• Hindi News
  • Rajya
  • Bihar
  • Chhapra
  • Chhapra News there was no plan to build model anganwadi in rural areas sadar cdpo changed the picture of 10 centers with public support

ग्रामीण क्षेत्रों में मॉडल आंगनबाड़ी बनाने के लिए नहीं थी योजना सदर सीडीपीओ ने जन-सहयोग से बदल दी 10 केंद्रों की तस्वीर

Chhapra News - संसाधनों की कमी बेहतर परिणाम प्राप्त करने में बाधक मानी जाती है। लेकिन यदि समाज में कुछ बेहतर करने की ललक हो तो...

Bhaskar News Network

Sep 14, 2019, 07:18 AM IST
Chhapra News - there was no plan to build model anganwadi in rural areas sadar cdpo changed the picture of 10 centers with public support
संसाधनों की कमी बेहतर परिणाम प्राप्त करने में बाधक मानी जाती है। लेकिन यदि समाज में कुछ बेहतर करने की ललक हो तो संसाधनों की कमी बाधक नहीं होती। सुनियोजित प्रयास एवं लोगों की सहभागिता के सहारे छपरा सदर सीडीपीओ कुमारी उर्वशी ने इसे सच कर दिखाया है। इन्होंने स्थानीय लोगों व सेवानिवृत कर्मियों के साथ मिलकर शहर के दस आंगनबाड़ी केंद्रों की तस्वीर बदल दी है। जिले के दस आंगनबाड़ी केंद्रों को मॉडल केंद्र के रूप में विकसित किया गया है। सरकार सिर्फ ग्रामीण क्षेत्रों के आंगनबाड़ी केंद्रों को मॉडल बनाने के लिए राशि मुहैया करा रही है। लेकिन इन्होंने अपने काफी मेहनत व स्थानीय लोगों के सहयोग से हीं दस आंगनबाड़ी केंद्रों को मॉडल बना दिया है। इनके द्वारा किए गए कार्यों की स्थानीय लोगों व पदाधिकारियों ने काफी सराहना की है।

इस तरह हुआ कार्य

आंगनबाड़ी केंद्रों को मॉडल केंद्र के रूप में विकसित करने के लिए वहां स्थानीय लोग, पढ़ने वाले बच्चों के अभिभावक, सेवानिवृत कर्मी जैसे-शिक्षक, प्रोफेसर, सैनिक व अन्य के साथ बैठक की गयी। जिसमें लोगों के साथ बच्चों के बेहतर भविष्य के बारे में चर्चा की गयी और निर्णय लिया गया कि आंगनबाड़ी केंद्र को मॉडल के रूप में विकसित किया जाये। जिसमें सभी स्थानीय लोगों ने आर्थिक सहयोग कर आंगनबाड़ी केंद्रों को मॉडल बना दिया।

बच्चों को नियमित आंगनबाड़ी में पढ़ने के लिए भेजते हैं, यहां पर साफ-सफाई, पौष्टिक आहार व स्वास्थ्य की दी जाती है जानकारी

मॉडल आंगनबाड़ी केन्द्र

अभिभावकों में बढ़ी रूचि

जिस आंगनबाड़ी केंद्र को मॉडल बनाया गया है। वहां बच्चों की संख्या में वृद्धि हुई है। इसके लिए अभिभावकों में रूचि बढ़ी है। वह अपने-अपने बच्चों को रेगुलर आंगनबाड़ी केंद्रों पर पढ़ने के लिए भेजते हैं। यहां पर बच्चों को पढ़ाई के साथ-साथ साफ-सफाई, पौष्टिक आहार, स्वास्थ्य आदि के बारे में भी जानकारी दी जाती है। वहीं बच्चों को आंगनबाड़ी केंद्रों पर प्रतिदिन पौष्टिक आहार भी दी जाती है।

आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं को भी इससे प्रेरणा लेना चाहिए: जिला कार्यक्रम पदाधिकारी

आईसीडीएस के जिला कार्यक्रम पदाधिकारी वंदना पांडेय ने बताया कि आईसीडीएस और स्थानीय लोगों के सहयोग से यह कार्य किया गया है। इस तरह के कार्य होते रहना चाहिए। बाकी आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं को भी इससे प्रेरणा लेना चाहिए। ताकि एक बेहतर समाज का विकास किया जा सके।

स्थानीय लोगों ने इस कार्य को सफल बनाने में काफी सहयोग किया है: कुमारी उर्वशी

सदर सीडीपीओ कुमारी उर्वशी ने बताया कि स्थानीय लोगों के सहयोग से ही यह कार्य संभव हो पाया है। मुझे डीएम सर से प्रेरणा मिली। जिसके बाद वहां के लोगों से मिलकर बैठक की गयी। वहां के स्थानीय लोगों ने इस कार्य को सफल बनाने में काफी सहयोग किया है। मुझे खुशी है कि मेरे प्रयास से बदलाव हो रहा है। आगे भी इस तरह की कार्य करती रहुंगी।

तरैया,सीडीपीओ कार्यालय

मॉडल आंगनबाड़ी केन्द्र

इन केंद्रों को बनाया गया मॉडल केंद्र


•आंगनबाड़ी केंद्र संख्या- 29 काशी बाजार









मॉडल केंद्र पर क्या हुआ बदलाव

मॉडल केंद्र के रूप में विकसित आंगनबाड़ी केंद्रों पर पहले से बहुत कुछ बदल चुका है। दीवारों को पेंटिंग के माध्यम से आकर्षक रूप में सजाया गया है। बच्चों की बैठने के लिए बेंच-चेयर की सुविधा, शुद्ध पानी, शौचालय, खेलने के लिए झुला आदि की सुविधा मुहैया करायी गयी है। दीवारों पर स्लोगन, छोटा भीम, मोटू-पतलू जैसे आकर्षक पेंटिंग बनायी गयी है। जो बच्चों को खूब भा रहा है। वहीं बच्चों को गुणवत्तापूर्ण शिक्षा प्रदान की जा रही है।

मनमाने तरीके से नियोजन को किया रद्‌द

वार्ड अध्यक्ष का कहना है कि नियोजन रद्द की उसे कोई सूचना नहीं है और न ही ग्रामसभा में इस पर कोई सहमति बनी है। सीडीपीओ ने मनमानी तरीके से जबरन नियोजन को रद्द कर दिया गया है। जिसकी जांच की मांग की है। इस संबंध में सीडीपीओ मीनाक्षी कुमारी ने बताया कि नई मार्गदर्शिका के अनुसार बेटी बहु का कोई जिक्र नहीं है। आवेदिका उस वार्ड की मतदाता होनी चाहिए। मेघा सूची के क्रमांक के अनुसार तमन्ना खातून का ही अधिक अंक है। वह नियोजन के विरुद्ध अपील में गयी थी जिसके आलोक में यह कार्रवाई किया गया है। आरोप बिलुकल गलत है।

सेविका के चयन के एक माह बाद सीडीपीओ ने किया रद्‌द, डीएम से शिकायत की

तरैया| पचभिण्डा पंचायत के वार्ड नम्बर 1 में 10 अगस्त को ग्राम सभा में पर्यवेक्षिका ने साजिया खातून को सेविका के रूप में चयनित करते हुए नियोजन पत्र दिया था। फिर एक माह बाद 11 नवम्बर को सीडीपीओ ने उसे रद्द करते हुए तमन्ना खातून को सेविका का नियोजन पत्र दे दिया। वार्ड अध्यक्ष सैरा खातून व साजिया खातून ने सारण डीएम व समाज कल्याण मंत्री को शिकायत प्रतिवेदन दिया है। जिसमें वार्ड अध्यक्ष ने सीडीपीओ पर आंगनबाड़ी सेविका चयन को बलपूर्वक रद्द करने एवं अयोग्य उम्मीदवार को चयन करने का आरोप लगाया है। वार्ड अध्यक्ष ने कहा कि पूर्व में 10 अगस्त को ग्राम सभा में सर्वसम्मति से यह निर्णय लिया गया कि साजिया खातून गांव की बहु है। जबकि दूसरी दावेदार तमन्ना खातून गांव की बेटी है,इसलिए बहु की ही बहाली किया जाय उस वक्त जब पर्यवेक्षिका ने सीडीपीओ ने मोबाइल पर मार्गदर्शन मांगा तो सीडीपीओ ने कहा कि बहू की ही बहाली की जाए। फिर पर्यवेक्षिका ने बहू साजिया खातून को सेविका का नियोजन पत्र 10 अगस्त को ग्राम सभा में आम सहमति से दे दिया। लेकिन एक माह बाद 11 सितम्बर को उसे सीडीपीओ ने रद्द करते हुए बेटी तमन्ना खातून जो मढ़ौरा थाना के माधोपुर गांव की निवासी है को तरैया के पचभिण्डा पंचायत के वार्ड 01 के लिए सेविका का पुनः नियोजन पत्र समेकित बाल विकास परियोजना कार्यालय में बुलाकर दे दिया।

Chhapra News - there was no plan to build model anganwadi in rural areas sadar cdpo changed the picture of 10 centers with public support
Chhapra News - there was no plan to build model anganwadi in rural areas sadar cdpo changed the picture of 10 centers with public support
Chhapra News - there was no plan to build model anganwadi in rural areas sadar cdpo changed the picture of 10 centers with public support
X
Chhapra News - there was no plan to build model anganwadi in rural areas sadar cdpo changed the picture of 10 centers with public support
Chhapra News - there was no plan to build model anganwadi in rural areas sadar cdpo changed the picture of 10 centers with public support
Chhapra News - there was no plan to build model anganwadi in rural areas sadar cdpo changed the picture of 10 centers with public support
Chhapra News - there was no plan to build model anganwadi in rural areas sadar cdpo changed the picture of 10 centers with public support
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना