खसरा व रुबेला से बचाव के लिए शून्य से दो साल के बच्चों का टीकाकरण जरूरी : सिविल सर्जन

Darbhanga News - खसरा व रुबेला बीमारी से बचाव के लिए स्वास्थ्य विभाग का टीका सभी बच्चों दिया जाता है। इस बीमारी से रोकथाम के लिए...

Bhaskar News Network

Sep 14, 2019, 07:27 AM IST
Darbhanga News - vaccination of children from zero to two years necessary to prevent measles and rubella civil surgeon
खसरा व रुबेला बीमारी से बचाव के लिए स्वास्थ्य विभाग का टीका सभी बच्चों दिया जाता है। इस बीमारी से रोकथाम के लिए शून्य से दो साल के 95 प्रतिशत से ज्यादा बच्चों को टीकाकरण की आवश्यकता है। स्वास्थ्य विभाग इसके लिए काफी प्रयास कर रहा है। ये बाते सिविल सर्जन डॉ. एएन झा ने शुक्रवार को खसरा व रुबेला बीमारी को लेकर डीएमसी लेक्चर थिएटर में कार्यशाला के दौरान कहीं। बात दें कि पूरे देश में खसरा व रुबेला बीमारी की रोकथाम के लिए 2023 तक लक्ष्य रखा गया है।

खसरा रूबेला की रोकथाम को लेकर कार्यशाला में पहुंचे लोग।

एएनएम व आशा जानकारी दें : डॉ. एके मिश्रा

जिला प्रतिरक्षण पदाधिकारी डॉ. एके मिश्रा ने कहा कि सभी चिकित्सा पदाधिकारियों से कार्यक्रम को सफल बनाने की अपील की है। उन्होंने सभी प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों पर एएनएम व आशा को इसके बारे में जानकारी देने की बात कही है। जिससे किसी भी क्षेत्र में खसरा व रुबेला बीमारी से ग्रसित बच्चे की पहचान की जा सके। उन्होंने कहा कि वैक्सीन सही से रखें। इसमें सभी पीएचसी के प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी उपस्थित हुए।

खसरा व रुबेला बीमारी पर काबू पाना जरूरी : प्राचार्य

डीएमसी प्राचार्य डॉ. एचएन झा ने कहा जिस तरह से पोलियो की बीमारी पर काबू पाया गया है। उसी तरह से खसरा व रुबेला बीमारी पर काबू पाना जरूरी है। अभी हमारे देश में बहुत सारे बच्चे इस बीमारी से ग्रसित हो रहे हैं। साथ ही गर्भवती को भी खसरा व रुबेला होने का खतरा बना रहता है।

X
Darbhanga News - vaccination of children from zero to two years necessary to prevent measles and rubella civil surgeon
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना