ई-रिक्शा पर नहीं है किसी का नियंत्रण चरमराया ट्रैफिक, हर दिन लगता है जाम

Gaya News - ई-रिक्शा पर किसी का नियंत्रण नहीं है, नतीजा ट्रैफिक व्यवस्था का अस्त-व्यस्त होना है। महाबोधि मंदिर क्षेत्र को अति...

Nov 11, 2019, 07:26 AM IST
ई-रिक्शा पर किसी का नियंत्रण नहीं है, नतीजा ट्रैफिक व्यवस्था का अस्त-व्यस्त होना है। महाबोधि मंदिर क्षेत्र को अति संवेदनशील मानते हुए 20 फरवरी 2018 को नया ट्रैफिक प्लान लागू किया गया व नोड एक से महाबोधि मंदिर तक केवल ई-रिक्शा परिचालन को अनुमति प्रदान की गई। शुरू में कुछ ई-रिक्शा को अनुमति थी व बारी-बारी नंबर से प्रवेश की अनुमति थी। अब सबकुछ खत्म कर, उन्हें मनमानी की छूट दे दी गई है। आज ई-रिक्शा की मनमानी से वह भी ध्वस्त होता दिख रहा है। उनकी मनमानी के आगे ट्रैफिक पुलिस भी बेबस दिखते हैं। महाबोधि मंदिर के निकट से जयप्रकाश उद्यान तक इनके बेरोकटोक मनमानी से हमेशा आड़े-तिरछे ई-रिक्शा लगे रहते हैं। इससे पैदल चलने वालों को भी परेशानी होती है। खासकर विदेशी पर्यटकों व पूजा के दौरान विदेशी श्रद्धालुओं को काफी परेशानी होती है। वहीं पर ट्रैफिक चेकपोस्ट रहने के बावजूद असर नहीं पड़ता।

गया में भी जाम का बना कारण

गया शहर के कई इलाके में सड़क जाम का कारण ई-रिक्शा बन गया है। शहर के चौक से भागीरथ मार्ग होकर गोलपत्थर जाने वाली सड़क अक्सर ई-रिक्शा के कारण जाम रहता है। गया चौक पर चारों तरफ सिर्फ ऑटो और ई-रिक्शा नजर आता है। नाली का चैंबर बनने के चलते पिछले एक माह से प्रेम टॉकिज रोड बंद है और पास का लहरिया टोला ई-रिक्शा के चलते जाम रहता है। जिसके चलते आम लोगों को काफी परेशानी हो रही है। प्रशासन को इस पर ध्यान देने की जरूरत है।

ट्रैफिक चेकपोस्ट बस नाम का, गया चौक पर भी रोज लगता है भीषण जाम

महाबोधि सोसायटी के निकट सड़क पर बेतरतीब लगा ई-रिक्शा।

डीएम के निर्देश का क्रियान्वयन नहीं

सात नवंबर को डीएम अभिषेक सिंह के साथ हुई बैठक में होटल एसोसिएशन के सदस्यों ने बताया था कि बोधगया में ई-रिक्शा का पड़ाव रोड पर कहीं भी मनमानी रूप से किया जाता है, जिससे जाम की समस्या उत्पन्न होती है। डीएम ने एसडीओ सदर को बोधगया में ई-रिक्शा पड़ाव स्टैंड के लिए उचित जगह खोजने का निर्देश दिया। उन्होंने एसडीओ को निर्देश दिया कि ई-रिक्शा एसोसिएशन के साथ बैठक कर तिथि निर्धारित करें एवं निर्धारण तिथि के बाद रोड पर ई-रिक्शा पड़ाव नहीं किया जाएगा एवं यात्रियों को ई-रिक्शा में बैठाने के लिए उचित जगह पर ई-रिक्शा रोका जाएगा जहां से यात्री ई-रिक्शा पर सवार होंगे। एसडीओ को निर्देश दिया कि सभी ई-रिक्शा पर रेट चार्ट लगवाएं।

ट्रैफिक व्यवस्था को लेकर सुझाव दें लोग

इधर,बोधगया के ट्रैफिक थानाध्यक्ष रनंजय कुमार ने बताया कि डीएम के निर्देश का पालन हो रहा है। ई-रिक्शा के जहां-तहां रुकने से जाम की स्थिति हो रही है। पुलिस की संख्या बढ़ा दी गई है व मंदिर के निकट रुकने नहीं देने का प्रयास हो रहा है। एक बैठक बुलाई गई है, जिसमें इसे व्यवस्थित करने पर चर्चा होगी। 500 ई-रिक्शा है, उनके बीच बारी-बारी से चलने की व्यवस्था करने पर विचार हो रहा है। लोग सुझाव दें, ट्रैफिक व्यवस्था के सुचारू संचालन को।

X

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना