कादिराबाद सरकारी बस डिपो का टिकट काउंटर जर्जर, रोजाना 50 से 70 बसों का होता है परिचालन

Darbhanga News - शहर के कादिराबाद स्थित सरकारी बस डिपो की स्थिति दिनों दिन जर्जर होती जा रही है। इस बस डिपो से रोजाना 50 से 70 बसों का...

Bhaskar News Network

Sep 14, 2019, 07:26 AM IST
Darbhanga News - the ticket counter of the kadirabad government bus depot is dilapidated 50 to 70 buses are operational daily
शहर के कादिराबाद स्थित सरकारी बस डिपो की स्थिति दिनों दिन जर्जर होती जा रही है। इस बस डिपो से रोजाना 50 से 70 बसों का परिचालन होता है। लेकिन प्रशासनिक उदासीनता के चलते यह बस स्टैंड दिन प्रतिदिन अपना अस्तित्व खोता जा रहा है। यहां न सिर्फ यात्रियों की सुविधा का अभाव है बल्कि कर्मियों के लिए भी सुविधा का अभाव है। इस बस डिपो से रोजाना सैकड़ों की संख्या में यात्री यात्रा करते हैं, लेकिन यहां यात्रियों के लिए बैठने तक की व्यवस्था सही से नहीं है। यात्रियों के बैठने के लिए एक भवन का निर्माण कई सालों से किया जा रहा है लेकिन वह अभी तक पूर्ण नहीं हुआ। इसके अलावा पीने की पानी के लिए कहीं एक भी चापाकल तक नजर नहीं आती है। वहीं हल्की सी बरसात में भी डिपो परिसर में जलजमाव हो जाता है जिससे यात्रियों को घुटने भर तक पानी में चलकर बस तक पहुंचना पड़ता। जल निकासी की कोई सुविधा नहीं होने से यह पानी कई दिनों तक परिसर में ही फैला रहता है।

कादिराबाद स्थित सरकारी बस डिपो में जलजमाव।

मूलभूत सुविधाओं का भी है अभाव

डिपो से रोजाना सैकड़ों की संख्या में यात्री सफर करते हैं। लेकिन डिपो में यात्री सुविधाओं का घोर अभाव है। बैठने से लेकर, पानी, शौचालय जैसी मूलभूत सुविधाएं भी इस डिपो से दूर हैं। यात्रियों को धूप, गर्मी या बरसात हो यहां से बस पकड़ने के लिए खुले आसमान के नीचे ही उन्हें इंतजार करना पड़ता है। साथ ही पानी दुकानों से ही खरीद कर पीना पड़ता है।

डिपो की समस्या से विभाग को अवगत करा दिया गया है : क्षेत्रीय प्रबंधक

परिवहन निगम के क्षेत्रीय प्रबंधक शरणानंद झा ने बताया कि डिपो की समस्या से विभाग को अवगत कराया गया है। जल्द ही डिपो में निर्माण कार्य शुरू होगा।

जान जोखिम में डालकर कार्य करने को हैं मजबूर

कादिराबाद स्थित बस डिपो की स्थिति का अंदाजा इस बात से भी लगाया जा सकता है कि जिस टिकट काउंटर से यात्री अपना टिकट लेते हैं वह कभी भी गिर सकता। टिकट काउंटर का कई सालों से टूटे हुए जर्जर भवन में चल रहा है। जिसे कर्मियों ने बांस बल्ले के सहारे टिका कर रखे हुये हैं। भवन की स्थिति ऐसी है कि किसी दिन भी यहां कोई अप्रिय घटना हो सकती है। इसके अलावा इस डिपो का मुख्य कार्यालय भी आजतक खपरे के मकान में ही चल रहा है।

X
Darbhanga News - the ticket counter of the kadirabad government bus depot is dilapidated 50 to 70 buses are operational daily
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना