बड़ी चूक / महाबोधि मंदिर परिसर में लड़की ने छोड़ा बैग, बम होने की आशंका से अफरा-तफरी



Girl left behind in Mahabodhi temple complex
Girl left behind in Mahabodhi temple complex
Girl left behind in Mahabodhi temple complex
X
Girl left behind in Mahabodhi temple complex
Girl left behind in Mahabodhi temple complex
Girl left behind in Mahabodhi temple complex

  • एटीएस की जांच में शृंगार के सामान मिले, सीसीटीवी में लड़की के पास एक और बैग दिखा 
  • बोधगया में सुरक्षाकर्मियों की चुस्ती की पोल खुली, बुद्ध पूर्णिमा के दौरान हो रहे आयोजन में जुटे हैं पर्यटक

Dainik Bhaskar

May 17, 2019, 11:22 AM IST

बोधगया. गुरुवार से शुरू बुद्ध पूर्णिमा के पहले दिन ही बोधगया में सुरक्षाकर्मियों की चुस्ती की पोल खुल गई। महाबोधि मंदिर के बाहरी परिसर में कूड़ेदान के पास संदिग्ध बैग मिलने से बम की आशंका से अफरा-तफरी मच गई। लावारिस बैग की सूचना के बाद पुलिस अधिकारी हरकत में आ गए। बैग की जांच में शृंगार के सामान मिलने से पुलिस ने राहत की सांस ली। सीसीटीवी फुटेज खंगाले गए, तो लावारिस बैग छोड़ने वाली 23 वर्षीया युवती एक और बैग पीठ में टांग कर जाते दिखी। शुरुआती सीसीटीवी फुटेज में उसके पास एक बैग था। पुलिस को आशंका है कि दूसरा बैग उसके पास कहां से आया और उसमें क्या है। क्या इस बैग को बोधगया महाबोधि मंदिर परिसर के आसपास तो नहीं छोड़ा गया है। आला-अधिकारी बोधगया में जमे हैं।

 

युवती ने चेहरे को ढक रखा था
युवती ने चेहरे को ढक रखा है। ऐसे में आशंकाएं व्यक्त की जा रही हैं और इसके मद्देनजर महाबोधि मंदिर और इसके बाहरी परिसर की सुरक्षा को पुख्ता करते हुए जांच को तेज कर दिया गया है। संदिग्ध युवती की तलाश तेज कर दी गई है। बैग रखने के आधा घंटे के बाद पुलिस को इसकी जानकारी हुई तो बोधगया थानाध्यक्ष शिव कुमार महतो, मंदिर सुरक्षा प्रभारी सुनील कुमार गोपनीय तरीके से मामले की छानबीन करने पहुंचे। बैग को लेकर महाबोधि मंदिर के कंट्रोल रूम में चले गए। बोधगया डीएसपी सिंधु शेखर ने महाबोधि मंदिर में लगे सीसीटीवी कैमरे की फुटेज की जांच कराई तो पता चला कि संदिग्ध लड़की लाल पत्थर में बने शौचालय में करीब आधे घंटे तक रुकी थी। शौचालय से निकलने के बाद बैग को कूड़े में फेंक कर चली गई। डीएसपी ने बारीकी से जांच करवाई। 

 

आयुक्त के निर्देश को हल्के में लिया, सामने आई बड़ी चूक
एक दिन पहले ही संदिग्धों पर नजर और लावारिस वस्तुओं पर नजर रखने का निर्देश बैठक कर मगध प्रमंडलीय आयुक्त ने दिया था। निर्देश के बावजूद महाबोधि मंदिर के बाहरी परिसर के लाल पत्थर पर तैनात सुरक्षाकर्मियों वाले स्थान पर एक युवती द्वारा पीठ में टांगने वाले बैग को कूड़ेदान में आराम से फेंककर चला जाना जवानों की चुस्ती पर सवालिया निशान खड़ा करता है।

 

एटीएस ने की जांच, युवती की होगी तलाश
सूचना पर एसएसपी राजीव मिश्रा, सिटी एसपी सुशील कुमार मौके पर पहुंचे। एटीएस की मदद से जांच करवाई गई, तो लावारिस बैग में शृंगार के सामान मिले। पुलिस सूत्रों के मुताबिक एसएसपी ने मंदिर के रिसेप्शन में अधिकारियों के साथ काफी देर तक मामले की जानकारी ली। संदिग्ध युवती की तलाश को लेकर रणनीति बनाए जाने की बात भी सामने आई है।

 

युवती के पास एक और बैग का आ जाना जांच एजेंसियों के लिए चिंता की बात
सीसीटीवी फुटेज जांच के दौरान माल गोदाम के गेट से मंदिर के बाहरी परिसर लाल पत्थर में प्रवेश के समय लड़की के हाथ में थैले व पीठ पर एक बैग रखा हुआ दिख रहा था। सीसीटीवी जांच के बाद पुलिस इस बात को लेकर हैरान है कि आखिर लड़की की पीठ पर दिख रहा दूसरा बैग कहां से आया, जबकि शौचालय से निकल कर लड़की ने एक पीठ वाला बैग कूड़ेदान में फेंक दिया था। महाबोधि मंदिर के सुरक्षा के लिए लगे सीसीटीवी के फुटेज में युवती बीटीएमसी द्वारा लाल पत्थर में बनाए गए शौचालय में जाने के पहले लाल रंग की पैंट पहनी थी। आधे घंटे बाद जब लड़की बाहर निकलती है, तो उसका पैंट नीले रंग का था। 

 

सीसीटीवी कैमरे के आधार पर जानकारी के मुताबिक एक 23 वर्षीया लड़की बीटीएमसी गोलंबर की ओर से लाल पत्थर से होते हुए सुबह में 10:20 में माल गोदाम के गेट से निकली। वापस मार्केट गेट से 11:03 बजे अंदर आई और एक राहगीर से शौचालय की जानकारी लेकर 11:05 में शौचालय के अंदर गई। शौचालय से 11:34 में निकल कर बैग को पास में रहे कूड़ेदान में फेंका और 11:36 बजे बीटीएमसी गोलंबर से वापस चली गई। युवती के पास एक और बैग का आ जाना पुलिस व जांच एजेंसियों के लिए जांच व चिंता का विषय बन गया है। लड़की ने किन परिस्थियों में एक बैग को फेंका और कपड़े बदले, इन सभी बिंदुओं पर जांच हो रही है।

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना