गोलीबारी की घटना को लेकर फोरेंसिक टीम पहुंची गया, जुटाए साक्ष्य, चार लोग हुए थे जख्मी

Gaya News - कोतवाली थाना के तुतबाड़ी मोड़ में बीते गुरुवार की रात दो पक्षों के बीच विवाद के बाद हुई फायरिंग में वार्ड 13 के पार्षद...

Oct 13, 2019, 06:11 AM IST
कोतवाली थाना के तुतबाड़ी मोड़ में बीते गुरुवार की रात दो पक्षों के बीच विवाद के बाद हुई फायरिंग में वार्ड 13 के पार्षद राहुल कुमार के परिवार के चार सदस्य घायल हो गए थे। इस घटना की उच्चस्तरीय जांच शुरू कर दी गई है। इसी क्रम में शनिवार को एफएसएल की टीम पटना से गया को पहुंची। एफएसएल की टीम ने पार्षद के मकान में घायलों के रहे खून के धब्बे से नमूने लिए, और भी कई साक्ष्य जुटाए गए हैं। पार्षद के पहले तल्ले पर हुई घटना को लेकर फोरेंसिक की टीम ने स्थल के पास मकान के ऊंचाई, चौड़ाई आदि की मापी की। वहीं सड़क की भी मापी ली गई। घटना के तीसरे दिन भी तुतबाड़ी मोड़ और इसके आसपास के इलाकों में सुरक्षा के पुख्ता प्रबंध दिखे। कई स्थानों पर पुलिस की टीम की तैनाती रही। इधर, जानकारी के अनुसार फायरिंग में प्रयुक्त होने की आशंका के मद्देनजर कुछ लाइसेंसी हथियारों की एफएसएल जांच की भी कार्रवाई पुलिस कर रही है। हालांकि इसकी अधिकारिक पुष्टि नहीं हो सकी है।

तुतबाड़ी की घटना को लेकर एसएसपी राजीव मिश्रा ने प्रेस विज्ञप्ति जारी किया है। कहा गया है कि 10 अक्टूबर की रात को कोतवाली थाना अंतर्गत तुतबाड़ी मोड़ के पास दो पक्ष के बीच मारपीट की घटना हुई थी। इस मामले में सतीश शर्मा के बयान पर कोतवाली थाना में एफआईआर दर्ज की गई है। अनुसंधान के क्रम में घटनास्थल से 8 खोखा, गोली का एक पिलेट बरामद की ग। वहीं आरोपित प्रिंस की गिरफ्तारी कर जेल भेज दिया गया। प्रिंस से पूछताछ एवं सीसीटीवी फुटेज से घटना के कारणों का खुलासा हुआ है एसएसपी ने बताया कि अनिल रवानी के खिलाफ कोतवाली थाना में दस कांड दर्ज हैं, जिसमें हत्या के भी मामले हैं।

X

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना