• Hindi News
  • Local
  • Bihar
  • Gaya
  • Gaya News Encourage Farmers From The Area Due To The Foundation Stone Of The Northern Kollak Project

उत्तरी कोयल परियोजना का शिलान्यास होने से इलाके के किसानों में उत्साह

4 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
प्रखंड क्षेत्र के किसानों की बहुप्रतीक्षित समस्या उत्तरी कोयल परियोजना नहर को पांच दशक से अधूरा रहने के बाद उतरी कोयल परियोजना नहर के जीर्णोद्धार के लिए पिछले वर्ष लोकसभा में 30 करोड़ रुपए की मंजूरी दिया गया।

उसके डेढ़ वर्ष बाद औरंगाबाद संसदीय क्षेत्र के भाजपा सांसद सुशील कुमार सिंह के प्रयास के बाद देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा झारखंड के डालटेनगंज में उक्त योजना का शनिवार को शिलान्यास किया गया। इससे किसानों के खेतों में एक बार फिर उत्तरी कोयल परियोजना नहर की पानी आने की उम्मीद जगी है।

किसान मजदूर मोर्चा के नेता व सामाजिक कार्यकर्ता निरंजन कुमार दांगी ने बताया कि उत्तरी कोयल परियोजना नहर 1970 में 80 करोड़ रुपए की लागत से निर्माण के लिए पारित हुआ था। 1972 में औरंगाबाद संसदीय क्षेत्र के तत्कालीन सांसद सत्येंद्र नारायण सिन्हा के द्वारा इसका शिलान्यास किया गया था। उसके पांच दशक बाद भी यहां के किसानों के खेतों में पानी नहीं पहुंचा है, लेकिन इधर राजनीतिक के जानकारों का यह भी मानना है कि इस बार प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने स्वयं परियोजना का शिलान्यास किया है। इसलिए इस बार किसानों को सुखाड़ से निजात जरुर मिलेगा।

इधर उत्तरी कोयल नहर का शिलान्यास होने से शिक्षा समिति के अध्यक्ष नंदकिशोर प्रसाद, भाजपा नेता मिथिलेश कुमार पांडेय, समाजसेवी मीना कुमारी, कोलौना पंचायत के मुखिया मो. परवेज आलम, गुनेरी पंचायत के मुखिया व भाजपा के प्रखंड उपाध्यक्ष सरिता देवी समेत कई लोगों ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी एवं औरंगाबाद के सांसद सुशील कुमार सिंह को बधाई दी है।

खबरें और भी हैं...