• Hindi News
  • Bihar
  • Gaya
  • Gaya News a case has been registered against the people who were making the boundary on mu39s land

एमयू की जमीन पर बाउंड्री करा रहे लोगों पर केस दर्ज

Gaya News - मगध विवि की खाली पड़े जमीनों पर कई लोगों ने कब्जा कर रखा है। देखरेख के अभाव में ऐसा होता रहा है। इसी क्रम में बुधवार...

Jan 16, 2020, 07:25 AM IST
Gaya News - a case has been registered against the people who were making the boundary on mu39s land
मगध विवि की खाली पड़े जमीनों पर कई लोगों ने कब्जा कर रखा है। देखरेख के अभाव में ऐसा होता रहा है। इसी क्रम में बुधवार को विवि परिसर के दक्षिण दिशा में मोचरिम ग्राम पंचायत के अंतर्गत श्रीपुर ताड़ का जमीन सुदामा कुमार अपने सहयोगियों एवं मजदूरों के द्वारा बाउंड्री करवाते देखे जाने के बाद विवि कुलपति प्रो राजेंद्र प्रसाद ने कड़ा रूख अपनाया व विवि थाना में केस दर्ज करवाया। विवि रजिस्ट्रार प्रो सिद्धनाथ प्रसाद यादव दीन ने बताया कि पुलिस के सहयोग से फिलहाल अतिक्रमण को रुकवा दिया गया है और श्री कुमार को यह कहा गया है कि जब तक उच्च न्यायालय का कोई निर्देश नहीं आ जाता है, तब तक इस पर किसी तरह का निर्माण नहीं होगा। उन्होंने बताया कि परिसर के बाहर सैकड़ों एकड़ खाली पड़ी जमीन पर बरसों से अतिक्रमण होता रहा है। विवि की मूल संपत्ति इन जमीनों को न तो उचित तरीके से प्रबंधन या रखरखाव होता रहा है और न ही इसे अबतक बाउंड्री की गई हैl विवि में पद ग्रहण के तत्पश्चात मगध विवि के कुलपति प्रोफेसर राजेंद्र प्रसाद निरंतर सक्रिय रहे हैं कि विवि में पठन-पाठन के माहौल के साथ-साथ इसके चल अचल संपत्ति सुरक्षित रहें । गैर- कानूनी तरीके से कब्जा किए जा रहे इन जमीनों को भी अतिक्रमण मुक्त भी कराया जाएगा।

विवि की जमीन पर बन रही थी बाउंड्री

इसी क्रम में उच्च न्यायालय के विचाराधीन विवि परिसर के बाहर दक्षिण दिशा में मोचरिम ग्राम पंचायत के अंतर्गत श्रीपुर ताड़ की जमीन पर सुदामा कुमार अपने सहयोगियों एवं मजदूरों के द्वारा बाउंड्री करवाते देखे गए। इसकी जानकारी मिलते ही कुलपति प्रोफेसर राजेंद्र प्रसाद अपने कुछ सहयोगियों, कुलसचिव प्रोफेसर सिद्धनाथ प्रसाद यादव ‘’दीन’’, छात्र अधिष्ठाता प्रोफेसर आरपीएस चौहान, प्रोफेसर भिखारी राम यादव, प्रोफेसर सुशील कुमार, सुशील कुमार सिंह, डॉ पिंटू कुमार, खुर्शीद आलम, सुबोध कुमार इत्यादि के साथ विद्यार्थियों का समूह पहुंचकर पुलिस के सहयोग से फिलहाल अतिक्रमण को रुकवा दिया गया। रजिस्ट्रार ने बताया कि बाउंड्री बनवा रहे लोगों को यह कहा गया कि जब तक उच्च न्यायालय का कोई निर्देश नहीं आ जाता, तब तक इस पर कोई भी निर्माण कार्य नहीं किया जाएl

घटनास्थल पर कुलपति सहित अन्य।

रैयती जमीन पर दावा कर रहा मगध विश्वविद्यालय ः सुदामा

विवादित भूमि के संबंध में सुदामा कुमार ने कहा है कि इसकी खरीद उन्होंने कैलाश मांझी एवं अन्य लोगों से की है। कैलाश मांझी की जमीन गलत ढंग से मगध यूनिवर्सिटी के नाम पर चली गई थी। इसके विरुद्ध कैलाश मांझी ने सक्षम न्यायालय में परिवाद दायर किया था। न्यायालय द्वारा कैलाश मांझी के पक्ष में फैसला हो चुका है। मगध विश्वविद्यालय प्रशासन के पास कोई न्यायिक आदेश नहीं है। ऐसे में कार्य को रोकना गैरकानूनी है

X
Gaya News - a case has been registered against the people who were making the boundary on mu39s land
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना