--Advertisement--

मिशन 2019 / बोधगया में भाजपा कार्यसमिति की बैठक, 2 दिनों तक होगा मंथन



बोधगया में 2 दिनों तक भाजपा कार्यसमिति की बैठक होगी बोधगया में 2 दिनों तक भाजपा कार्यसमिति की बैठक होगी
X
बोधगया में 2 दिनों तक भाजपा कार्यसमिति की बैठक होगीबोधगया में 2 दिनों तक भाजपा कार्यसमिति की बैठक होगी

  • बैठक में 2019 में होने वाले लोकसभा चुनाव की रूपरेखा तैयार की जाएगी
  • सहयोगी दलों के साथ बेहतर समन्वय पर भी गंभीरता से विचार-विमर्श होगा

Dainik Bhaskar

Sep 11, 2018, 10:22 AM IST

गया. बोधगया में भाजपा कार्यसमिति की बैठक का आज(मंगलवार) पहला दिन है। बैठक में भाजपा बिहार में अपनी जमीनी ताकत व भविष्य की रणनीति को लेकर दो दिनों तक मंथन करेगी।

 

इसमें संगठन की वास्तविक स्थिति के साथ-साथ संगठन विस्तार पर व्यापक चर्चा होगी। पार्टी भविष्य को लेकर रणनीति भी बनाएगी। इसके अलावा सहयोगी दलों के साथ बेहतर समन्वय पर भी गंभीरता से विचार-विमर्श होगा।

 

बैठक में बनेगी चुनावी रणनीति
प्रदेश कार्यसमिति की बैठक में भाजपा नेता आने वाले लोकसभा और विधानसभा चुनाव को लेकर मंथन करेंगे। ज्यादा से ज्यादा लोगों को भाजपा से जोड़ने के लिए टिप्स दिए जाएंगे। भाजपा के मिशन 2019 को लेकर प्रधानमंत्री के साढ़े चार साल के कल्याणकारी नीतियों को गांव-गांव में प्रचार करने पर चर्चा होगी।

 

इसके साथ ही प्रदेश के राजनीतिक हालात को लेकर कार्यकर्ताओं से फीडबैक ली जाएगी। पार्टी के बड़े नेताओं को टास्क भी मिलेगा। बैठक में प्रदेश अध्यक्ष नित्यानंद राय, उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी, पथ निर्माण मंत्री नंदकिशोर यादव के अलावा सारे मंत्री, सांसद, विधायक, विधान पार्षद व प्रदेश पदाधिकारी शामिल होंगे।

 

गठबंधन के सहयोगी दलों के साथ समन्वय पर होगी चर्चा
भाजपा प्रदेश कार्यसमिति की बैठक में पार्टी संगठन के साथ-साथ भविष्य की रणनीति पर पसीना बहाएगी। इसमें पार्टी के तमाम बड़े नेता शामिल होंगे। लोकसभा चुनाव के निकट आने के बाद पार्टी के लिए नई कार्ययोजना पर काम करना आवश्यक हो गया है।

 

पार्टी सभी 40 लोकसभा क्षेत्रों में अपनी जमीनी ताकत बढ़ाएगी। बिहार में एनडीए गठबंधन के घटक दल जदयू, रालोसपा व लोजपा के साथ समन्वय पर पार्टी का ध्यान अधिक फोकस होगा। पिछले लोकसभा चुनाव से इस बार का चुनाव थोड़ा भिन्न है। जदयू पिछले लोकसभा चुनाव में एनडीए गठबंधन के विरोध में खड़ी थी, इस बार साथ है। ऐसे में सीटों को लेकर पार्टी को जमकर माथापच्ची करनी है।

Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..