पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

युवा जदयू अध्यक्ष के 3 ठिकानों पर आयकर विभाग की छापेमारी

3 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
ठेकेदार व गया जिले के युवा जदयू के अध्यक्ष कमलेश शर्मा के तीन ठिकानों पर गुरुवार को आयकर विभाग टीम ने छापेमारी की। गया के अनुग्रहपुरी व पंजाबी कॉलोनी स्थित घर पर सुबह से शुरू हुई जांच देर रात तक जांच जारी थी। इस दौरान आयकर अफसरों ने कमलेश शर्मा से पूछताछ भी की। प्रॉपर्टी डीलर व ठेकेदार का काम करने वाले कमलेश शर्मा की एक कंपनी ‘भारद्वाज कंस्ट्रक्शन प्राइवेट लिमिटेड’ भी है। तलाशी के दौरान विभिन्न ठिकानों से व्यावसायिक लेन-देन से जुड़े कागजात, रिकॉर्ड आदि को जांच टीम ने अपने कब्जे में ले लिया है। आरंभिक जांच में पता चला है कि टैक्स से बचने के लिए आमदनी की असलियत छिपाई जाती थी। आयकर रिटर्न में वास्तविक कमाई से काफी कम करके दिखाया जाता था। आयकर अफसरों के मुताबिक जांच पूरी होने के बाद ही टैक्स चोरी, संपत्ति या अन्य पहलुओं पर स्थिति स्पष्ट होगी। आपको बता दें कि सुबह में कमलेश शर्मा घर से मॉर्निंग वाक के लिए निकले थे। तभी आयकर टीम ने वहां दस्तक दे दी। कमलेश के लौटते ही तलाशी शुरु हो गई। जिस गाड़ी से वे लौटे थे, उसमें रखे कई कागजातों को भी अफसरों ने जब्त कर लिया। अनुग्रहपुरी कॉलोनी में आशा सिंह मोड़ के पास स्थित घर, पंजाबी कॉलोनी स्थित मकान से लेकर ऑफिस तक सर्च ऑपरेशन जारी था। पटना तक की चल-अचल संपत्तियों के बारे में भी आयकर टीम को अहम सुराग मिले हैं।

सुबह से लेकर देर रात तक घर व अन्य जगहों पर जांच जारी रही
छापेमारी के दौरान आवास पर तैनात पुलिसकर्मी।

कांग्रेस नेत्री सह पार्षद लाछो देवी के आवास पर पुलिस का छापा, खाली हाथ लौटी टीम, पूर्व में भी नशीले पदार्थ को लेकर पड़ी है रेड
क्राइम रिपोर्टर| गया

शहर के डेल्हा थाना अंतर्गत मंदराज बिगहा स्थित वार्ड 3 की पार्षद लाछो देवी के आवास पर गुरुवार को पुलिस की छापेमारी हुई। डेल्हा पुलिस ने काफी देर तक घर के विभिन्न हिस्सों पर तलाशी ली। हालांकि, पुलिस के खाली हाथ लौटने की खबर है। पुलिस सूत्रों के मुताबिक नशीले पदार्थ की बिक्री के शक में पार्षद के आवास पर छापेमारी की गई। छापेमारी की खबर किसी ने लीक कर दी। लाछो देवी कांग्रेस की नेत्री हैं, और वर्तमान में पार्टी में महिला सेल की जिलाध्यक्ष पद पर हैं। विदित हो कि इसी साल कुछ माह पूर्व पुलिस के वरीय अधिकारियों के नेतृत्व में लाछो देवी के आवास पर छापेमारी हुई थी। उस दौरान भी नशीले पदार्थ के होने की संदेह में रेड मारा गया था। इस दौरान संदिग्ध नशीले पदार्थ का पाउडर बरामद किया गया था। साथ ही लाछो देवी को भी पुलिस ने हिरासत में लिया था।

12 घंटे बाद ब्लीचिंग पाउडर बताकर छोड़ा : निवर्तमान एसएसपी गरिमा मल्लिक ने खुद मामले की जांच की थी। डीआई से पुलिस ने जांच कराई थी, जिसमें यह सामने आया था, कि उक्त पाउडर ब्लीचिंग पाउडर है। बारह घंटे से अधिक समय में ब्लीचिंग पाउडर के रूप में कथित तौर पर पहचान के बाद पार्षद लाछो देवी को उस मामले में पुलिस ने मुक्त कर दिया था। इस साल दूसरी बार हुई छापेमारी के बाद पार्षद सह कांग्रेस नेत्री लाछो देवी ने कहा है कि यह तंग करने की साजिश है, जो राजनीति से प्रेरित है।

छापेमारी के समय घर के मेन गेट को कर दिया गया था लॉक।

कुछ सूचना थी, इसलिए हुई छापेमारी
पुलिस को कुछ अवैध धंधे की सूचना मिली थी, जिसके बाद लाछो देवी के आवास पर छापेमारी की गई है। हालांकि, छापेमारी के दौरान किसी प्रकार की कोई अवैध सामग्री पुलिस के हाथ नहीं लग सकी है। मधुसूदन कुमार, थानाध्यक्ष डेल्हा।

खबरें और भी हैं...