले की छानबीन में जुटी है। आग लगाने के पीछे आपसी गुटों में वर्चस्व की लड़ाई बताया जा रहा है। यहां बता दें कि दो दिन पूर्व एक स्कार्पियो दुकान के सामने से चोरी हो गई थी। पुलिस इस आधार पर भी घटना की जांच कर रही है। कई दुकानदारों और आस-पास के लोगों से पूछताछ की गई।

फायर ब्रिगेड पहुंचने से पहले ही राख हो गई दुकानें

जानकारी के अनुसार रोज की तरह मंगलवार को भी दुकानदार अपनी दुकान बंद कर घर चले गये थे । रात के समय असमाजिक तत्वों ने चारों दुकान को आग के हवाले कर दिया। इसकी खबर मिलते ही रात में आस-पास के लोग और दुकानदार भी जुटे। फायर ब्रिगेड को सूचना दी गई लेकिन तब तक सबकुछ जल चुका था। मुखिया मदन सिंह,सरपंच पति शिवनाथ राय नारद बाबा,श्री भगवन राय,विनोद प्रसाद मुन्ना प्रसाद,प्रिंस ने बताया कि आग लगते ही बुझाने की काफी कोशिश की गई लेकिन लपटें इतनी तेज थी कि जलकर राख हो गया। घटना को लेकर इस बाजार के दुकानदारों में चिंता व्याप्त है। दुकानदारों का कहना है कि इस बाजार पर वे लोग भले ही व्यवसाय कर रहे है लेकिन उन्हें हमेशा ही डर बना रहता है। इस बाजार पर पहले भी कई बार चोरी की घटना हो चुकी है। पीड़ित दुकानदारों का आरोप है कि उनके दुकान में पुरानी रंजिश के तहत ही आग लगाई गई होगी। हालांकि एफआईआर में भी किसी व्यक्ति को नामजद अभियुक्त नहीं बनाया गया है।

दो दिन पहले दुकान के सामने से हुई थी स्काॅर्पियो की चोरी, पूछताछ जारी

एकमा में जलती दुकानें।

सिटी रिपोर्टर| एकमा

स्थानीय थाना क्षेत्र के केसरी बाजार के चार दुकानों को मंगलवार की रात असमाजिक तत्वों ने फूंक दिया। जिसमें करीब पांच लाख की संपति जलकर राख हो गई। इस मामले में दुकानदारों ने अज्ञात बदमाशों के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराई है। पुलिस मामले की छानबीन में जुटी है। आग लगाने के पीछे आपसी गुटों में वर्चस्व की लड़ाई बताया जा रहा है। यहां बता दें कि दो दिन पूर्व एक स्कार्पियो दुकान के सामने से चोरी हो गई थी। पुलिस इस आधार पर भी घटना की जांच कर रही है। कई दुकानदारों और आस-पास के लोगों से पूछताछ की गई।

फायर ब्रिगेड पहुंचने से पहले ही राख हो गई दुकानें

जानकारी के अनुसार रोज की तरह मंगलवार को भी दुकानदार अपनी दुकान बंद कर घर चले गये थे । रात के समय असमाजिक तत्वों ने चारों दुकान को आग के हवाले कर दिया। इसकी खबर मिलते ही रात में आस-पास के लोग और दुकानदार भी जुटे। फायर ब्रिगेड को सूचना दी गई लेकिन तब तक सबकुछ जल चुका था। मुखिया मदन सिंह,सरपंच पति शिवनाथ राय नारद बाबा,श्री भगवन राय,विनोद प्रसाद मुन्ना प्रसाद,प्रिंस ने बताया कि आग लगते ही बुझाने की काफी कोशिश की गई लेकिन लपटें इतनी तेज थी कि जलकर राख हो गया। घटना को लेकर इस बाजार के दुकानदारों में चिंता व्याप्त है। दुकानदारों का कहना है कि इस बाजार पर वे लोग भले ही व्यवसाय कर रहे है लेकिन उन्हें हमेशा ही डर बना रहता है। इस बाजार पर पहले भी कई बार चोरी की घटना हो चुकी है। पीड़ित दुकानदारों का आरोप है कि उनके दुकान में पुरानी रंजिश के तहत ही आग लगाई गई होगी। हालांकि एफआईआर में भी किसी व्यक्ति को नामजद अभियुक्त नहीं बनाया गया है।

एकमा में दुकान जलने के बाद बचा अवशेष।

इनकी जली दुकान

जिनकी दुकान जली है उसमें मुख्य रूप से सत्येन्द्र गिरी के हार्डवेयर दुकान,राजेश्वर शर्मा के साइकिल दुकान,दरोगा मियां के रजाई के दुकान,भोला ठाकुर के सैलून शामिल है। थाना प्रभारी दिनेश कुमार दास ने बताया की आवेदन के आधार पर प्राथमिकी दर्ज कर ली गई है। जांच चल रही है पहचान कर कार्रवाई किया जायेगा।

हर बिंदु की जा रही जांच

जिस चार दुकान में आग लगाई गई है, उसी जगह से दो दिन पूर्व उसी गांव के एक व्यक्ति का स्कार्पियो चोरी हो गई थी। कुछ लोगों ने इस घटना से भी जोड़कर पुलिस को बताया है। पुलिस इस बिन्दु पर भी जांच पड़ताल कर रही है।

बदमाशों की पहचान की जा रही, जल्द होगा खुलासा


X

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना