शौर्य गाथाओं से भरा है सीआरपीएफ का इतिहास, नक्सलवाद पर काफी हद तक कसी गई नकेल

Gaya News - सीआरपीएफ 159 बटालियन के गया स्थित मुख्यालय में पुलिस स्मृति दिवस मनाया गया। इस दौरान केन्द्रीय सशस्त्र पुलिस बल...

Oct 22, 2019, 07:21 AM IST
सीआरपीएफ 159 बटालियन के गया स्थित मुख्यालय में पुलिस स्मृति दिवस मनाया गया। इस दौरान केन्द्रीय सशस्त्र पुलिस बल एवं राज्य पुलिस बल के शहीदों को बटालियन के क्वार्टर गार्ड स्थल पर सभी शहीदों को श्रद्धांजलि दी गई। देश की सेवा में अपने प्राणों का बलिदान देने वाले कुल 292 बहादुर जवान, केरिपु बल के 67 और 159 बटालियन के 11 बहादुर जवानों को कमांडेंट निशीत कुमार द्वारा श्रद्धांजलि अर्पित की गई। इस अवसर पर द्वितीय कमान अधिकारी सोहन सिंह, उप कमांडेंट मोतीलाल, मेडिकल अधिकारी रोहिणी कुमारी एवं अन्य सैनिक उपस्थित थे। इस अवसर पर सीआरपीएफ अधिकारियों ने कहा कि केन्द्रीय रिजर्व पुलिस बल की स्थापना के दिन से ही इनका इतिहास वीरता से भरे शौर्य-गाथाओं से भरा हुआ है। राज्यों के नक्सल विरोधी ऑपरेशनों और आंतरिक कानून व्यवस्था बनाए रखने का उद्देश्य मात्र ही नहीं रहा है, बल्कि आतंकवाद और विद्रोहियों के मुकाबले के लिए मूल कार्यक्षेत्र और नक्सलवाद को जड़ से उखाड़ने के मकसद के साथ तैनाती की जाती है। बताया कि वर्तमान में नक्सलवाद पर काफी हद तक अंकुश लगाया जा चुका है।

शहीदों जवानों को श्रद्धांजलि देते सीआरपीएफ के अधिकारी व जवान।

X

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना