• Hindi News
  • Bihar
  • Gaya
  • Gaya News chamber of commerce members sent letter to cm on the miserable situation of power supply

बिजली आपूर्ति की दयनीय स्थिति पर चैंबर ऑफ काॅमर्स के सदस्यों ने मुख्यमंत्री को भेजा पत्र

Bhaskar News Network

May 18, 2019, 07:36 AM IST

Gaya News - सेंट्रल बिहार चैंबर ऑफ काॅमर्स ने बिहार सरकार के मुख्यमंत्री को पत्र लिखकर शहर में लचर बिजली आपूर्ति में सुधार की...

Gaya News - chamber of commerce members sent letter to cm on the miserable situation of power supply
सेंट्रल बिहार चैंबर ऑफ काॅमर्स ने बिहार सरकार के मुख्यमंत्री को पत्र लिखकर शहर में लचर बिजली आपूर्ति में सुधार की मांग की है। चैंबर के अध्यक्ष कौशलेन्द्र प्रताप ने अपने पत्र में लिखा है कि भीषण गर्मी में बार-बार बिजली आपूर्ति बाधित होना, वोल्टेज कम अधिक होना परेशानी का कारण बना हुआ है। ऐसा प्रतीत होता है की एसबीपीडीसीएल में कर्मचारियों में कमी और उनमें सामंजस्य का अभाव है। विभाग में ट्रांसफार्मर और अन्य उपकरणों की कमी है और विभाग के उच्चाधिकारियों की ओर से समय-समय पर निरीक्षण व नियंत्रण नहीं किया जा रहा है जिससे समस्या बन रही है। श्री प्रताप ने लिखा है कि पिछले कुछ माह पूर्व जब निजी कंपनी से व्यवस्था वापस लेकर एसबीपीडीसीएल को दिया गया तो चैंबर ने सरकार के इस निर्णय के अनुरूप यथासंभव सहयोग प्रदान किया। विभाग के पदाधिकारियों के साथ बैठक में अपने सुझाव व विचार रखे। गया जिले में विभाग की ओर से लगभग 150 करोड़ की योजनाओं के क्रियान्वयन के आश्वासन का भी स्वागत किया। इन सब के बावजूद लचर बिजली आपूर्ति से आमलोग परेशान हैं। चैंबर ने गया शहर के राष्ट्रीय व अंतर्राष्ट्रीय महत्व को देखते हुए मुख्यमंत्री से इन बिन्दुओं पर गंभीरता से विचार करते हुए विभाग के अधिकारियों को उचित निर्देश देने की मांग की है। पत्र की प्रतिलिपि उर्जा मंत्री, कृषि मंत्री और बिहार राज्य विद्युत बोर्ड पटना के अध्यक्ष को भी भेजा गया है।

X
Gaya News - chamber of commerce members sent letter to cm on the miserable situation of power supply
COMMENT

किस पार्टी को मिलेंगी कितनी सीटें? अंदाज़ा लगाएँ और इनाम जीतें

  • पार्टी
  • 2019
  • 2014
336
60
147
  • Total
  • 0/543
  • 543
कॉन्टेस्ट में पार्टिसिपेट करने के लिए अपनी डिटेल्स भरें

पार्टिसिपेट करने के लिए धन्यवाद

Total count should be

543