दुस्साहस / वारंटी को पकड़ने गई टीम पर हमला थानेदार समेत पांच पुलिसकर्मी घायल



घायल पुलिसकर्मी से मामले की जानकारी लेते डीएसपी। घायल पुलिसकर्मी से मामले की जानकारी लेते डीएसपी।
X
घायल पुलिसकर्मी से मामले की जानकारी लेते डीएसपी।घायल पुलिसकर्मी से मामले की जानकारी लेते डीएसपी।

  • सलैया गांव में हुई घटना, वारंटी भी रोड़ेबाजी करने में था शामिल, हेलमेट से थानाध्यक्ष की बची जान
  • उपद्रवियों ने रोड़ेबाजी कर लाठी-डंडे से टीम पर किया हमला, दारोगा भी जख्मी

Dainik Bhaskar

Oct 12, 2019, 11:18 AM IST

गया. गया जिले के इमांमगंज के सलैया थाना के सलैया गांव में कोर्ट के वारंटी को पकड़ने गई पुलिस पर वारंटी एवं उसके परिजनों ने रोड़ेबाजी कर हमला कर दिया। इस दौरान पुलिस की टीम पर लाठी-डंडे भी चलाए। अचानक हुए इस हमले में सलैया थाना के थानाध्यक्ष अजय कुमार सिंह, एसआई सिकन्दर पासवान, सिपाही पंकज कुमार दास, हवलदार देवेन्द्र कुमार एवं जिला पुलिस के नासिर हुसैन घायल हो गए। 

 

पुलिस की टीम पर हमले की जानकारी होने के बाद इमामगंज डीएसपी अजीत कुमार स्थल पर पहुंचे और मामले का जायजा लिया। डीएसपी ने बताया कि सलैया गांव मे पूर्व के एक केस मे कोर्ट द्वारा आठ लोगों पर वारंट जारी किया गया था। उसी वारंटी को पकड़ने गए सलैया थानाध्यक्ष एवं इनके दल पर वारंटियों एवं उसके परिजनों ने रोड़ा एवं लाठी-डंडों से हमला कर दिया। इस घटना में मुख्य रूप से थानाध्यक्ष अजय कुमार सिंह, एसआई सिकन्दर पासवान एवं सिपाही पंकज कुमार घायल हो गए। उन्होंने बताया कि इस मारपीट में एक को गिरफ्तार किया गया है। शेष को पकड़ने के लिए छापेमारी की जा रही है।

 

सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में चल रहा घायल पुलिसकर्मियों का इलाज
थानाध्यक्ष सहित घायल अन्य पुलिसकर्मियों को इलाज के लिए सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र इमामगंज मे भर्ती कराया गया, जहां स्थिति को देखते हुए चिकित्सक डा. राम बालक सिंह ने थानाध्यक्ष अजय कुमार सिंह एवं सिपाही पंकज कुमार दास को प्राथमिक उपचार कर बेहतर इलाज के लिए मगध मेडिकल कॉलेज अस्पताल गया रेफर कर दिया गया।

 

जमीन के विवाद में वर्ष 2018 में हुई थी मारपीट, कोर्ट में चल रहा मामला
मामले के संबंध मे ग्रामीणों ने दो लोगो के बीच जमीनी विवाद बताया है। इस संबंध मे ग्रामीणों ने बताया कि दोनों पक्ष जमीनदार आलेहसन के जमीन पर अपना घर बनाकर बसे हुए थे। आले हसन की मृत्यु हो गई। इनसे केवल एक पुत्री थी उनके पुत्र यानी आले हसन के नाती से एक पक्ष ने दो ढाई एकड़ जमीन अपने नाम करवा लिया और उसी जमीन मे दूसरे पक्ष का भी घर बना हुआ था। हालांकि जो पक्ष जमीन को लिखवाया है, उसका कहना है कि हमारे लिखवाने के बाद दूसरा पक्ष जमीन पर कब्जा किया है। यही विवाद का कारण बन गया। इसी जमीनी विवाद के कारण पिछले वर्ष 29 अगस्त 2018 को दोनों पक्ष मे मारपीट भी हुआ था, जिसका मामला कोर्ट मे चल रहा और इसी मामले को लेकर आठ लोगो पर वारंट जारी किया गया था।

 

दस लोगों के खिलाफ की गई नामजद प्राथमिकी: थानाध्यक्ष
हमला करने में शामिल तत्व आठ से दस की संख्या में थे। इस मामले को लेकर दस के खिलाफ नामजद प्राथमिकी दर्ज की गई है, वहीं पांच अज्ञात के खिलाफ भी मामला दर्ज हुआ है। इधर प्रत्यक्षदर्शियों ने अपना नाम नहीं बताया, किन्तु इनका कहना था कि थानाध्यक्ष मौके पर हेलमेट पहने हुए थे, जिसके कारण भयावह स्थिति आने से बची।
-अजय कुमार सिंह, सलैया थानाध्यक्ष

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना