• Hindi News
  • Bihar
  • Darbhanga
  • Manigachhi News crowd violence stigma for civilized society no bravery to shed blood of an innocent mental distortion don39t take law into a rumor

सभ्य समाज के लिए भीड़ हिंसा कलंक, किसी निर्दोष का खून बहाना बहादुरी नहीं मानसिक विकृति, अफवाह में कानून को हाथ में नहीं लें

Darbhanga News - भीड़ हिंसा के खिलाफ दैनिक भास्कर के अहिंसात्मक अभियान के तहत गुरुवार को राघोपुर पूर्वी पंचायत के नजरा गांव स्थित...

Dec 06, 2019, 08:15 AM IST
Manigachhi News - crowd violence stigma for civilized society no bravery to shed blood of an innocent mental distortion don39t take law into a rumor
भीड़ हिंसा के खिलाफ दैनिक भास्कर के अहिंसात्मक अभियान के तहत गुरुवार को राघोपुर पूर्वी पंचायत के नजरा गांव स्थित उर्दू मध्य विद्यालय में जागरूकता कार्यक्रम का आयोजन किया गया। इसमें लगभग 250 लोगों ने भाग लिया। इस मौके पर शिक्षकों, बच्चों एवं गणमान्य लोगों ने भीड़ हिंसा के खिलाफ लोगों को जागृति करने का संकल्प लिया। विद्यालय के प्रधानाध्यापक दिलीप कुमार ने कहा कि सभ्य समाज के लिए भीड़ हिंसा कलंक है। बेकसूरों का खून बहाने वाली भीड़ को रोकने के लिए लोगों को अफवाह पर ध्यान नहीं देना चाहिए। संदिग्ध व्यक्ति दिखे तो उसकी सूचना तुरंत पुलिस को दें। राष्ट्रपिता महात्मा गांधी का स्लोगन अहिंसा परम धर्म है ।लेकिन दुख की बात है कि आज के दौर में लोग खासकर युवा वर्ग अफवाह पर विश्वास कर लेते हैं। लोगों को चाहिए कि सत्यता को परखे एवं पुलिस को तुरंत सूचना दें। उन्होंने दैनिक भास्कर के इस अभियान की जमकर तारीफ की। वरीय शिक्षक फिरोज अहमद ने कहा कि सभ्य समाज के लिये यह बहुत घृणित व बहुत शर्मनाक घटना है ।भीड़ में शामिल लोगों को संयम व धैर्य रखकर इस तरह की घटना को रोकने में अपनी बुद्धि व विवेक का इस्तेमाल करना चाहिए ।निरीह का खून बहाना बहादुरी नहीं मानसिक विकृति व दिवालियापन है।

दिन पंचायत शामिल लोग

45 दिन 512 165730

46 वां 06 1400

47 वां 06 1550

48 वां 06 1750

49 वां 07 2450

50 वां 05 1050

51 वां 07 1250

52 वां 09 2900

भीड़ हिंसा को रोकने के लिए दैनिक भास्कर और पंचायतों के अहिंसात्मक अभियान में स्कूल भी जुड़े

मनीगाछी के नजरा स्थित उर्दू मध्य विद्यालय में भीड़ हिंसा के खिलाफ जागरूकता अभियान में शामिल छात्राएं।

बिना कुछ सोचे-समझे अपरिचित व्यक्ति के साथ मारपीट करना बहुत ही गलत : रजी आलम

राघोपुर पूर्वी पंचायत के मुखिया रजी आलम ने कहा कि असामाजिक तत्वों के खिलाफ युवा वर्ग को आगे आकर इस विकृति मानसिकता के खिलाफ लोगों को जागरूक करने की जरूरत है। उन्मादी भीड़ के द्वारा बिना कुछ सोचे समझे अपरिचित के साथ मारपीट करना बहुत ही गलत है। हमलोगों को प्रण लेना चाहिए कि किसी भी निर्दोष को भीड़ का शिकार नहीं होने देंगे। पूर्व मुखिया राजेंद्र राम ने कहा कि सामूहिक उन्माद को रोकने में दैनिक भास्कर की ओर से किया जा प्रयास प्रशंसनीय व सार्थक है। पूर्व पंसस मो. आजाद ने कहा कि अगर कहीं कोई संदिग्ध या अनजान व्यक्ति दिखाई पड़े तो इसकी सूचना पुलिस प्रशासन व जनप्रतिनिधियों को दें। अफवाह के चक्कर में कानून को हाथ में नहीं लें।

किसी को शारीरिक यातना देना घोर अन्याय, रोकना जरूरी : महेंद्र साफी

पंचायत समिति सदस्य महेंद्र साफी ने कहा कि अनजान व्यक्ति भिखारी या विक्षिप्त लोगों को देखकर बिना कुछ उससे पूछे उसे बच्चा चोर,पशु तस्कर या लक्करसुंघा जान कर पिटाई कर देना कानून के विरुद्ध है। ऐसा कर हम कानून की नजर में दोषी बन जाते हैं। साथ ही निर्दोष लोग अफवाह के शिकार हो जाते हैं जो सरासर गलत है। किसी को शारीरिक यातना देना घोर अन्याय है। हमारा संविधान हमें यह अधिकार हरगिज नहीं देता है। मौके पर इमतियाज आलम,ललित नारायण पासवान, रामचन्द्र यादव सहित सभी शिझक व अभिभावक मौजूद थे।

भीड़ हिंसा के खिलाफ जागरूकता अभियान में शामिल देल्ही पब्लिक स्कूल छपकी के बच्चे व शिक्षक(

भीड़ हिंसा समाज के लिए कलंक, शिक्षक, छात्र-छात्राओं ने समाज में जागरूकता अभियान चलाने की शपथ ली

राकेश कुमार|दरभंगा

भीड़ हिंसा के खिलाफ दैनिक भास्कर के अहिंसात्मक अभियान के तहत बुधवार को दिल्ली पब्लिक स्कूल छपकी पड़ड़ी में जागरूकता अभियान का आयोजन किया गया। इस मौके पर शिक्षकों , छात्रों एवं छात्राओं ने भीड़ हिंसा जैसी घटना को निंदनीय बताते हुए इसके लिए समाज में जागरूकता अभियान चलाने की शपथ ली। विद्यालय के निदेशक दीपक सिंह ने कहा कि भीड़ हिंसा हमारे समाज के लिए कलंक है तथा हमें इस हिंसा में कभी भी शामिल नहीं होना चाहिए। लोगों को भी इस हिंसा से बचना चाहिए। श्री सिंह ने कहा कि इस हिंसा में निर्दोष व्यक्ति को निशाना बनाया जाता है जो गलत है। आजकल लोग वास्तविकता जाने भीड़ में शामिल हो जाते हैं यह निंदनीय है।

भीड़ हिंसा समाज के लिए धब्बा : धर्मेंद्र

विद्यालय के प्राचार्य धर्मेंद्र कुमार सिंह ने कहा कि यह समाज के लिए धब्बा है। हमें इस भीड़ हिंसा से बचाना चाहिए। इस कार्य को न करने के लिए समाज में जागरूकता फैलाने की आवश्यकता है। हमें किसी भी व्यक्ति पर संदेह होने पर अविलंब प्रशासन को सूचित करना चाहिए। उन्होंने कहा कि भीड़ हिंसा किसी भी दृष्टिकोण से सही नहीं है। किसी को भी अफवाह के आधार पर दंडित करना कानूनन अपराध है। इस मौके पर विद्यालय के शिक्षक युगेश आनंद, अमन कुमार झा, अजय कुमार, संतोष कुमार, प्रीति झा, श्वेता झा, प्रदीप सिंह, रंजीत श्रीवास्तव आदि ने भीड़ हिंसा के खिलाफ अपना-अपना विचार रखा व समाज को इससे बचने का संदेश दिया।

Manigachhi News - crowd violence stigma for civilized society no bravery to shed blood of an innocent mental distortion don39t take law into a rumor
Manigachhi News - crowd violence stigma for civilized society no bravery to shed blood of an innocent mental distortion don39t take law into a rumor
X
Manigachhi News - crowd violence stigma for civilized society no bravery to shed blood of an innocent mental distortion don39t take law into a rumor
Manigachhi News - crowd violence stigma for civilized society no bravery to shed blood of an innocent mental distortion don39t take law into a rumor
Manigachhi News - crowd violence stigma for civilized society no bravery to shed blood of an innocent mental distortion don39t take law into a rumor
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना