• Hindi News
  • Bihar
  • Darbhanga
  • Darbhanga News affiliated college struggle committee fasts for creation of posts of approved teachers from lnmu selection committee

संबद्ध कॉलेज संघर्ष समिति ने एलएनएमयू चयन समिति से अनुमोदित शिक्षकों के पद सृजन को लेकर रखा उपवास

Darbhanga News - संबद्ध कॉलेजों में यूनिवर्सिटी की ओर से गठित चयन समिति के माध्यम से अनुशंसित एवं अनुमोदित सभी शिक्षकों का पद सृजन...

Dec 10, 2019, 07:11 AM IST
Darbhanga News - affiliated college struggle committee fasts for creation of posts of approved teachers from lnmu selection committee
संबद्ध कॉलेजों में यूनिवर्सिटी की ओर से गठित चयन समिति के माध्यम से अनुशंसित एवं अनुमोदित सभी शिक्षकों का पद सृजन करने की मांग लेकर संबद्ध महाविद्यालय संघर्ष समिति की ओर से सोमवार को सामूहिक उपवास लनामिविवि में आयोजित किया गया। डॉ. राम मोहन झा की अध्यक्षता में विवि मुख्यालय के धरना स्थल आयोजित इस कार्यक्रम में बड़ी संख्या में शिक्षक भाग लिए। डॉ. झा ने बताया कि संघर्ष समिति फरवरी से लेकर आज तक पद सृजन की अधिसूचना को लेकर आंदोलन करते रहे हैं। लेकिन,अभी तक पद सृजन की अधिसूचना नहीं की गई है। गत 2 दिसबंर को सिंडिकेट की बैठक में पद सृजन संबंधित प्रस्ताव नहीं देने के कारण विश्वविद्यालय प्रशासन पर शंका होने लगा। अब 13 दिसबंर को आहूत सिंडिकेट की बैठक में पद सृजन संबंधित प्रस्ताव को अनुमोदन कराते हुए 21 दिसंबर को होने वाली सीनेट की बैठक में अनुमोदित कराने की मांग सामूहिक उपवास के माध्यम से कुलपति से करते हैं। कुलपति प्रो. एसके सिंह से 11.30 बजे वार्ता हुई। उन्होंने इस दिशा में अविलंब आवश्यक कार्यवाही करने का आश्वासन दिया।

एलएनएमयू में उपवास पर बैठे शिक्षक नेता व अन्य।

चयन समिति हो चुके शिक्षकों का पद सृजन का काम अत्यंत आवश्यक : डॉ. शंभु नाथ ठाकुर

सीनेट सदस्य डॉ. शंभु नाथ ठाकुर ने कहा कि संबद्ध कॉलेजों में चयन समिति हो चुके शिक्षकों का पद सृजन का काम अत्यंत आवश्यक है। खासकर कुलपति इसके लिए काफी इच्छुक भी हैं। आज की वार्ता से यह स्पष्ट गया कि अब चयन समिति हो चुके शिक्षकों का पद सृजन शीघ्र हो जाएगा। सामूहिक उपवास कार्यक्रम में मौजूद संघर्ष समिति के प्रवक्ता प्रो. अखिल रंजन झा, डॉ. सुरेश राम, डॉ. चंद्र कांत मिश्र, प्रो. अभय कुमार, प्रो.जगदीश मंडल, प्रो. कमलेश कुमार मिश्र, प्रो. वासुदेव साह आदि ने मौके पर अपना विचार रखते हुए विवि के पदाधिकारियों से इसे गंभीरता से लेने की मांग की। कई शिक्षक नेताओं ने बताया कि इस काम के लिए कॉलेज इंस्पेक्टर कला एवं वाणिज्य प्रो. मोहन मिश्र भी काफी सक्रिय हैं। इससे पहले भी पहले चरण में इनके प्रयास से 637 शिक्षकों का पद सृजन हो चुका है। मिथिला विवि ने शिक्षकों के पद सृजन का काम सबसे पहले किया है। इसलिए सभी बधाई के पात्र हैं। अब अगर वंचित शिक्षकों का पद सृजन हो जाता है तो बहुत अच्छा रहेगा। शिक्षक बेवजह संघर्ष नहीं करना चाहते हैं।

X
Darbhanga News - affiliated college struggle committee fasts for creation of posts of approved teachers from lnmu selection committee
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना